News Nation Logo
Quick Heal चुनाव 2022

Alert: UPI से करते हैं पेमेंट तो हो जाएं सावधान, कंगाल होने में नहीं लगेगी देर

इंडिया अब डिजिटल इंडिया (Digital India) की ओर पूरी तरह से अग्रसर है. पिछले कुछ सालों की ही बात करें तो ऑनलाइन लेन-देन में कई गुना इजाफा है. लेकिन क्या आपको पता है जरा सी चूक आपको कितना बड़ा नुकसान पहुंचा सकती है.

News Nation Bureau | Edited By : Sunder Singh | Updated on: 18 Dec 2021, 04:39:58 PM
upi 1

सांकेतिक तस्वीर (Photo Credit: News Nation)

highlights

  • यूपीआई पेमेंट के फायदे के साथ हैं अनेकों नुकसान 
  • इन गलतियों को दोहराना पड़ सकता है महंगा 
  • सतर्क रहकर ही करें UPI के माध्यम से पैमेंट

नई दिल्ली :

डिया अब डिजिटल इंडिया (Digital India) की ओर पूरी तरह से अग्रसर है. पिछले कुछ सालों की ही बात करें तो ऑनलाइन लेन-देन में कई गुना इजाफा है. लेकिन क्या आपको पता है जरा सी चूक आपको कितना बड़ा नुकसान पहुंचा सकती है. यूपीआई पेमेंट के जितने फायदें हैं तो उसके नुकसान भी हैं. मगर आपको डरने की जरूरत नहीं, बल्कि अलर्ट रहने की जरूरत है. क्योंकि आपकी छोटी सी गलती मेहनत की कमाई पर डाका डाल सकती है. इसलिए UPI पैमेंट करते टाइम इन गलतियों को बिल्कुल न दोहराएं. इन टिप्स को फॅालो करके आप धोखाधड़ी से बच सकते हैं.

यह भी पढ़ें : अब इन सरकारी कर्मचारियों की होगी चांदी, नव वर्ष पर मिलेगा ये तोहफा

UPI एड्रेस शेयर न करें
आपको कभी भी अपना यूपीआई आईडी/एड्रेस किसी के साथ शेयर नहीं करना चाहिए. साथ ही आपका यूपीआई एड्रेस आपके फोन नंबर, क्यूआर कोड या वर्चुअल पेमेंट एड्रेस (वीपीए) के बीच कुछ भी हो सकता है. आपको किसी भी भुगतान या बैंक एप्लिकेशन के माध्यम से किसी को भी अपने यूपीआई अकाउंट तक पहुंचने की अनुमति नहीं देनी चाहिए.

स्क्रीन लॉक सेट करें
सभी भुगतान या वित्तीय लेनदेन ऐप के लिए एक मजबूत स्क्रीन लॉक सेट करना होगा. यदि आप Google Pay, PhonePe, Paytm, या किसी अन्य प्लेटफॉर्म का उपयोग करते हैं, तो एक मजबूत पिन सेट करना महत्वपूर्ण है, जो आपकी जन्म तिथि या वर्ष, मोबाइल नंबर के अंक या कोई अन्य नहीं होना चाहिए। आपको अपना पिन किसी के साथ शेयर नहीं करना चाहिए और यदि आपको संदेह है कि आपका पिन उजागर हो गया है, तो इसे तुरंत बदल दें.

फेक कॉल भी अटैंड न करें
आजकल फेक कॅाल की बाड़ सी आ गई है. आपको इन्हे इग्नोर करना है. साथ ही भूलकर भी किसी को अपने यूपीआई खाते से जुड़ी जानकारी शेयर नहीं करनी है. हैकर्स आमतौर पर लिंक शेयर करते हैं या कॉल करते हैं और उपयोगकर्ताओं को वेरिफिकेशन के लिए एक थर्ड-पार्टी ऐप डाउनलोड करने के लिए कहते हैं. आपको कभी भी ऐसे लिंक पर क्लिक नहीं करना चाहिए और न ही पिन या किसी अन्य जानकारी को किसी के साथ शेयर करना चाहिए. बैंक कभी भी पिन, ओटीपी या कोई अन्य पर्सनल डिटेल नहीं मांगते हैं.

First Published : 18 Dec 2021, 04:37:09 PM

For all the Latest Utilities News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो