News Nation Logo

AC होते हुए भी आप 24 डिग्री से कम टेंप्रेचर का लाभ नहीं उठा पाएंगे

ऊर्जा मंत्रालय द्वारा जारी नए नोटिफिकेशन के मुताबिक इस साल जो भी एसी बनेंगे वह नई सेटिंग के साथ ही बनेंगे. सभी ब्रांड के स्टार रेटिंग वाले AC के लिए ऊर्जा मंत्रालय की ओर से नोटिफिकेशन जारी किए गए हैं.

News Nation Bureau | Edited By : Dhirendra Kumar | Updated on: 07 Jan 2020, 10:35:36 AM
AC होते हुए भी आप 24 डिग्री से कम टेंप्रेचर का लाभ नहीं उठा पाएंगे

AC होते हुए भी आप 24 डिग्री से कम टेंप्रेचर का लाभ नहीं उठा पाएंगे (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

आने वाली गर्मी में आपके द्वारा खरीदे गए नए एयरकंडीशनर (AC) का तापमान 24 डिग्री सेल्सियस पर शुरू होगा. ऊर्जा मंत्रालय द्वारा जारी नए नोटिफिकेशन के मुताबिक इस साल जो भी एसी बनेंगे वह नई सेटिंग के साथ ही बनेंगे. सभी ब्रांड के स्टार रेटिंग वाले AC के लिए ऊर्जा मंत्रालय की ओर से नोटिफिकेशन जारी किए गए हैं. नए नियम 1 जनवरी 2020 से लागू हो चुके हैं. बिजली बचत के नियम तय करने वाली एजेंसी ऊर्जा दक्षता ब्यूरो (Bureau of Energy Efficiency-BEE) ने केंद्र की नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) सरकार के साथ मिलकर रूम AC के लिए नए एनर्जी परफॉर्मेंस स्टैंडर्ड तय किया है.

यह भी पढ़ें: Budget 2020: अर्थव्यवस्था में सुधार के लिए PM नरेंद्र मोदी करेंगे विशेषज्ञों के साथ अहम बैठक

1 से 5 स्टार वाले विंडो के साथ स्प्लिट AC शामिल
नोटिफिकेशन के अनुसार सभी ब्रांड्स और सभी प्रकार के स्टार रेटिंग वाले रूम एसी में 24 डिग्री सेल्सियस तापमान डिफॉल्ट सेटिंग के तौर पर रहेगा. नए नियम के दायरे में 1 से 5 स्टार वाले विंडो के साथ स्प्लिट AC शामिल हैं. गौरतलब है कि बीईई ने 2006 में AC के लिए स्टार लेबलिंग कार्यक्रम शुरू किया था. इस कार्यक्रम को 12 जनवरी 2009 को लागू किया गया था. 2015 में AC के इनवर्टर के लिए स्टार लेबल शुरू किए गए. जनवरी 2018 में इसे लागू किया गया.

यह भी पढ़ें: Gold Rate Today 7 Jan: आज MCX पर सोने-चांदी में क्या बनाएं रणनीति, जानें बेहतरीन ट्रेडिंग टिप्स

बता दें कि स्टार लेबलिंग शुरू होने की वजह से 2017-18 में 4.6 अरब यूनिट ऊर्जा की बचत हुई थी. इसके अलावा इस पहल से 3.8 करोड़ टन कार्बन उत्सर्जन को कम करने में मदद भी मिली. इंटरनेशनल एनर्जी एजेंसी की रिपोर्ट के अनुसार 2050 तक दुनियाभर में AC की सबसे ज्यादा मांग भारत में रहने की संभावना है. रिपार्ट की मानें तो भारत में एयरकंडीशनर की खरीदारी में 4206 फीसदी की बढ़ोतरी होने का अनुमान है. जानकारों का कहना है कि एयरकंडीशनर को 24-25 डिग्री सेल्सियस के तापमान पर चलाने पर बिजली की काफी बचत होती है.

First Published : 07 Jan 2020, 10:35:36 AM

For all the Latest Utilities News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो