News Nation Logo
Banner

बिना ड्राइवर के दिल्ली मेट्रो दौड़ने को तैयार, जानिए सपना कैसे हुआ सच

डीएमआरसी ने 25 दिसंबर 2002 को शाहदरा और तीस हजारी के बीच अपना पहला कॉरिडोर खोला था. शुक्रवार को दिल्ली मेट्रो के 18 साल की सेवा पूरी हो जाएगी. इस समय दिल्ली मेट्रो नेटवर्क 285 स्टेशनों के साथ लगभग 389 किलोमीटर तक फैला है. मेट्रों का नेटवर्क अब दिल्ली

News Nation Bureau | Edited By : Ravindra Singh | Updated on: 27 Dec 2020, 09:05:32 PM
Delhi Metro

दिल्ली मेट्रो (Photo Credit: न्यूज नेशन)

नई दिल्ली:

28 दिसंबर यानि की सोमवार को दिल्ली में देश की पहली ड्राइवरलेस मेट्रो ट्रैक पर दौड़ेगी, यह ट्रेन पूरी तरह से स्वचालित होगी. इस मेट्रो ट्रेन को देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  को देश की पहली पूर्ण स्वचालित (चालक रहित) मेट्रो ट्रेन को हरी झंडी दिखाकर इसकी शुरुआत करेंगे.  यह मेट्रो ट्रेन 37 किलोमीटर लंबी मैजेंटा लाइन पर जनकपुरी वेस्ट से बॉटनिकल गार्डन के बीच चलेगी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इसके साथ ही 28 दिसंबर को 23 किलोमीटर लंबी एयरपोर्ट एक्सप्रेस लाइन (नई दिल्ली से द्वारका सेक्टर 21) की यात्रा के लिए पूरी तरह से परिचालन नेशनल कॉमन मोबिलिटी कार्ड (एनसीएमसी) भी लॉन्च करेंगे.

आपको बता दें कि डीएमआरसी ने 25 दिसंबर 2002 को शाहदरा और तीस हजारी के बीच अपना पहला कॉरिडोर खोला था. शुक्रवार को दिल्ली मेट्रो के 18 साल की सेवा पूरी हो जाएगी. इस समय दिल्ली मेट्रो नेटवर्क 285 स्टेशनों के साथ लगभग 389 किलोमीटर तक फैला है. मेट्रों का नेटवर्क अब दिल्ली की सीमाओं को पार करते हुए उत्तर प्रदेश में नोएडा और गाजियाबाद, हरियाणा में गुरुग्राम, फरीदाबाद, बहादुरगढ़ और बल्लभगढ़ तक पहुंच चुका है और इसमें विभिन्न दिशाओं में आगे के विस्तार पर भी काम चल रहा है.

6 कोच की होगी देश की पहली स्वचालित मेट्रो 
देश की पहली स्वचालित मेट्रो ट्रेन को एक बड़ी तकनीकी उपलब्धि बताया गया है. आपको बता दें कि पिछले तीन सालों से दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (DMRC) इस स्वचालित (ड्राइवरलेस) मेट्रो ट्रेन का ट्रायल कर रहा था. दिल्ली मेट्रो ने सबसे पहली बार स्वचालित मेट्रो का ट्रायल सितंबर 2017 को में शुरू किया था. यह मेट्रो भी आम मेट्रो ट्रेन की तरह 6 कोच वाली होगी. हालांकि इसमें कई एडवांस तकनीक का इस्तेमाल किया गया है. ड्राइवरलेस ट्रेन की रफ्तार अधिकतम 95 किलोमीटर प्रति घंटा होगी, वहीं 85 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार के साथ यह अपना सफर शुरू करेगी.

एक बार में 2,280 यात्री सफर कर सकेंगे
देश की पहली ड्राइवरलेस मेट्रो ट्रेन में एक बार में 2,280 यात्री सफर कर सकेंगे. आपको बता दें कि देश की पहली स्वचालित मेट्रो के हर कोच में 380 यात्रियों के सफर करने की जगह दी गई है. इसके अलावा पीएम नरेंद्र मोदी दिल्ली मेट्रो की एयरपोर्ट एक्सप्रेस लाइन पर यात्रा के लिए नेशनल कॉमन मोबिलिटी कार्ड (एनसीएमसी) भी 28 दिसंबर को ही जारी करेंगे. 

First Published : 27 Dec 2020, 09:05:32 PM

For all the Latest Utilities News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.