News Nation Logo

Budget 2020: बजट से निकली इन छोटी योजनाओं से हो सकता है बड़ा लाभ

सरकार ने जैविक खेती के लिए एक पोर्टल बनाने की बात कही है. जिसके मदद से किसान जैविक उत्पादों को कहीं भी बेच सकते है.

News Nation Bureau | Edited By : Vineeta Mandal | Updated on: 02 Feb 2020, 12:34:29 PM
Budget 2020

Budget 2020 (Photo Credit: (फाइल फोटो))

नई दिल्ली:

देश की वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने लोकसभा में शनिवार को आम बजट पेश किया. उत्तर प्रदेश के अथशास्त्रियों ने अपनी प्रतिक्रिया देते हुए इसे कृषि सुधार और ग्रामीण अर्थव्यस्था को आगे बढ़ाने वाला बताया है. इसके आगे अच्छे परिणाम की संभावना जताई है. लखनऊ विश्वविद्यालय के अर्थशास्त्र विभाग के प्रोफेसर डॉ.एम.के. अग्रवाल ने कहा कि यह बजट ग्रामीण अर्थव्यवस्था और पशुधन को फोकस करके बनाया गया है. इसमें कृषि सुधार की दिशा में यह काफी महत्वपूर्ण हो सकता है. वहीं आम बजट में कई नई इनोवेटिव योजनाएं प्रस्तावित की गई हैं. यदि इन योजनाओं का प्रभावी क्रियान्वयन हुआ तो लोगों को इनका बड़ा फायदा मिलेगा.

किसान रेल योजना

किसान रेल योजना के तहत किसान अपने उत्पादों को रेलगाड़ियों के जरिये बाजारों तक भेज सकेंगे. ट्रेन में इसके लिए अलग से वातानुकूलित डिब्बे लगेंगे. इतना ही नहीं वे हवाई जहाज से भी अपने उत्पाद भेज सकेंगे. इसके लिए किसान उड़ान योजना प्रस्तावित की गई है.

ये भी पढ़ें: Union Budget 2020: बड़े सुधार नदारद, वित्त मंत्री अर्थव्यवस्था की स्थिति की वजह से लाचार: उद्योग जगत

जैविक खेती के लिए पोर्टल

सरकार ने जैविक खेती के लिए एक पोर्टल बनाने की बात कही है. जिसके मदद से किसान जैविक उत्पादों को कहीं भी बेच सकते है. अभी जैविक खेती का चलन तो बढ़ रहा है लेकिन असली परेशानी किसानों को उत्पाद बेचने में आती है, जिसके लिए यह पोर्टल किसानों की मदद करती है.

ग्राम भंडारण योजना

बजट में ग्राम भंडारण योजना भी इनोवेटिव है. इसमें स्वयं सहायता समूहों को भंडारगृह बनाने के लिए सरकार मदद देगी. ग्रामीण इनका खुद ही प्रबंधन करेंगे और कम खर्च पर अपने उत्पादों को भंडारित कर सकेंगे और दाम अच्छे मिलने पर बेच सकेंगे.

ये भी पढ़ें: Union Budget 2020: केंद्र सरकार का बड़ा ऐलान, बैंक डूबा तो लोगों को मिलेंगे 5 लाख रुपए

छात्रों के लिए योजनाएं

इसी प्रकार इंजीनियरिंग छात्रों को स्थानीय निकायों में एक साल की इंटनर्शिप योजना से उन्हें तात्कालिक रोजगार मिलेगा और निकायों को कम खर्च पर मैनपावर मिलेगी. 150 केंद्रीय शिक्षण संस्थानों में एप्रेंटिस योजना, सीवर टैंकों की सफाई के लिए उपकरणों का इस्तेमाल, राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी की स्थापना से आने वाले समय में आम लोगों को फायदा होगा.

राष्ट्रीय भर्ती एजेसी बनने के बाद हर क्षेत्र में इसके केंद्र बनेंगे और इन केंद्रों पर लोगों को सरकारी नौकरियों के लिए परीक्षा देने का मौका मिलेगा. इसी प्रकार सीवर टैंकों की सफाई में कई बार कार्मिकों की मौत हो जाती है. यदि इसमें उपकरणों का इस्तेमाल होगा तो लोगों का जीवन तो बचेगा ही उनका काम भी आसान हो सकेगा.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 02 Feb 2020, 12:00:46 PM

For all the Latest Utilities News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.