News Nation Logo
Banner

ड्रग मामले में पकड़ी गईं पामेला गोस्वामी आखिर कौन हैं, जानें यहां

पश्चिम बंगाल भारतीय जनता युवा मोर्चा (बीजेवाईएम) की सचिव पामेला गोस्वामी (Pamela Goswami), जिन्हें एक अन्य के साथ कोलकाता में कोकीन रखने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था, एक पूर्व मॉडल हैं, जो जुलाई 2019 में भगवा ब्रिगेड में शामिल हुई थी.

IANS | Updated on: 20 Feb 2021, 04:45:31 PM
pamela

ड्रग मामले में पकड़ी गईं पामेला गोस्वामी आखिर कौन हैं (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

Who is Pamela Goswami : पश्चिम बंगाल भारतीय जनता युवा मोर्चा (बीजेवाईएम) की सचिव पामेला गोस्वामी (Pamela Goswami), जिन्हें एक अन्य के साथ कोलकाता में कोकीन रखने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था, एक पूर्व मॉडल हैं, जो जुलाई 2019 में भगवा ब्रिगेड में शामिल हुई थी. पामेला गोस्वामी पश्चिम बंगाल इकाई के प्रमुख दिलीप घोष की उपस्थिति में भाजपा में शामिल हुई थीं. बंगाली फिल्म और टेलीविजन अभिनेत्री रिमझिम मित्रा और अभिनेता सुरोजीत चौधरी भी उनके साथ भाजपा में शामिल हुए थे. आगे चलकर, पामेला को बीजेवाईएम की पश्चिम बंगाल इकाई का सचिव नियुक्त किया और माना जाता है कि यह पार्टी गतिविधियों में बहुत सक्रिय थीं. 1 फरवरी को, उन्होंने फेसबुक पर पोस्ट किया कि एक दोपहर एक आदिवासी परिवार के साथ बिताया. उनके साथ बातचीत की, उन्होंने अपनी समस्याओं को साझा किया, हमने इसमें से एक संभावित समाधान प्रदान किया.

यह भी पढ़ेंः कार में कोकीन ले जा रही भाजपा युवा नेता पामेला गोस्वामी कोलकाता में गिरफ्तार

उनके सोशल मीडिया पोस्ट सभी महत्वपूर्ण घटनाओं या कार्यक्रमों में उनकी उपस्थिति को दर्शाते हैं. उनके पोस्ट से यह भी पता चलता है कि वह कोलकाता के विक्टोरिया मेमोरियल में नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 125वीं जयंती के अवसर पर आयोजित 'पराक्रम दिवस समारोह' में शामिल हुई थीं. पामेला गोस्वामी ने सोशल मीडिया पर अपनी राजनीतिक राय व्यक्त करने में संकोच नहीं किया.

उन्होंने दिल्ली की सीमाओं पर चल रहे किसान आंदोलन पर अंतर्राष्ट्रीय पॉप स्टार रिहाना के ट्वीट पर टिप्पणी की थी. फेसबुक पोस्ट में उन्होंने कहा था कि पर्याप्त जानकारी और ज्ञान के बिना भारत के आंतरिक मुद्दों के बारे में बोलने से बचें. असली किसान ऐसे आतंकवादी से शर्मिदा हैं, बिचौलिए जो किसानों को इन सब से वंचित करते हैं.

यह भी पढ़ेंः PM मोदी 22 फरवरी को फिर जाएंगे असम और बंगाल, इन परियोजनाओं को करेंगे उद्धाटन

उन्होंने मिया खलीफा को वैश्विक नेता नरेन्द्र मोदी की छवि बिगाड़ने के लिए आईएसआई द्वारा हायर की गई एजेंट कहा था. पामेला ने कहा था कि वे किसान नहीं बल्कि आतंकवादी हैं जो भारत को विभाजित करने की कोशिश कर रहे हैं, ताकि चीन हमारे कमजोर टूटे हुए राष्ट्र पर कब्जा कर सके और इसे चीनी कॉलोनी बना सके.

First Published : 20 Feb 2021, 04:45:31 PM

For all the Latest States News, West Bengal News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.