News Nation Logo

शुभेंदु अधिकारी के भाई समेत 5 हजार लोग हो सकते हैं BJP में शामिल

हाल में पूर्व मेदिनीपुर जिले में कांठी नगरपालिका के प्रशासक बोर्ड के अध्यक्ष पद से सौमेंदु अधिकारी को हटा दिया गया था. वहीं अब शुभेंदु अधिकारी ने दावा किया है कि सौमेंदु के साथ 5 हजार लोग भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता ले सकते हैं.

News Nation Bureau | Edited By : Dhirendra Kumar | Updated on: 01 Jan 2021, 05:08:49 PM
Suvendu Adhikari

Suvendu Adhikari (Photo Credit: newsnation)

नई दिल्ली:

तृणमूल (Trinmool Congress) को छोड़कर भारतीय जनता पार्टी (BJP) में शामिल हुए शुभेंदु अधिकारी के भाई सौमेंदु अधिकारी भी जल्द ही पार्टी को छोड़ सकते हैं. गौरतलब है कि हाल में पूर्व मेदिनीपुर जिले में कांठी नगरपालिका के प्रशासक बोर्ड के अध्यक्ष पद से सौमेंदु अधिकारी को हटा दिया गया था. वहीं अब शुभेंदु अधिकारी ने दावा किया है कि सौमेंदु के साथ 5 हजार लोग भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता ले सकते हैं. 

यह भी पढ़ें: मुठभेड़ में मारे गए तीन लोगों के तार आतंकियों संग जुड़े थे
 
बता दें कि शुभेंदु अधिकारी ने पश्चिम बंगाल में 2021 के विधानसभा चुनाव में ममता बनर्जी सरकार को सत्ता से उखाड़ फेंकने का संकल्प लिया था. अधिकारी पश्चिम मेदिनीपुर जिले में केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह की रैली में भाजपा में शामिल हुए थे. बता दें कि प्रशासक बोर्ड के अध्यक्ष पद से हटाए जाने के बाद सौमेंदु अधिकारी ने कलकत्ता हाईकोर्ट में इस फैसले के खिलाफ चुनौती दी है. 

शुभेंदु अधिकारी के भाई को नगरपालिका के प्रशासक बोर्ड के अध्यक्ष पद से हटाया गया
बता दें कि भाजपा नेता एवं पश्चिम बंगाल के पूर्व मंत्री शुभेंदु अधिकारी के भाई सौमेंदु को पूर्व मेदिनीपुर जिले में कांठी नगरपालिका के प्रशासक बोर्ड के अध्यक्ष पद से हटा दिया गया है. सौमेंदु अधिकारी पूर्व मेदिनीपुर में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस के हालिया राजनीतिक कार्यक्रमों में शामिल नहीं हुए थे. पार्टी के कुछ नेताओं का आरोप है कि पिछले दो महीने से वह अपने भाई के जनसंपर्क कार्यक्रमों में मदद कर रहे थे. उनके एक अन्य भाई एवं तृणमूल सांसद दिव्येंदु अधिकारी ने इस फैसले को ‘‘दुर्भाग्यपूर्ण और अनुचित’’ बताया है. 

यह भी पढ़ें: लाइट हाउस परियोजना पर बोले PM मोदी- प्रकाश स्तंभ की तरह है यह प्रोजेक्ट

तामलुक से सांसद दिव्येंदु अधिकारी ने कहा कि वह पार्टी (तृणमूल कांग्रेस) के ‘‘वफादार कार्यकर्ता’’ बने रहेंगे और मुख्यमंत्री एवं तृणमूल कांग्रेस की अध्यक्ष ममता बनर्जी के सामने यह मुद्दा उठाएंगे. उन्होंने कहा, ‘‘वह मेरी नेता हैं. मुझे उन पर पूरा भरोसा है. सांसद ने कहा कि वह कांठी नगरपालिका भवन से अब काम नहीं करेंगे। नगरपालिका भवन में सांसद का कार्यालय है। यह घटनाक्रम ऐसे वक्त में हुआ है जब शुभेंदु अधिकारी ने कहा था,‘‘मेरे परिवार में कमल खिलेगा. उनके पिता शिशिर अधिकारी और भाई दिव्येंदु तृणमूल सांसद हैं.

यह भी पढ़ें: राम मंदिर बनने से पहले नहीं होगी काशी-मथुरा की बात, जानें क्या बोले चंपत राय

19 दिसंबर 2020 को बीजेपी में हुए थे शामिल
राज्य के पूर्व परिवहन मंत्री शुभेंदु अधिकारी 19 दिसंबर 2020 को मेदिनीपुर में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की रैली में नौ विधायकों और एक सांसद के साथ भाजपा में शामिल हुए थे.  भारतीय जनता पार्टी में शामिल होने के बाद शुभेंदु अधिकारी ने रैली के दौरान कहा था कि मेरे परिवार में कमल खिलेगा. बता दें कि शुभेंदु अधिकारी के पिता शिशिर अधिकारी और भाई दिव्येंदु TMC से सांसद हैं.  (इनपुट भाषा)

First Published : 01 Jan 2021, 04:39:33 PM

For all the Latest States News, West Bengal News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.