News Nation Logo
Banner

चुनाव से पहले प्रशांत किशोर को लेकर TMC के भीतर बगावती स्वर तेज, एक और विधायक ने खोला मोर्चा

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की मुश्किलें लगातार बढ़ती जा रही हैं. 2019 लोकसभा चुनाव में पार्टी का प्रदर्शन अच्छा नहीं होने की वजह से इस बार रिस्क नहीं लेना चाहती है.

News Nation Bureau | Edited By : Sushil Kumar | Updated on: 30 Nov 2020, 04:29:43 PM
मुख्यमंत्री ममता बनर्जी

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Photo Credit: फाइल फोटो)

कोलकाता:

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की मुश्किलें लगातार बढ़ती जा रही हैं. 2019 लोकसभा चुनाव में पार्टी का प्रदर्शन अच्छा नहीं होने की वजह से इस बार रिस्क नहीं लेना चाहती है. अधर में लटकी राजनीतिक नैया को पार लगाने के लिए चुनाव रणनीतिकार प्रशांत किशोर को कमान सौंपी है. लेकिन पीके के खिलाफ टीएमसी में बगावत के सुर सुनाई देने लगे हैं. पार्टी कार्यकर्ता और विधायक को यह पसंद नहीं कि कोई बाहरी आकर हमारे लिए रणनीति बनाए. जिसके चलते तृणमूल कांग्रेस के भीतर बगावती स्वर तेज होते जा रहे हैं. एक के बाद एक विधायक और मंत्री अपनी नाराजगी जता रहे हैं. कुछ महीने बाद बंगाल में विधानसभा का चुनाव होने वाला है. जिसको लेकर यह शुभ संकेत नहीं हैं.

मंत्री शुवेंदु अधिकारी के इस्तीफे के बाद अब इसी क्रम में हावड़ा के शिवपुर विधानसभा क्षेत्र से विधायक जटू लाहिड़ी ने भी प्रशांत किशोर के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है. लाहिड़ी ने प्रशांत किशोर पर निशाना साधते हुए कहा, वे 'किराए' पर पार्टी चलाने आए हैं और उनके आने से दल को नुकसान हुआ है. उन्होंने ये भी कहा कि पीके के आने से पार्टी कमजोर हुई है. यही नहीं जटू लाहिड़ी ने अप्रत्यक्ष रूप से आने वाले दिनों में पार्टी को छोड़ने का संकेत दे दिए है. विधायक लाहिड़ी का कहना है कि ममता बनर्जी को मुख्यमंत्री के रूप में देखने के बाद वह पार्टी में आए. उनका मानना ​​है कि ममता बनर्जी को खुद ही पार्टी चलाना चाहिए.

 

First Published : 30 Nov 2020, 04:29:43 PM

For all the Latest States News, West Bengal News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.