News Nation Logo
Banner

CAA-NRC गतिरोध के बीच PM नरेंद्र मोदी के साथ मंच साझा कर सकती हैं CM ममता बनर्जी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के रविवार को पश्चिम बंगाल में एक कार्यक्रम में मंच साझा करने की संभावना है.

Bhasha | Updated on: 10 Jan 2020, 11:47:11 PM
पीएम नरेंद्र मोदी और सीएम ममता बनर्जी

पीएम नरेंद्र मोदी और सीएम ममता बनर्जी (Photo Credit: न्यूज स्टेट)

कोलकाता:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के रविवार को पश्चिम बंगाल में एक कार्यक्रम में मंच साझा करने की संभावना है. तृणमूल कांग्रेस के सूत्रों ने यह जानकारी दी. राज्य सचिवालय अधिकारी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी शनिवार को कोलकाता में राजभवन में मुलाकात करेंगे. पश्चिम बंगाल की सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता ने कहा कि जहां तक हमें मालूम है, वह 12 जनवरी को कोलकाता पोर्ट ट्रस्ट के कार्यक्रम में हिस्सा लेंगी, जहां प्रधानमंत्री भी मौजूद होंगे. मोदी 11 जनवरी को दो दिन की यात्रा पर कोलकाता में होंगे.

यह भी पढ़ेंःविरोध के बावजूद देश में CAA लागू, मोदी सरकार ने जारी किया नोटिफिकेशन

माकपा और कांग्रेस संशोधित नागरिकता कानून (CAA) और प्रस्तावित राष्ट्रीय नागरिक पंजी (NRC) के मुद्दे पर 11 जनवरी को शुरू हो रहे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के पश्चिम बंगाल दौरे का विरोध करेंगे. माकपा के वरिष्ठ नेता सुजान चक्रवर्ती ने गुरुवार को कहा कि वाम मोर्चा और कांग्रेस मोदी के दौरे के दौरान पूरे राज्य में बड़े पैमाने पर प्रदर्शन करेंगे. कांग्रेस की छात्र इकाई छात्र परिषद के वरिष्ठ नेता ने कहा कि मोदी के दौरे के दौरान उन्हें काले झंडे दिखाए जाएंगे और उनका पुतला फूंका जाएगा.

एसएफआई के राज्य सचिव श्रीजन भट्टाचार्य ने कहा कि नरेंद्र मोदी के बंगाल दौरे के दौरान हम विरोध प्रदर्शन करेंगे लेकिन उन्होंने प्रदर्शन के तरीके का खुलासा नहीं किया. उल्लेखनीय है कि पीएम मोदी का कोलकाता बंदरगाह न्याय की 150वीं जयंती सहित विभिन्न आयोजनों में शामिल होने का कार्यक्रम है. माकपा विधायक दल के नेता चक्रवर्ती ने आरोप लगाया कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की प्रधानमंत्री मोदी और केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के साथ रणनीतिक साठगांठ है और राज्य सरकार प्रधानमंत्री का स्वागत करने के लिए आगे बढ़कर कदम उठा रही है.

माकपा विधायक दल के नेता चक्रवर्ती ने आगे कहा कि वाम पार्टियां, कांग्रेस और सभी नागरिक संशोधित नागरिकता कानून और एनआरसी के विरोध में मोदी के दौरे के दौरान सड़कों पर उतरेंगे और अगर राज्य की तृणमूल सरकार इसके खिलाफ है तो प्रधानमंत्री का स्वागत नहीं करने का फैसला ले.

यह भी पढ़ेंःDelhi Assembly Election: Aap अगले हफ्ते जारी करेगी प्रत्याशियों की लिस्ट, इन्हें मिल सकता है टिकट!

चक्रवती की बात का समर्थन करते हुए पश्चिम बंगाल विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष अब्दुल मन्नन ने कहा,‘अगर मोदी को भाजपा शासित असम में आने नहीं दिया गया तो फिर पश्चिम बंगाल में पैर रखने की अनुमति क्यों दी जाए.’ विपक्षी दलों के रुख पर प्रतिक्रिया देते हुए सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने कहा कि मोदी के राज्य दौरे के दौरान विरोध प्रदर्शन करने की कोई योजना नहीं है.

First Published : 10 Jan 2020, 11:28:07 PM

For all the Latest States News, West Bengal News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.