News Nation Logo
Banner

बीजेपी राजनीतिक पार्टी नहीं है, बल्कि झूठ का पुलिंदा: ममता बनर्जी

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भाजपा को ‘‘झूठ का पुलिंदा’’ और ‘‘देश के लिए सबसे बड़ा अभिशाप’’ करार देते हुए भगवा पार्टी को चुनौती दी कि वह उन्हें गिरफ्तार करके दिखाए.

Bhasha | Updated on: 25 Nov 2020, 11:52:34 PM
Mamata Banerjee

ममता बनर्जी (Photo Credit: फाइल फोटो)

बांकुड़ा:

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भाजपा को ‘‘झूठ का पुलिंदा’’ और ‘‘देश के लिए सबसे बड़ा अभिशाप’’ करार देते हुए भगवा पार्टी को चुनौती दी कि वह उन्हें गिरफ्तार करके दिखाए. उन्होंने कहा कि वह जेल से भी आगामी विधानसभा चुनाव में तृणमूल कांग्रेस की जीत सुनिश्चित करेंगी. तृणमूल प्रमुख ने भरोसा जताया कि पार्टी राज्य में मौजूदा कार्यकाल की तुलना में बड़े जनादेश के साथ लगातार तीसरी बार सत्ता में वापसी करेगी.

बनर्जी ने कहा कि पश्चिम बंगाल में 2021 के विधानसभा चुनाव में भाजपा की हार, केंद्र में भाजपा के अहंकार और कुशासन के लिए एक तगड़ा झटका होगी. पिछले कुछ साल में भाजपा बंगाल में एक मुख्य विपक्षी दल के रूप में उभरी है. भाजपा पर तृणमूल कांग्रेस के विधायकों को रिश्वत देकर अपने पाले में लाने का प्रयास करने का आरोप लगाते हुए ममता बनर्जी ने किसी का नाम लिए बिना कहा कि कुछ लोग निष्पक्ष होने का नाटक करते हैं और इस मुगालते में हैं कि भगवा पार्टी राज्य की सत्ता में आ सकती है.

उन्होंने कहा, ‘‘ भाजपा राजनीतिक पार्टी नहीं है, बल्कि झूठ का पुलिंदा है. जब भी चुनाव आता है वह नारद (स्टिंग ऑपरेशन) और शारदा (घोटाला) का मुद्दा तृणमूल कांग्रेस के नेताओं को भयभीत करने के लिए लाती है.’’ कोविड-19 के बाद अपनी पहली प्रमुख रैली को यहां संबोधित करते हुए ममता ने कहा, ‘‘लेकिन मैं उन्हें स्पष्ट कर देना चाहती हूं कि मैं भाजपा और उसकी एजेंसियों से नहीं डरती. अगर उनमें साहस है तो वे मुझे गिरफ्तार कर सलाखों के पीछे डाल सकते हैं.

इसे भी पढ़ें:पंजाब कैबिनेट में हो सकती है नवजोत सिंह सिद्धू की वापसी, जानें पूरा मामला

मैं जेल से चुनाव लड़ूंगी और तृणमूल कांग्रेस की जीत सुनिश्चित करूंगी.’’ भाजपा पर नेताओं को कथित रूप से फंसाने का आरोप लगाते हुए उन्होंने कहा कि उनके पास अब हजारों करोड़ रुपये हैं. अब वे टीएमसी कार्यकर्ताओं को पैसे का लालच दे रहे हैं. अपने हमले को जारी रखते हुए, बनर्जी ने कहा, "कुछ लोग इस भ्रम में हैं कि वे (भाजपा) सत्ता में आएंगे, इसलिए वे एक मौके की तलाश में हैं.

लेकिन मैं कहना चाहती हूं कि न तो कोई मौका है और न ही भाजपा के पास सत्ता में आने का कोई मौका है. हम फिर से बड़े जनादेश के साथ सत्ता में लौटेंगे.’’ हाल में हुए बिहार विधानसभा चुनाव का संदर्भ देते हुए ममता ने कहा कि यहां तक कि राजद नेता लालू प्रसाद यादव को जेल में डाल दिया गया था, इसके बावजूद उनकी पार्टी ने अच्छा प्रदर्शन किया. तृणमूल अध्यक्ष ने कहा, ‘‘यहां तक कि लालू प्रसाद को सलाखों के पीछे डाल दिया गया, इसके बावजूद उन्होंने अपनी पार्टी का बेहतर प्रदर्शन सुनिश्चित किया. भाजपा की जीत धांधली से हुई है, न कि जनता में लोकप्रियता की वजह से.’’

और पढ़ें:पीएम मोदी ने विशेष डाक टिकट और 100 रुपए का सिक्का जारी किया, कही ये बात

उन्होंने बेरोजगारी को लेकर भी केंद्र की भाजपा सरकार पर निशाना साधा. बनर्जी द्वारा भाजपा को उन्हें जेल भेजने की चुनौती दिए जाने पर प्रतिक्रिया देते हुए, भगवा दल के प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष ने कहा कि ऐसा लगता है कि उन्हें समझ में आ गया है कि तृणमूल कांग्रेस सरकार के अब गिने-चुने दिन बचे हैं. उन्होंने कहा, "वह इस तरह के निरर्थक बयान क्यों दे रही हैं? क्या वह और उनकी पार्टी किसी चीज से डर गई हैं? बंगाल में अब तृणमूल कांग्रेस सरकार के गिने-चुने दिन बचे हैं और मुझे लगता है कि उन्हें यह बात समझ में आ गई है.’’

बनर्जी ने कहा, ''टीएमसी बंगाल में भाजपा की प्रगति से चिंतित है.'' उल्लेखनीय है कि वर्ष 2011 से ही तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) पश्चिम बंगाल की सत्ता में है. अगले साल अप्रैल-मई में 294 सदस्यीय पश्चिम बंगाल विधानसभा के लिए चुनाव होना है.

First Published : 25 Nov 2020, 10:48:35 PM

For all the Latest States News, West Bengal News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.