News Nation Logo
Banner

प्रणब मुखर्जी के बेटे अभिजीत ने कांग्रेस छोड़ थामा TMC का दामन, बहन ने बोली यह बात

पार्था चटर्जी ने अभिजीत का स्वागत करते हुए कहा कि उन्होंने TMC में शामिल होने की इच्छा जताई थी

News Nation Bureau | Edited By : Mohit Sharma | Updated on: 05 Jul 2021, 06:08:49 PM
Abhijit Mukherjee

Abhijit Mukherjee (Photo Credit: ANI)

highlights

  • कांग्रेस नेता अभिजीत मुखर्जी हुए तृणमूल कांग्रेस में शामिल
  • कोलकाता में ली TMC की सदस्यता, भाजपा पर साधा निशाना
  • देश के पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के बेेटे हैं अभिजीत मुखर्जी 

कोलकाता:

देश के पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी (Former President Pranab Mukherjee) के बेेटे और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अभिजीत मुखर्जी (Abhijit Mukherjee) ने आज यानी सोमवार को पार्टी छोड़ दी. अभिजीत ने कोलकाता में पश्चिम बंगाल की सत्ताधारी पार्टी तृणमूल कांग्रेस (TMC) का दामन थाम लिया है. टीएमसी नेता पार्था चटर्जी ने अभिजीत मुखर्जी को सदस्यता ग्रहण कराई. इस दौरान पार्था चटर्जी ने अभिजीत का स्वागत करते हुए कहा कि उन्होंने टीएमसी में शामिल होने की इच्छा जताई थी. पार्था ने कहा कि अभिजीत ने टीएमसी में शामिल होने का विचार अभिषेक बनर्जी के सामने व्यक्त किया था. जिसके चलते उन्होंने आज टीएमसी जॉइन कर ली. 

यह भी पढ़ेंःबीजेपी-शिवसेना में मिटने लगी दूरियां? गठबंधन पर फडणवीस के जवाब से महाराष्ट्र में सियासी उलटफेर की अटकलें

यह भी पढ़ेंःमहाराष्ट्र में आज से मानसून सत्र की शुरुआत, देवेंद्र फडणवीस ने उठाए ये सवाल

भाजपा मुक्त वातावरण तैयार करने में करेंगे मदद 

तृणमूल कांग्रेस के नेता पार्था चटर्जी ने कहा कि अभिजीत मुखर्जी देश में भाजपा मुक्त वातावरण तैयार करने में मदद करेंगे. सुदीप बंदोपाध्याय ने अभिजीत मुखर्जी का स्टॉल ओढ़ाकर स्वागत किया. वहीं, अभिजीत मुखर्जी ने टीएमसी प्रमुख और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और अभिषेक बनर्जी को धन्यवाद कहा. उन्होंने कहा कि मैंने दीदी और अभिषेक के निर्देश पर ही टीएमसी जॉइन की है. उन्होंने कहा कि जब वो युवा थे, तब अपने माता-पिता के साथ वह पार्था चटर्जी से मिले थे. अभिजीत ने इस दौरान कांग्रेस और भाजपा दोनों पर ही कटाक्ष किए. उन्होंने कहा कि वह सरकारी नौकरी छोड़कर केवल इस लिए कांग्रेस में शामिल हुए थे, क्योंकि उस समय लेफ्ट विरोधी माहौल था और ममता बनर्जी उसका नेतृत्व कर रही थीं. ​अभिजीत ने कहा कि दीदी ने बंगाल में एक धार्मिक पार्टी को आगे बढ़ने से रोक दिया है और अब वह समूचे भारत में जीत हासिल करेंगी.

बहन शर्मिष्ठा ने बताया दुखद

वहीं, अ​भिजीत मुखर्जी की बहन शर्मिष्ठा ने उनके कांग्रेस छोड़ कर TMC में जाने को दुखद बताया है. शर्मिष्ठा ने ट्विटर पर इसको SAD भाई लिखा है. गौरतलब है कि अभिजीत मुखर्जी और उनकी बहन के बीच पिछले कुछ दिनों से पिता प्रबण मुखर्जी को लेकर विवाद की स्थिति बनी हुई है.

First Published : 05 Jul 2021, 05:28:22 PM

For all the Latest States News, West Bengal News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.