News Nation Logo
Banner

ममता बनर्जी के चुनावी प्रचार पर लगा 24 घंटे का बैन

चुनावी आचार संहिता उल्लंघन के मामले में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर चुनाव आयोग ने 24 घंटे का लगाया बैन लगा दिया है. इस दौरान वह चुनाव प्रचार नहीं कर पाएंगी.

News Nation Bureau | Edited By : Avinash Prabhakar | Updated on: 12 Apr 2021, 08:29:29 PM
mamta

CM Mamta Banerjee (Photo Credit: File)

कोलकाता :

चुनावी आचार संहिता उल्लंघन के मामले में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (CM Mamta Banerjee) पर चुनाव आयोग ने 24 घंटे का लगाया बैन लगा दिया है. इस दौरान वह चुनाव प्रचार नहीं कर पाएंगी. चुनाव आयोग ने यह बैन पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर 12 अप्रैल की रात 8 बजे से 13 अप्रैल की रात 8 बजे तक के लिए लगाया है. मुख्यमंत्री ममता बनर्जी इस दौरान किसी भी तरह से प्रचार नहीं कर पाएंगी. उनके चुनावी प्रचार प्रसार पर 24 घंटे का प्रतिबंध लग गया है.

बता दें कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी चुनाव आयोग के बैन के खिलाफ कल धरने पर बैठेंगी. उन्होंने कहा, 'भारत निर्वाचन आयोग के अलोकतांत्रिक और असंवैधानिक निर्णय के विरोध में कल दोपहर मै 12 बजे कोलकाता के गांधी मूर्ति पर धरना पर बैठूंगी'.

बता दें कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने मुस्लिम वोटर्स से वोट बंटने ना देने की अपील की थी. ममता बनर्जी ने महिलाओं से सुरक्षाबलों का घेराव करने की सलाह गई थी. इस मामले को लेकर ममता बनर्जी को चुनाव आयोग ने दो नोटिस जारी किए थे. ममता के जवाब से असंतुष्ट चुनाव आयोग ने उनपर यह कार्रवाई की गयी है. पश्चिम बंगाल में पांचवें चरण के मतदान को लेकर सभी राजनीतिक पार्टियां एक दूसरे पर निशाना साध रही है. 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पश्चिम बंगाल के बारासात में एक जनसभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर निशाना साधा है. पीएम मोदी ने कहा कि चार चरणों के मतदान के बाद आपने जिस तरह भाजपा की विजय तय की है, उससे तो दीदी आग बबूला हो गई है. इधर आप बीजेपी को वोट दे रहे हैं, उधर दीदी आपको गाली दे रही है. दीदी ने मोदी के साथ-साथ बंगाल के SC, ST, OBC के मेरे भाइयों और बहनों के विरुद्ध खुली लड़ाई छेड़ दी है.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 12 Apr 2021, 07:45:45 PM

For all the Latest States News, West Bengal News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.