News Nation Logo

Corona virus: कोलकाता में 19 चीनी क्रू को थर्मल स्कैनिंग के बाद मिली प्रवेश की अनुमति, कल फिर होगी जांच

19 चीनी क्रू मेंबर्स को कोलकाता में जांच करने का बाद प्रवेश करने की अनुमति दी गई. सिंगापुर के रास्ते चीन के शंघाई से आने वाले एक जहाज के 19 चीनी दल को कोलकाता के पास सागर द्वीप में छोड़ दिया गया.

News Nation Bureau | Edited By : Sushil Kumar | Updated on: 12 Feb 2020, 10:58:56 PM
प्रतीकात्मक फोटो

प्रतीकात्मक फोटो (Photo Credit: न्यूज स्टेट)

कोलकाता:

विश्व में कोरोना वायरस का कहर जारी है. चीन में काफी दर्दनाक स्थिति बनी हुई है. चीन के शहर वुहान में अबतक सैकड़ों लोगों की मौत हो गई है. लोग काफी दहशत में है. चीन से आने वाले हर व्यक्ति की जांच की जा रही है. 19 चीनी क्रू मेंबर्स को कोलकाता में जांच करने का बाद प्रवेश करने की अनुमति दी गई. सिंगापुर के रास्ते चीन के शंघाई से आने वाले एक जहाज के 19 चीनी दल को कोलकाता के पास सागर द्वीप में छोड़ दिया गया. सभी क्रू की थर्मल स्कैनिंग की गई, इसके बाद प्रवेश करने की अनुमति दी गई. क्रू की थर्मल स्कैनिंग कल फिर से की जाएगी.

यह भी पढ़ें- सुभाष चोपड़ा और पीसी चाको का इस्तीफा स्वीकार, शक्ति सिंह बने अंतरिम AICC प्रभारी

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने कोरोना वायरस को अंतरराष्ट्रीय जन-स्वास्थ्य आपातकाल घोषित कर दिया है. जापान के योकोहामा तट पर खड़े डायमंड प्रिंसेज क्रूज में 2 भारतीय भी इस वायरस की चपेट में आ गए हैं. क्रूज पर 3711 लोग सवार हैं, जिनमें 2666 गेस्ट और 1045 चालक दल के सदस्य हैं. इसमें 132 चालक दल के सदस्य और 6 यात्री भारतीय नागरिक हैं. भारत के क्रू मेंबर्स ने प्रधानमंत्री मोदी से खुद को बचाने की गुहार लगाई है.

यह भी पढ़ें- डोनाल्ड ट्रंप की यात्रा से पहले भारत-अमेरिका के बीच व्यापार समझौता को लेकर बातचीत तेज

सभी 174 को जापानी स्वास्थ्य प्रोटोकॉल के अनुसार पर्याप्त उपचार के लिए अस्पतालों में ले जाया गया है. जिन लोगों के सैंपल पॉजिटिव नहीं पाए गए हैं, उन्हें क्रूज से जाने की इजाजत नहीं दी गई है. हालांकि, गंभीर रूप से बीमार यात्रियों और चालक दल के सदस्यों को अस्पतालों या मेडिकल सुविधाओं की निगरानी में ले जाने की अनुमति दी गई है. विश्व स्वास्थ्य संगठन के महानिदेशक ट्रेडोस अदनोम ने कहा है कि न्यू कोरोना वायरस से ग्रस्त निमोनिया को डब्ल्यूएचओ ने सीओवीआईडी-9 नाम दिया है. उन्होंने कहा कि पहला टीका 18 महीनों के भीतर तैयार कर लिया जाएगा.

For all the Latest States News, West Bengal News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

First Published : 12 Feb 2020, 10:28:45 PM