News Nation Logo

सीएम ममता बनर्जी ने 8 चरणों में चुनाव पर उठाए सवाल, ये किसकी शह पर

चुनाव आयोग (Election Commission) की ओर से तारीखों के ऐलान करने के तुरंत बाद पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी (CM Mamata Banerjee) ने सवाल उठाए हैं.

News Nation Bureau | Edited By : Deepak Pandey | Updated on: 26 Feb 2021, 07:11:53 PM
mamta banerjee

सीएम मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

चुनाव आयोग (Election Commission) की ओर से तारीखों के ऐलान करने के तुरंत बाद पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ( CM Mamata Banerjee ) ने सवाल उठाए हैं. उन्होंने पूछा कि मैं चुनाव आयोग के फैसले का सम्मान करती हूं, लेकिन जिलों में तोड़-फोड़ क्यों? आखिर आठ चरणों में चुनाव किसको फायदा पहुंचाने के लिए रखा गया है. उन्होंने आगे कहा कि साउथ 24 परगना हमारा गढ़ है, वहां 3 अलग-अलग चरणों में मतदान होगा. क्या यह पीएम नरेंद्र मोदी और अमित शाह की सुविधा के अनुसार किया गया है?

सीएम ममता बनर्जी ने आगे कहा कि मैं चुनाव आयोग से अनुरोध करती हूं कि वे पश्चिम बंगाल को अपना राज्य मानें, न कि भाजपा की नजर से. उन्होंने कहा कि केंद्रीय गृह मंत्री को देश के लिए काम करना चाहिए. वह यहां चुनाव के लिए अपनी शक्तियों का दुरुपयोग नहीं कर सकते हैं. हम पीएम का स्वागत करते हैं, लेकिन वे पश्चिम बंगाल के चुनावों के लिए अपनी शक्तियों का दुरुपयोग नहीं कर सकते हैं.

पश्चिम बंगाल में आठ चरणों में होंगे विधानसभा चुनाव

पश्चिम बंगाल में बहुप्रतीक्षित विधानसभा चुनाव की घोषणा कर दी गई है. मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने शुक्रवार को विज्ञान भवन में इसकी घोषणा की. उन्होंने एक संवाददाता सम्मेलन में पत्रकारों से कहा कि पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव 27 मार्च और 1, 6, 10, 17, 22, 26 व 29 अप्रैल को होंगे. उल्लेखनीय है कि पश्चिम बंगाल की सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी राज्य में विधानसभा चुनाव जीतने के लिए पूरा जोर लगा रही हैं, जिससे यहां विधानसभा चुनाव काफी रोचक हो गया है.

चुनाव आयोग ने इस बार चुनाव खर्च 10 प्रतिशत बढ़ा दिया है. आयोग ने आगे कहा कि कुल 824 विधानसभा सीटों पर मतदान होंगे. हर जगह मतदान केंद्र ग्रउंड फ्लोर पर होगा. इससे कोई समझौता नहीं होगा. 24 मई 2021 को तमिलनाडु में विधानसभा का कार्यकाल समाप्त होगा. पश्चिम बंगाल में 30 मई को विधानसभा का कार्यकाल खत्म हो रहा है. असम में 31 मई को और केरल में 1 जून को विधानसभा का कार्यकाल खत्म हो जाएगा. पांचों राज्यों में विधानसभा चुनावों के दौरान पर्याप्त मात्रा में केंद्रीय सुरक्षाबलों तैनात किया जाएगा. संवेदनशील बूथों की भी पहचान की गई है.

चुनाव आयोग ने चुनाव प्रचार को लेकर गाइडलाइन जारी की है. आयोग के अनुसार, डोर-टू-डोर कैंपन में सिर्फ 5 लोग ही रहेंगे. सिक्योरिटी मनी आनलाइन जमा होगी. रोड शो में 5 गाड़ियों के साथ गैप रखना होगा. नामांकन की आनलाइन सुविधा भी उपलब्ध रहेगी. नामांकन के दौरान सिर्फ 2 लोग ही मौजूद रहेंगे. संवेदनशील बूथों पर सीआरपीएफ के जवान तैनात रहेंगे. सीसीटीवी की निगरागी में वोटिंग होगी. साथ ही मतदान का समय एक घंटे बढ़ा दिया गया है. सभी जगह चुनाव की वेबकास्टिंग होगी.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 26 Feb 2021, 06:59:32 PM

For all the Latest States News, West Bengal News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो