News Nation Logo
Banner

प्रशांत किशोर पर मुकुल रॉय का पलटवार, कहा-तिहाई तो दूर दहाई का आंकड़ा...

गुरुवार को पूर्व बर्दवान जिले के सतगछिया इलाके में आयोजित एक जनसभा को संबोधित करते हुए मुकुल राय ने  कहा कि ममता बनर्जी ने मुकुल राय के बिना एक चुनाव लड़ा था और वो था पिछला लोकसभा चुनाव और उसमें उन्हें करारी हार मिली थी.

News Nation Bureau | Edited By : Ravindra Singh | Updated on: 24 Dec 2020, 07:18:57 PM
Mukul Roy

मुकुल रॉय (Photo Credit: एएनआई ट्विटर)

नई दिल्ली:

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव से पहले राजनीतिक सरगर्मी लगातार तेज होती जा रही है. कुछ दिनों पहले चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने ट्वीट कर इस बात का दावा किया था कि भाजपा चाहे जितना भी प्रचार कर ले लेकिन इस बार वे विधानसभा चुनाव में पश्चिम बंगाल में दहाई का आंकड़ा पार नहीं कर पाएंगे.  इसके बाद अब वरिष्ठ भाजपा नेता मुकुल राय ने भी तृणमूल कांग्रेस को लेकर इसी तरह का पलटवार कर दिया है.

गुरुवार को पूर्व बर्दवान जिले के सतगछिया इलाके में आयोजित एक जनसभा को संबोधित करते हुए मुकुल राय ने  कहा कि ममता बनर्जी ने मुकुल राय के बिना एक चुनाव लड़ा था और वो था पिछला लोकसभा चुनाव और उसमें उन्हें करारी हार मिली थी.  उन्होंने कहा कि इस बार विधानसभा चुनाव में तृणमूल कांग्रेस को तिहाई आंकड़ा तो दूर  दहाई का भी आंकड़ा नहीं मिलेगा.  उन्होंने कहा कि इस बात पर मुझे दुख हो रहा है कि तृणमूल कांग्रेस पार्टी धीरे-धीरे लुप्त होती जा रही है.

आपको बता दें कि इसके पहले ममता के चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने सोमवार को इस बात का दावा किया था कि अगर बीजेपी बंगाल में दहाई का आंकड़ा पार कर जाए तो वो ट्विटर छोड़ देंगे. उन्होंने ट्वीट किया मीडिया का एक समूह बीजेपी के पक्ष में प्रचार कर रहा है. जबकि बीजेपी बंगाल में दहाई के अंक के लिए भी संघर्ष करेगी. उन्होंने कहा कि इस ट्वीट को संभाल कर रखें. अगर बीजेपी इससे बेहतर प्रदर्शन करती है तो वह ट्विटर छोड़ देंगे.

पश्चिम बंगाल में बीजेपी नेताओं के लगातार दौरे के बाद ऐसा कहा जा रहा कि इस बार बंगाल में टीएमसी और बीजेपी के बीच कड़ा मुकाबला होने की संभावना है. गृहमंत्री अमित शाह ने भी अपने बंगाल दौरे पर 200 सीटें जीतने का दावा किया. गौरतलब है कि गृहमंत्री अमित शाह को दो दिन के बंगाल दौरे के दौरान टीएमसी और लेफ्ट के कई विधायक और सांसद बीजेपी में शामिल हो गए. टीएमसी को सबसे बड़ा झटका पूर्व मंत्री शुभेंदु अधिकारी के रूप में लगा. शुभेंदु अधिकारी को ममता बनर्जी का काफी करीबी माना जाता है. 

ये नेता हुए बीजेपी में शामिल 

- सुवेंदु अधिकारी (टीएमसी विधायक)

​- सुनील कुमार मंडल (टीएमसी सांसद)

​- शीलभद्र दत्ता (टीएमसी विधायक)

​- बनश्री दत्ता (टीएमसी विधायक)

- श्यामा प्रसाद मुखर्जी (पूर्व टीएमसी विधायक)

- सुदीप मुखर्जी (कांग्रेस विधायक)

- दिपाली बिस्वास (टीएमसी विधायक)

​​- सैकत पंजा (सीएमसी विधायक)

- सुक्र मुंडा (टीएमसी विधायक)

​- तापसी मंडल (सीपीएम विधायक)

- अशोक डिंडा (सीपीआई विधायक)

- बिस्वजीत कुंडु (टीएमसी विधायक)

- दसरथ टिर्के (पूर्व टीएमसी सांसद)

 

First Published : 24 Dec 2020, 07:03:04 PM

For all the Latest States News, West Bengal News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.