News Nation Logo
Banner

जाधवपुर यूनिवर्सिटी में जाने से रोकने पर धरने पर बैठे बाबुल सुप्रियो, भारी सुरक्षा बल तैनात

लेफ्ट छात्रों ने विश्वविद्यालय में जाने से रोक दिया. जाधव यूनिवर्सिटी में जाने से रोकने पर नाराज बाबुल सुप्रियो ने धरने पर बैठ गए

By : Sushil Kumar | Updated on: 20 Sep 2019, 06:28:41 AM
बाबुल सुप्रियो (फाइल फोटो)

बाबुल सुप्रियो (फाइल फोटो)

कोलकाता:

केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो गुरुवार को यहां अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) द्वारा आयोजित एक समारोह में शामिल होने के लिए आए थे. जादवपुर विश्वविद्यालय में अपने दौरे के दौरान उन्हें छात्रों के एक समूहों के विरोध प्रदर्शन का सामना करना पड़ा. जैसे ही बाबुल यूनिवर्सिटी कैम्पस में पहुंचे, नारेबाजी कर रहे कुछ वामपंथी छात्रों ने उन्हें घेर लिया और उन्हें वहां से चले जाने को कहा.

यह भी पढ़ें- किसानों के लिए दिल्‍ली की केजरीवाल सरकार ला रही यह योजना, 100 करोड़ का बजट

वह के.पी.बासु मेमोरियल हॉल में पहुंचे थे जहां फ्रेशर्स के स्वागत पर एक कार्यक्रम का आयोजन होना था. आसनसोल के सांसद जैसे ही वहां पहुंचे, छात्रों ने 'बाबुल सुप्रियो वापस जाओ, वापस जाओ' के नारे लगाने शुरू कर दिए. लाल झंडा लिए छात्रों ने बाबुल के साथ धक्का-मुक्की की. उनके कपड़े फाड़ दिए गए. यहां तक कि एक छात्र को उनके बाल खींचते हुए भी देखा गया, लेकिन इतना कुछ होने के बाद भी बाबुल ने वहां से जाने से मना कर दिया. स्थिति ऐसी थी कि विश्वविद्यालय के कुलपति सुरंजन दास को किसी भी अप्रिय घटना को होने से रोकने के लिए मामले में हस्तक्षेप करना पड़ा.

यह भी पढ़ें- शशि थरूर का विवादित बयान, गाय की वजह से हो रही है मॉब लिंचिंग, देश हो रहा शर्मसार

कुलपति ने छात्रों संग बात करने की कोशिश की और बाबुल से अपने कक्ष में जाने का अनुरोध किया. हालांकि बाबुल और विद्यार्थियों के बीच तर्क-वितर्क जारी रहा. सुप्रियो ने कहा, "आप लोग मुझे भड़काना चाह रहे हैं, हंगामा कर रहे हैं. लेकिन, आप मुझे बाहर नहीं कर सकते. जब तक आप शांत नहीं हो जाते, मैं नहीं जाऊंगा."फैशन डिजाइनर और भाजपा नेत्री अग्निमित्रा पॉल भी बाबुल संग इस समारोह में भाग लेने आई थीं और उन्हें भी इस विरोध प्रदर्शन का सामना करना पड़ा.

यह भी पढ़ें- पंजाब की छात्राओं को मिलेगा स्मार्ट फोन, कैबिनेट ने दी मंजूरी

कोलकाता के जाधवपुर विश्वविद्यालय के बाहर भारी सुरक्षा बल तैनात कर दिया है. केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो को स्टूडेंट्स फेडरेशन ऑफ इंडिया (SFI) और AISA (ऑल इंडिया स्टूडेंट्स असन) के विरोध का सामना करना पड़ा. लेफ्ट विंग ने कैंपस में उनके दौरे का विरोध किया. वह वहां एबीवीपी के एक कार्यक्रम में शामिल होने गए थे. पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो को जाधवपुर विश्वविद्यालय परिसर से अपनी कार में बैठाया. 

यह भी पढ़ें- निर्मला सीतारमण का दावा, त्योहारी सीजन में नहीं होंगे पैसों की दिक्कत, कैंप लगाकर बांटे जाएंगे लोन

जाधवपुर विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ सुरंजन दास, और प्रो वीसी डॉ पीके घोष को गुरुवार को एएमआरआई अस्पताल धाकुरिया में भर्ती कराया गया. दोनों को सिरदर्द, चक्कर, धड़कन और मतली की शिकायत के साथ भर्ती कराया गया. वहीं इस मामले में राज्यपाल ने जाधवपुर विश्वविद्यालय के वीसी से बात की. उन्हें निर्देश दिया कि उनके लिए यह अनुचित है. उन्होंने इस मामले में त्वरित कदम नहीं उठाए. इसके परिणाम गंभीर हो सकते हैं. यह एक बहुत ही गंभीर प्रतिबिंब है, कानून व्यवस्था का पालन करें.

First Published : 19 Sep 2019, 07:07:29 PM

For all the Latest States News, West Bengal News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.