News Nation Logo
Quick Heal चुनाव 2022

उत्तराखंड में तबाही का मंजर : काठगोदाम में पानी में बहा रेलवे ट्रैक

उत्तराखंड में भारी के चलते 17 लोगो की मौत चुकी है. राज्य में कई नदियां उफान पर है. राज्य में सबसे ज्यादा कुमाऊं रीजन में नुकसान हुआ है. मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी और आपदा प्रबंधन मंत्री धन सिंह रावत आपदा प्रभावित क्षेत्रों का दौरा करने निकल चुके है

News Nation Bureau | Edited By : Vijay Shankar | Updated on: 19 Oct 2021, 03:13:28 PM
uttarakhand flood tabahi

Flood in Uttarakhand (Photo Credit: News Nation)

देहरादून:

उत्तराखंड में भारी के चलते 17 लोगो की मौत चुकी है. राज्य में कई नदियां उफान पर है. राज्य में सबसे ज्यादा कुमाऊं रीजन में नुकसान हुआ है. मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी और आपदा प्रबंधन मंत्री धन सिंह रावत आपदा प्रभावित क्षेत्रों का दौरा करने निकल चुके हैं. इस बीच सीएम धामी ने कहा कि बारिश के चलते काफी नुकसान हुआ है. हालांकि सीएम ने कहा कि सभी जरूरी इंतजाम करवा दिए गए हैं. उन्होंने लोगों से अपील है कि घबराने की जरूरत नहीं है. उन्होंने कहा कि सरकार हर संभव मदद करेगी. 


गंगोत्री से सुखी टॉप तक मोबाइल सेवा ठप

उत्तराखंड के डीजीपी अशोक कुमार ने कहा है कि रामनगर-रानीखेत मार्ग स्थित लेमन ट्री रिज़ॉर्ट में लगभग 100 लोग फंस हुए हैं. वे सभी सुरक्षित हैं और उन्हें बचाने की प्रक्रिया जारी है. नदी के ओवरफ्लो होने से कोसी नदी का पानी रिजॉर्ट में घुस गया है फिलहाल रिजॉर्ट का रास्ता अवरूद्ध है. 

बारिश के चलते गिरी दीवार



मलबे में नौ मजदूरों के दबे होने की सूचना


 

रुद्रपुर में बाढ़ जैसे हालात



बागेश्वर में जलस्तर बढ़ने से नदी में फंसी कार

लैंडस्लाइड से आ रही कई तरह की बाधाएं 


100 से ज्यादा सैलानी फंसे हुए हैं


उत्तराखंड के हालात पर पीएम मोदी की है नजर

पुलिस ने एक को सकुशल बचाया 
मलबे से रेस्क्यू ऑपरेशन में आ रही दिक्कतें

सीएम पुष्कर सिंह धामी कर रहे हैं अतिवृष्टि से प्रभावित क्षेत्रों का हवाई निरीक्षणप्रभावित क्षेत्रों का


स्थलीय निरीक्षण भी करेंगे 


आपदा प्रबंधन मंत्री डॉ. धनसिंह रावत भी साथ में हैं 

नैनीताल के मुक्तेश्वर में मलवे में दबा मकान, पांच शव बरामद


6 लोगों के दबने  की खबर के बाद मौके पर पहुंची पुलिस टीम


पुलिस और एसडीआरएफ की टीम ने 5 शव  किए बरामद


एक व्यक्ति को सकुशल किया गया रेस्क्यू


लगातार आ रहे मलवे से रेस्क्यू ऑपरेशन में आ रही दिक्कतें

 गौला नदी ने रौद्र रूप दिखाते हुए रेलवे स्टेशन की पटरी को भी उखाड़ दिया है. तेज बहाव की वजह से रेलवे ट्रैक नदी में बह गया. फिलहाल ट्रेनों का आवागमन भी प्रभावित हो गया है. 


भारी बारिश के चलते काठगोदाम रेलवे स्टेशन की करीब 100 मीटर पटरी नदी में बह गई है.  


कोसी नदी का जलस्तर खतरे के निशान से ऊपर
नैनीताल-नैना देवी मंदिर परिसर में भरा पानी


 

उत्तराखंड में भारी बारिश से तबाही
आपदा ग्रस्त इलाकों का दौरा कर रहे धामी
सीएम ने कहा, सरकार हरसंभव करेगी

नैनीताल में शिप्रा नदी उफान पर 

First Published : 19 Oct 2021, 12:04:16 PM

For all the Latest States News, Uttarakhand News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.