News Nation Logo
Banner

बंदूको के साथ डांस करते 'चैंपियन' का हथियार लाइसेंस रद्द

वायरल वीडियो में दो पिस्टल और एक कारबाइन के साथ डांस करते नजर आ रहे उत्तराखंड के विधायक कुंवर प्रणव सिंह चैंपियन के तीन शस्त्र लाइसेंस निलंबित कर दिए गए हैं.

IANS | Edited By : Yogendra Mishra | Updated on: 13 Jul 2019, 07:03:24 PM
विधायक कुंवर प्रणव सिंह चैंपियन (फाइल फोटो)

highlights

  • बीजेपी विधायक का बंदूकों के साथ वायरल हुआ था वीडियो
  • बीजेपी ने भी जारी किया कारण बताओ नोटिस
  • सुरक्षा कारणों से तीनों हथियार का लाइसेंस रद्द किया गया

देहरादून:  

वायरल वीडियो में दो पिस्टल और एक कारबाइन के साथ डांस करते नजर आ रहे उत्तराखंड के विधायक कुंवर प्रणव सिंह चैंपियन के तीन शस्त्र लाइसेंस निलंबित कर दिए गए हैं. अधिकारियों ने शनिवार को यह जानकारी दी. वीडियो सामने आने के बाद अनिश्चितकाल के लिए निलंबित किए गए विधायक को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की तरफ से कारण बताओ नोटिस भी जारी किया गया है, जिसमें उनसे पूछा गया है कि उन्हें पार्टी से क्यों न निकाल दिया जाए.

यह भी पढ़ें- घरेलु झगड़े से तंग आकर युवती ने की खुदकुशी, पहले हाथ की नस काटी और फिर...

जिला मजिस्ट्रेट दीपेंद्र कुमार चौधरी ने कहा, "हरिद्वार पुलिस से रिपोर्ट मिलने के बाद मैंने (कुंवर प्रणव सिंह) चैंपियन के तीन आर्म लाइसेंस निलंबित कर दिए हैं." उन्होंने आगे कहा, "चैंपियन से 15 दिनों के भीतर इस बात का भी जवाब मांगा गया है कि क्यों न तीनों बंदूकों के लाइसेंस रद्द कर दिए जाएं."

यह भी पढ़ें- गाजियाबाद में सहपाठियों से परेशान दलित छात्र ने आत्महत्या की

हरिद्वार के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जन्मेजय खंडूरी की एक रिपोर्ट के बाद यह कार्रवाई हुई है. रिपोर्ट में कहा गया है कि रक्षा और सुरक्षा कारणों से तीन हथियारों- एक डबल बैरल राइफल, एक रिवाल्वर और एक संशोधित कार्बाइन के लाइसेंस को रद्द कर दिया जाना चाहिए.

यह भी पढ़ें- BJP विधायक की बेटी और उनके पति अदालत में कर सकते हैं विवाह

खंडूरी ने कहा, "चैंपियन के खिलाफ कुछ मामले भी दर्ज हैं. इसलिए हमने हथियारों के लाइसेंस को रद्द करने की सिफारिश की है." चैंपियन ने इस कदम की आलोचना करते हुए कहा कि उनका बेटा, जो एक शूटर है, इन हथियारों के साथ अभ्यास करता है.

विधायक ने अपने समर्थकों से कहा, "इस निर्णय से मेरे बेटे का खेल भविष्य अंधकारमय लग रहा है." राज्य के भाजपा अध्यक्ष अजय भट्ट ने बुधवार को चैंपियन को नोटिस देकर पूछा था कि उन्हें पार्टी से बाहर क्यों न निकाला जाना चाहिए, क्योंकि विपक्ष ने इस मुद्दे को लेकर सत्तापक्ष पर तीखा हमला किया है.

यह भी पढ़ें- मायावती का बड़ा हमला- बीजेपी सरकार की नीति के कारण सर्वसमाज के लोग मॉब लिन्चिंग का शिकार हो रहे

राज्य कांग्रेस उपाध्यक्ष सूर्यकांत धस्माना के नेतृत्व में कांग्रेस नेताओं के एक समूह ने वीडियो के आधार पर पूर्व कांग्रेस विधायक रह चुके और वर्तमान में भाजपा विधायक चैंपियन के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की और उनके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने की मांग की है.

First Published : 13 Jul 2019, 07:03:24 PM

For all the Latest States News, Uttarakhand News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.