News Nation Logo

हरीश रावत ने कहा, उत्तराखंड में भी दलित का बेटा बने सीएम

उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता हरीश रावत ने उत्तराखंड में सीएम बदलने के लिए बीजेपी पर हमला बोला. उन्होंने कहा कि बीजेपी ने नर्वस होकर मुख्यमंत्री बदले. उन्होंने कहा कि देहरादून में बीजेपी के जाने की घंटी बज गई है.

News Nation Bureau | Edited By : Vijay Shankar | Updated on: 14 Oct 2021, 04:39:36 PM
Harish rawat

Harish rawat (Photo Credit: News Nation)

highlights

  • कहा, पंजाब का राजनीतिक मामला अब सुलझ गया है
  • उत्तराखंड में सीएम बदलने के लिए बीजेपी पर हमला बोला
  • पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा, बीजेपी ने नर्वस होकर मुख्यमंत्री बदले

हरिद्वार:

उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने राज्य में विधानसभा चुनाव को लेकर कहा कि उत्तराखंड में भी दलित का बेटा सीएम बने. उन्होंने उत्तराखंड में सीएम बदलने के लिए बीजेपी पर हमला बोला. उन्होंने कहा कि बीजेपी ने नर्वस होकर मुख्यमंत्री बदले. उन्होंने कहा कि देहरादून में बीजेपी के जाने की घंटी बज गई है जबकि कांग्रेस के आने की घंटी बजी. बीजेपी पर हमला बोलते हुए उन्होंने कहा कि उत्तराखंड में बीजेपी के खिलाफ भावना देखने को मिल रही है. रावत ने कहा कि पंजाब का राजनीतिक मामला सुलझ गया है. जो प्लान हमने बनाया था उसी प्लान के अनुसार काम हो रहा है. पंजाब में कांग्रेस ने बेहतर कार्य करते हुए दलित मुख्यमंत्री बनाया है. उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि पंजाब में अच्छा काम किया गया है.  

यह भी पढ़ें : उत्तराखंड के पूर्व सीएम हरीश रावत पांच बार रहे हैं एमपी, जानें उनकी पूरी डिटेल

हरीश रावत ने दिल्ली के आम आदमी पार्टी पर जमकर हमला बोला. उन्होंने कहा कि दिल्ली में अन्ना हजारे की आड़ में सरकार बनी. उन्होंने कहा कि दिल्ली के स्कूलों की स्थिति तंज कसा. हरीश रावत ने कहा कि नेशनल सर्वे में पंजाब के स्कूलों का पहला और दिल्ली के स्कूलों का 16वां स्थान आया है. दिल्ली सरकार ने हमारा मॉडल चुराया, लेकिन उसे सही से लागू नहीं कर पाए. विज्ञापन से हकीकत नहीं छुपाई जा सकती है. दिल्ली सरकार विज्ञापन पर ज्यादा पैसे खर्च कर रही है. रावत ने कहा कि उत्तराखंड में बेरोजगारी दर काफी ज्यादा है. उन्होंने कहा कि ऊधमसिंह नगर में आज भी जंगलों में गांव हैं. उन गांवों में कोई सुविधा नहीं है. 

बीजेपी पर निशाना साधा
उत्तराखंड में पौने चार साल सीएम रहने के बाद डबल इंजन सरकार के चलते कर मुख्यमंत्री बदल दिया गया. उत्तराखंड में छुटकारा पाने के लिए सीएम बदल गया. जब दूसरा सीएम आया तो उन्हें पता ही नहीं चला कि कब आए और कब चले गए. बीजेपी ने उत्तराखंड में अपने सीएम को फेल माना है. हमने पंजाब में परिवर्तन देश और समाज को देखकर किया है. उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कहा कि पंजाब में कांग्रेस पहले बेहतर स्थिति में है. उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कहा कि उत्तराखंड की जनता अब परिवर्तन चाह रही है. भाजपा के खिलाफ जबरदस्त माहौल है. उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कहा कि देहरादून में बीजेपी के जाने की घंटी बज गई है. जब भावना सच्ची होती है तो उसका परिणाम भी सच्चा निकलता है. बीजेपी ने नर्वस होकर सीएम बदले हैं. रावत ने कहा कि मैं जब आया था तब भी कांग्रेस का कार्यकर्ता था और जब जनाजा निकलेगा तब भी कांग्रेस का कार्यकर्ता रहूंगा. 

कांग्रेस में सभी का स्वागत

उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कहा कि दलबदल के दौरान यशपाल आर्या उस समय सरकार के साथ थे. यशपाल के जाने का कारण व्यक्तिगत था. यशपाल के जाने का व्यक्तिगत कारण था. यशपाल आर्य कांग्रेस में लौट आए हैं. फिलहाल दूसरे दलों में गए लोगों को संभलने का मौका है. कांग्रेस के लिए कोई उपयोगी होगा उसे हरीश रावत हाथ पकड़ भी साथ लाएंगे. उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कहा कि कांग्रेस में सभी का स्वागत है. नार्थ ईस्ट में दलबदल का विरोध हो रहा है. उत्तराखंड में सिर्फ दो ही पार्टियां हैं, यहां तीसरी पार्टी नहीं है. उत्तराखंड को समझना पड़ता है. उन्होंने कहा कि मैं आज भी युवा हूं. चेहरा जवान होने से काम नहीं होता है, दिल और दिमाग दोनों जवान होना चाहिए. मेरा तो दिल और दिमाग अभी दोनों जवान है.  


उत्तराखंड में बेरोजगारी दर बढ़ी
उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता हरीश रावत ने कहा कि जब से बीजेपी के जवान लोग आए तब से उत्तराखंड सबसे ज्यादा बेरोजगारी वाला राज्य बन गया है. कांग्रेस के समय में उत्तराखंड सबसे ज्यादा रोजगार देना वाला राज्य था. मैंने तीन साल में 32 हजार युवाओं को सरकारी नौकरी दी. अब बीजेपी सरकार 3200 लोगों को भी नौकरी नहीं दे पाई. रावत ने कहा कि साढ़े सात हजार में दिल्ली में सिर्फ साढ़े छह हजार युवाओं को सरकारी नौकरी मिली है. भाजपा को तो नौकरी देने का रिकॉर्ड ही नहीं है. हम सत्ता में आएंगे तो एक साल में खाली पड़े रिक्त स्थानों पर भरेंगे. उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने 3 साल में 32 हजार नौकरियां दी. यदि उनकी सरकार बनी तो सबसे पहले वह रिक्त पद भरेंगे. सरकार में आए तो लोगों को बेरोजगारी भत्ता देंगे. 

मौजूदा सरकार में पलायन बढ़ा
उत्तराखंड के बीजेपी सरकार पर निशाना साधते हुए रावत ने कहा कि मौजूदा सरकार में पलायन बढ़ा है. कांग्रेस सरकार में चार नए मेडिकल कॉलेज खोले गए थे. पांच साल और सरकार रहती तो पलायन रुक जाता. राज्य में आज भी सस्ती बिजली है. दिल्ली में साढ़े सात साल में साढ़े छह हजार नौकरियां मिलीं. मौजूदा सरकार में पलायन और बेरोजगारी बढ़ी है. दिल्ली में 300 यूनिट बिजली फ्री क्यों नहीं दी. पांच साल और सरकार रहती तो कांग्रेस की उत्तराखंड में तो पलयान रुक जाती. कांग्रेस ने सबसे सस्ती बिजली दी. हमने उत्तराखंड में बिजली में सक्षम बनाया. राज्य में कांग्रेस सरकार में चार नए मेडिकल कॉलेज को मंजूरी मिली थी. दिल्ली से आकर उत्तराखंड में झूठा वादा कर रहे हैं. कांग्रेस ने सबसे सस्ती बिजली दी है. दिल्ली की आमदनी उत्तराखंड से चार गुना ज्यादा है. हमारी सरकार में 24 घंटे बिजली थी. हमने उत्तराखंड में बिजली को सक्षम बनाया. आप वोट काटने वाली पार्टी है. उन्होंने कहा कि वह छह सर्वे में सबसे लोकप्रिय नेता रहे हैं.

First Published : 14 Oct 2021, 02:23:48 PM

For all the Latest States News, Uttarakhand News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.