News Nation Logo
Banner

'आप' ने सरकार को घेरा, कहा- उत्तराखंड में आउटसोर्सिंग के नाम पर हो रही वसूली

'आप' नेता कर्नल कोठियाल ने एक प्रेस बयान जारी करते हुए प्रदेश में आउटसोर्सिंग के नाम पर हो रही अवैध वसूली पर एक बार फिर राज्य सरकार पर हमला बोला है.

News Nation Bureau | Edited By : Vijay Shankar | Updated on: 10 Sep 2021, 08:59:43 PM
Aam Aadmi Party

Aam Aadmi Party (Photo Credit: File Photo)

highlights

  • कर्नल कोठियाल ने कहा-जनहित के मुद्दों से भाग रही सरकार
  • जाखंन पुल निर्माण में  बिल्कुल गंभीर नहीं है सरकार
  • सरकार को राज्य के विकास से कोई सरोकार नहीं

 

देहरादून:

'आप' नेता कर्नल कोठियाल ने एक प्रेस बयान जारी करते हुए प्रदेश में आउटसोर्सिंग के नाम पर हो रही अवैध वसूली पर एक बार फिर राज्य सरकार पर हमला बोला है. उन्होंने कहा कि प्रदेश में सरकारी विभाग आउटसोर्सिंग के माध्यम से बेरोजगारों से अवैध वसूली करवा रहे हैं. जब उन्हें इस मामले की जानकारी मिली तो ,उन्होंने खुद बाल विकास विभाग में एक आवेदन किया और विभाग द्वारा चयनित आउटसोर्सिंग कंपनी ने अवैध वसूली कर दो दिनों के भीतर ही ज्वाइनिंग लैटर भी दे दिया गया. उन्होंने आगे कहा कि हमने इस बारे में जब सचिवालय पहुंचकर संबंधित अधिकारी से बात की, लेकिन अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की गई. वहीं जो अन्य पीड़ित लोग हैं उन्हें थाने में बुलाकार भी अमानवीय व्यवहार किया जा रहा है और जो मुख्य दोषी कंपनी मालिक है उसपर कोई भी कार्रवाई नहीं की गई लेकिन आप पार्टी इस मामले में चुप नहीं बैठने वाली है और प्रदेश के बेरोजगारों से अवैध वसूली किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं की जाएगी.

यह भी पढ़ें : Dehradun में आम आदमी पार्टी का रोजगार में भ्रष्टाचार पर प्रेस कॉन्फ्रेंस

वहीं रानीपोखरी वैकल्पिक रास्ते के फिर बह जाने उन्होंने कहा है कि उनके द्वारा सरकार को सुझाव दिया था कि सरकार अगर चाहे तो वो (कर्नल कोठियाल) और उनकी टीम 48 घंटे में क्षतिग्रस्त पुल के ऊपर एक वैली ब्रिज तैयार कर सकती है, ताकि वहां से यातायात शुरू हो सके, लेकिन सरकार द्वारा कोई भी जवाब उन्हें अब तक नहीं मिला है. कर्नल ने कहा कि ऐसे ब्रिज उन्होंने 2013 में आई आपदा में केदारघाटी में तैयार किए थे ,जहां बिना मशीनों के सहारे ही लोगों की कड़ी मेहनत से वो पुल तैयार किया गया था जहां से लोगों का आवागमन शुरू हो सका था.

उन्होंने कहा कि काउंटर वे टेक्नीक से ये पुल पुराने पुल के ऊपर बनना चाहिए था ताकि आवागमन हो सके और जब बरसात का पानी कम होता तो उस पुल को हटाकर नीचे रास्ता बनाया जाना चाहिए था, लेकिन निरिक्षण के दौरान उन्होंने पाया कि जो वैकल्पिक मार्ग बना है उसमें हयूम पाईप लगाए गए हैं जबकि पानी की पूर्ण निकासी के लिए प्री फेब्रीकेटिड बॉक्स लगाए जाने चाहिए थे, लेकिन सरकार जानबूझकर इस पर ध्यान नहीं दे रही है और बरसात में ऐसे मार्ग का टिकना बहुत मुश्किल है.

उन्होंने कहा कि बीजेपी सरकार विकास विरोधी सरकार है जिसे राज्य के विकास से कोई सरोकार नहीं है. सरकार का आउटसोर्सिंग प्रकरण और रानीपोखरी पुल पर कोई उचित कदम ना उठाना ये दर्शाता है कि इस सरकार को आम जनता से जुड़ी समस्याओं से कोई मतलब नहीं है. आप पार्टी जनता के साथ मिलकर ऐसी सरकार और लोगों का विरोध करेगी जो जनता के हक पर डाका डालने की कोशिश कर रहे हैं. इसके अलावा उन्होंने कहा प्रदेश में युवाओं के हक पर डाका डालने वाली सरकार और जनहित के मुद्दों पर असंवेदनशील सरकार के खिलाफ आप जल्द ही सड़कों पर उतर कर आंदोलन करेगी ताकि कुंभकर्णी नींद में सोई ये सरकार जाग सके. 

First Published : 10 Sep 2021, 08:59:43 PM

For all the Latest States News, Uttarakhand News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो