News Nation Logo
Banner

भारी तादात में पहुंची भीड़ ने कर्नल कोठियाल को दिया आशीर्वाद- आप

जहां जहां कर्नल कोठियाल निकले उनके पीछे बहुत बडा जनसैलाब चलता नजर आया. इस दौरान कर्नल कोठियाल और आप पार्टी जिंदाबाद के नारों से पूरा इलाका गूंजता नजर आया.

News Nation Bureau | Edited By : Satyam Dubey | Updated on: 30 Dec 2021, 10:10:52 PM
Ajay Kothiyal

Ajay Kothiyal (Photo Credit: File Photo)

नई दिल्ली:  

गंगोत्री विधानसभा दौरे के दूसरे दिन आज आप के सीएम उम्मीदवार कर्नल कोठियाल भटवाडी बाजार पहुंचे जहां उनका आप कार्यकर्ताओं और स्थानीय जनता ने जोरदार स्वागत किया. इस दौरान महिलाओं का बहुत बडा हुजूम उनके स्वागत के लिए जहां खडा था वहीं युवा और स्थानीय जनता भी उनके स्वागत के लिए खडी नजर आई. पूरे बाजार में जहां जहां कर्नल कोठियाल निकले उनके पीछे बहुत बडा जनसैलाब चलता नजर आया. इस दौरान कर्नल कोठियाल और आप पार्टी जिंदाबाद के नारों से पूरा इलाका गूंजता नजर आया.

भटवाडी का पूरा बाजार आप के झंडों और तिरंगों से आज पटा हुआ नजर आ रहा था. हर ओर जनता भटवाडी में कर्नल कोठियाल की झलक पाने को लालायित नजर आई. इसके बाद कर्नन कोठियाल ने एक छत से चढकर सभी लोगों का अभिवादन किया. इस जनसपंर्क के दौरान कई बुजुर्गों ने कर्नल कोठियाल को आशिर्वाद दिया तो युवाओं ने कर्नल कोठियाल को अपना पूरा समर्थन दिया. इससे पहले वो नेताला बाजार,हिना बाजार,मनेरी बाजार और लाटा बाजार में भ्रमण करते हुए लोगों से मिले और जहां कई बुजुर्गों की उन्होंने कुशलक्षेम जानी वहीं आन वाले चुनावों के लिए उनका समर्थन और आशिर्वाद भी मांगा.

इसके बाद कर्नल कोठियाल ने भास्केश्वर महादेव के दर्शन कर उनका आशिर्वाद लिया. इसके बाद भटवाडी में जनसंपर्क करते हुए उनका सैकडों लोगों का काफिला जनसभा स्थल पहुंचा जहां उन्होंने विशाल जनसभा को संबोधित करने से पहले कई लोगों को आज आप पार्टी की विधिवत सदस्यता दिलाई जिसमें युवा,महिलाएं,और अन्य लोग शामिल थे.

इसके बाद उन्होंने जनता को संबोधित किया. सबसे पहले उन्होंने यहां मौजूद जनसैलाब को धन्यवाद किया. उन्होंने कहा कि उनके पिता एक सैनिक थे जिन्होंने राईफलमैन के तौर पर भर्ती होकर आईजी पद से रिटायर हुए. उन्होंने मंच से अपने संबोधन में कहा कि आज तक हम फौज के लिए सैनिकों की भर्ती की ट्रेनिंग दिया करते थे लेकिन अब सरकार बनने पर अधिकारी बनने की ट्रेनिंग शुरु करेंगे. उन्होंने कहा कि पहले यहां से सिर्फ फौजी जाते थे लेकिन अब यहां से अधिकारी भी बडी तादाद में सेना में भर्ती होंगे ताकि वो भी बडे अधिकारी रैंक तक पहुंच सकें.

उन्होंने कहा कि लोकतंत्र की लहर के आगे कोई नहीं टिक पाता. आज पूरे प्रदेश से दोनों पार्टियां बाहर हो रही हैं. उन्होंने कहा कि यह मेरी कर्मभूमि है. यहां मुझे काफी कुछ सीखने का मौका मिला. आपदा के समय भुक्की गांव में 2013 के दौरान जब हम फंसे तो 3 दिनों में उत्तरकाशी पहुंचे जिस दौरान कई लोग यात्रा के दौरान रास्तों में फंस गए. उस समय युवाओं की दस टीमें हमने बनाई और उस दौरान साढे 6 हजार लोगों को हमारी टीमों ने रेस्क्यू किया. इसके बाद इस आपरेशन को देखकर हमें केदारनाथ में आपदा के दौरान काम करने का मौका मिला. साढे सात सौ लोगों को लेकर मैं केदारनाथ पहुंचा.

First Published : 30 Dec 2021, 10:10:52 PM

For all the Latest States News, Uttarakhand News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.