News Nation Logo

योगी ने यूपी में शुरू किया 'टीका जीत का' अभियान

प्रदेश वासियों के लिए इस सबसे बड़े मुफ्त वैक्सीनेशन अभियान की अगुआई खुद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने की. केडी सिंह बाबू स्टेडियम से मुख्यमंत्री ने मंगलवार को कोरोना के खिलाफ टीका जीत का अभियान शुरू किया.

IANS | Updated on: 01 Jun 2021, 09:07:46 PM
CM Yogi Adityanath

योगी ने यूपी में शुरू किया 'टीका जीत का' अभियान (Photo Credit: न्यूज नेशन)

लखनऊ:

कोरोना के खिलाफ योगी सरकार ने मंगलवार को सबसे बड़े वैक्सीनेशन अभियान का आगाज कर दिया. प्रदेश वासियों के लिए इस सबसे बड़े मुफ्त वैक्सीनेशन अभियान की अगुआई खुद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने की. केडी सिंह बाबू स्टेडियम से मुख्यमंत्री ने मंगलवार को कोरोना के खिलाफ टीका जीत का अभियान शुरू किया. 18 से 44 आयु वर्ग के 2100 और 45 साल से ज्यादा आयु वर्ग के लिए 3000 बूथों के साथ यूपी में महाभियान का आगाज किया गया. प्रदेश के अलग अलग जिलों में 200 अभिभावक स्पेशल बूथ शुरू किए गए हैं. मुख्यमंत्री योगी ने जून महीने में 1 करोड़ वैक्सीनेशन का लक्ष्य तय किया है.

वैक्सीनेशन अभियान का शुभारंभ करते हुए मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि देश के प्रत्येक नागरिक को सुरक्षा कवर देने के लिए वैक्सीनेशन कार्यक्रम युद्धस्तर पर चल रहा है. हम सब जानते हैं कि अब तक पूरे देश में 21 करोड़ से अधिक लोगो ने वैक्सीन ले लिया है. हर राज्य को उसकी आवश्यकता अनुरूप भारत सरकार वैक्सीन उपलब्ध करवा रही है.

उन्होंने कहा कि यूपी में अब तक 1 करोड़ 83 लाख से अधिक लोगो को वैक्सीन लग चुकी है. अकेले जून महीने में हमारा लक्ष्य 90 लाख से 1 करोड़ लोगों को वैक्सीन देने का है. आज पहली जून है, 18 से 44 वर्ष आयु के सभी युवाओं को वैक्सीन उपलब्ध करवाने के लिए प्रदेश के सभी 75 जनपदों में एक विशेष अभियान शुरू हुआ है, इसके लिए हमने 2100 बूथ प्रदेश भर में स्थापित किये हैं. 45 वर्ष से ज्यादा आयु वर्ग के लिए 3 हजार बूथ पूरे प्रदेश में संचालित हो रहे हैं.

मुख्यमंत्री ने कहा कि आज से शुरू हुए विशेष अभियान में सभी 75 जनपदों में न्यायिक अधिकारियों और मीडिया के लिए स्पेशल बूथ बनाये गए हैं. 12 वर्ष से छोटे बच्चों के अभिभावकों के लिए भी 200 अभिभावक स्पेशल बूथ बनाये गए हैं. जिससे थर्ड वेव की आशंका है, उससे पहले हम लोग प्रदेश के अंदर 12 वर्ष की छोटी आयु के सभी बच्चों के अभिभावकों को कोरोना से सुरक्षा कवच के रूप में वैक्सीन उपलब्ध करवाया जा सके. ये संख्या आने वाले समय मे बढ़ेगी.

योगी ने कहा कि 15 जून से राज्यकर्मियों और शिक्षकों के लिए भी कुछ स्पेशल बूथ बनाये गए हैं. 15 जून के बाद स्ट्रीट वेंडर्स , दूधिये, सब्जी विक्रेता, या जिनका सीधे आमजन मानस से संवाद होता है, उन सभी लोगों को भी स्पेशल बूथ के माध्यम से वैक्सिनेट करने की तैयारी कर रहे हैं.

उन्होंने कहा कि अब ये वैक्सीनेशन का कार्यक्रम युद्धस्तर पर बढ़ेगा. कोरोना की सेकेंड वेव को प्रभावी ढंग से नियंत्रित करने में हमको सफलता प्राप्त हो रही है. विगत 24 घण्टो में मात्र 1430 कोविड पॉजिटिव के मामले प्रदेश में आये हैं.

प्रदेश के अंदर अब एक्टिव केसेज की संख्या मात्र 32 हजार रह गई है. आज से 61 जनपदों में कोरोना कर्फ्यू में सुबह 7 बजे से शाम 7 बजे तक छूट दी गई है. मेरी प्रदेश की जनता से अपील है कि कोरोना प्रोटोकॉल के लिए जो बिहैवियर तय किया गया है, उसका पालन जरूर करें. मास्क और दो गज की दूरी का पालन करें. हमारी निगरानी समितियां गांव गांव और मोहल्लों में जा रही है. टेस्ट कराने से कोई न भागे. ये सभी टेस्ट और वैक्सीन फ्री में हैं . हम वैक्सीन जरूर लें, यह वैक्सीन कोरोना महामारी में एक सुरक्षा कवच का काम करेगा.

गौरतलब है कि प्रदेश में अब तक वैक्सीन की कुल 1 करोड़ 82 लाख 32 हजार 326 डोज दी जा चुकी हैं. योगी सरकार की योजना जुलाई के पहले सप्ताह तक इसे 3 करोड़ तक पहुंचाने की है. गत 1 मई से शुरू हुए 18 से 44 आयु वर्ग के वैक्सीनेशन अभियान को राज्य सरकार 31 मई तक सभी 18 मंडल मुख्यालयों समेत 23 जिलों में संचालित कर रही थी.

वैक्सीनेशन महाभियान के तहत कम आबादी वाले जिलों के लिए रोजाना कम से कम एक हजार टीकाकरण का लक्ष्य तय किया गया है. बड़े जिलों में एक से दो अतिरिक्त कार्य स्थल पर कोविड वैक्सीनेशन सेंटर (सीवीसी) बनाए जाएंगे. सरकारी कर्मचारियों और फ्रंटलाइन वर्कर्स को वैक्सीनेशन में प्राथमिकता दी जाएगी.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 01 Jun 2021, 09:07:46 PM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.