News Nation Logo
Banner

धान खरीद में अनियमितता पर योगी सरकार बेहद सख्त, इन प्रभारियों पर की ये कार्रवाई

धान खरीद में अनियमितता को लेकर Yogi government का रुख बेहद सख्त है. शासन स्तर पर ऐसी हर शिकायत का संज्ञान लिया जा रहा है और संबंधित के खिलाफ कड़ी कार्रवाई भी की जा रही है.

Written By : रतिश त्रिवेदी | Edited By : Deepak Pandey | Updated on: 22 Oct 2020, 11:50:29 PM
cm yogi

सीएम योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) (Photo Credit: ANI)

नई दिल्‍ली:

धान खरीद (Paddy Purchase) में अनियमितता को लेकर योगी सरकार (Yogi government) का रुख बेहद सख्त है. शासन स्तर पर ऐसी हर शिकायत का संज्ञान लिया जा रहा है और संबंधित के खिलाफ कड़ी कार्रवाई भी की जा रही है. इस क्रम में क्रय केंद्रों के आठ प्रभारियों समेत 10 लोगों के खिलाफ गंभीर धाराओं में एफआईआर दर्ज की जा चुकी है.

बरेली मंडल के पांच केद्र प्रभारियों को निलंबित किया जा चुका है. चार केंद्र प्रभारियों के खिलाफ प्रतिकूल प्रविष्टि, 21 के खिलाफ चेतावनी और 178 के खिलाफ कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है. कुल मिलाकर अब तक 208 लोगों के खिलाफ कार्रवाई की जा चुकी है

जिन क्रय केंद्र के प्रभारियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज हुई है उनमें पीलीभीत के तीन, बरेली, कानपुर नगर, हरदोई के एक-एक, शाहजहांपुर के दो हैं. इसके अलावा हरदोई के एक बिचौलिये और अन्य व्यक्ति के खिलाफ भी एफआईआर दर्ज की गई है. 

मालूम हो कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पहले ही कह चुके हैं कि हर किसान के धान का एमएसपी (न्यूनतम समर्थन मूल्य) पर धान खरीदा जाना चाहिए. इसके लिए संबधित जिले के डीएम जवाबदेह होंगे. इस क्रम में खरीफ के मौजूदा सीजन में अब तक 21 हजार से अधिक किसानों से 1542566 क्विंटल धान की खरीद की जा चुकी है. कृषि विभाग के पोर्टल पर अब तक 477121 किसानों ने अपना पंजीकरण कराया है. इनमें से  293073 का सत्यापन भी हो चुका है.

First Published : 22 Oct 2020, 04:34:24 PM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो