News Nation Logo

दुनिया के सबसे बड़े निःशुल्क टीकाकरण अभियान की सोमवार से होगी शुरुआत

दुनिया के सबसे बड़े निशुल्क टीकाकरण अभियान की शुरुवात सोमवार से होने जा रही है. सर्वाधिक आबादी वाले प्रदेश यूपी में भी इस महाभियान के तहत सभी तैयारियां पूरी करते हुए प्रतिदिन सात लाख टीकाकरण की डोज देने का बड़ा लक्ष्य निर्धारित किया है.

News Nation Bureau | Edited By : Ravindra Singh | Updated on: 20 Jun 2021, 08:00:12 PM
Vaccination Campaign

सांकेतिक चित्र (Photo Credit: फाइल)

लखनऊ:

दुनिया के सबसे बड़े निशुल्क टीकाकरण अभियान की शुरुवात सोमवार से होने जा रही है. सर्वाधिक आबादी वाले प्रदेश यूपी में भी इस महाभियान के तहत सभी तैयारियां पूरी करते हुए प्रतिदिन सात लाख टीकाकरण की डोज देने का बड़ा लक्ष्य निर्धारित किया है. वहीं जुलाई माह में टीकाकरण अभियान को रफ्तार देते हुए सीएम ने आला अधिकारियों को एक जुलाई से प्रतिदिन 12 लाख वैक्सीन की डोज दिए जाने की व्यवस्था को सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं. बता दें कि सूबे के मुखिया सीएम योगी आदित्यनाथ ने शुरू से ही कोरोना महामारी से निपटने में एक मजबूत हथियार के रूप में टीकाकरण अभियान पर विशेष जोर दिया.

इसके तहत सीएम ने मिशन जून टीकाकरण अभियान के जरिए एक माह में प्रदेश में एक करोड़ वैक्सीन की डोज देने का लक्ष्‍य निर्धारित किया गया था. अपने निर्धारित लक्ष्‍य का आधा हिस्‍सा योगी सरकार ने महज 14 दिनों के भीतर हासिल किया. प्रदेश में मिशन जून के तहत निर्धारित लक्ष्य को हासिल करने के लिए प्रदेश में प्रतिदिन चार लाख 50 हजार से अधिक टीकाकरण की डोज दी जा रही थी.

पीएम के निशुल्क टीकाकरण महाभियान से टीकाकरण को मिलेगी गति: सीएम योगी
प्रदेश में 21 जून से कोविड टीकाकरण का नया चरण शुरू किया जा रहा है. प्रधानमंत्री द्वारा 18 वर्ष की आयु से अधिक के सभी नागरिकों के लिए 21 जून से राज्य सरकारों को निःशुल्क टीका उपलब्ध कराया जा रहा है. ऐसे में पीएम के इस निर्णय पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के निशुल्क टीकाकरण महाभियान के निर्णय से प्रदेश में टीकाकरण को गति मिलेगी. सीएम योगी आदित्यनाथ ने आला अधिकारियों को प्रतिदिन 06 लाख से अधिक लोगों को टीका-कवर देने के लक्ष्य के साथ तैयारी करने के निर्देश दिए.  वहीं उन्होंने वैक्सीनेशन सेंटर और वैक्सीनेटर की संख्या को बढ़ाने के निर्देश देते हुए एक जुलाई से प्रतिदिन 10 से 12 लाख लोगों को वैक्सीनेट किए जाने की व्यवस्था को सुनिश्चित करने के आदेश दिए. निश्चित तौर पर  इस निशुल्क टीकाकरण अभियान से योगी सरकार द्वारा तय मिशन जून के निर्धारित लक्ष्य को और भी गति मिलेगी. 

वैक्सीन लगवाने के लिए घर-घर भेजी जाएंगी बुलावा पर्ची, क्विक रिस्पॉन्स टीम रहेंगी एक्टिव
कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए चलाए जा रहे टीकाकरण अभियान को अब और भी रफ्तार मिलेगी. प्रदेश में गांव-गांव जाकर टीमें लोगों को वैक्सीन लगाएंगी और इसके लिए लोगों को बुलावा पर्ची भेजी जाएगी. इस बुलावा पर्ची पर टीकाकरण का स्थान और तारीख लिखी होगी. क्लस्टर में वैक्सिनेशन टीम के पहुंचने से पहले उक्त कल्सटर के लिए बनाई गई कल्सटर मोबिलाइजेशन टीम कम से कम तीन दिनों लोगों में कोरोना टीके से जुड़ी भ्रांतियों को दूर कर उनको जानकारी देने और टीकाकरण कराने के लिए प्रेरित करेंगी. जन जागरूकता के लिए बनी टीम में प्रधान, शिक्षक, आशा व आंगनबाड़ी वर्कर आदि शामिल हैं. प्रत्येक ब्लाक के गांवों को कई क्षेत्रों (कलस्टर) में बांटा जाएगा. कल्सटर में टीकाकरण के दौरान किसी भी तरह की प्रतिकूल घटना के प्रबंधन के लिए दो क्विक रिस्पॉन्स टीमों का गठन किया गया है. जो सभी कल्सटर में एक्टिव रहेंगी.

योगी सरकार ने प्रदेश में बढ़ाई वैक्सिनेशन सेंटर की संख्या
निशुल्क टीकाकरण अभियान के तहत योगी सरकार ने जमीनी स्तर पर मोर्चा संभालते हुए सभी व्यवस्थाओं को सुनिश्चित करते हुए निर्धारित टीकाकरण लक्ष्य को हासिल करने की पूरी तैयारी कर ली है. प्रदेश में वैक्सिनेशन सेंटर और वैक्सिनेटर की संख्या में इजाफा किया गया है. प्रदेश में छह हजार वैक्सिनेशन सेंटर की संख्या को बढ़ाते हुए इसको दस हजार किया गया है. इसके साथ ही प्रदेश में 12 हजार नए नर्सिंग स्टाफ को टीकाकरण अभियान से जोड़ा जाएगा जो लोगों का टीकाकरण करेंगी.सीएम योगी आदित्यनाथ ने  प्रदेश में नर्सिंग अंतिम वर्ष के प्रशिक्षुओं को वैक्सीनेटर के रूप में तैयार करने के आला अधिकारियों को निर्देश दिए हैं. प्रदेश के शहरी क्षेत्रों में हाईब्रिड मॉडल का प्रयोग किया जाएगा. इसके साथ ही वैक्सिनेशन केंद्र पर रजिस्ट्रेशन करवाकर टीकाकरण कराने के लिए लोगों को प्रेरित किया जाएगा. मालिन बस्तियों में कलस्टर अप्रोच  से टीकाकरण किया जाएगा. इसके साथ ही योगी सरकार कार्यस्थल पर और घर के निकट टीकाकरण कराने पर जोर देगी.

यूपी में कोरोना वैक्सीन के लिए कोल्ड स्टोरेज की क्षमता अब तीन गुना
प्रदेश में योगी सरकार ने कोरोना वैक्सीन के लिए कोल्ड स्टोरेज की क्षमता को बढ़ाने पर विशेष जोर दिया जिसका परिणाम है कि आज प्रदेश में कोरोना वैक्सीन के लिए कोल्ड स्टोरेज की क्षमता अब तीन गुना हो गई है. अभी यहां 90 हजार लीटर कोल्ड स्टोरेज क्षमता है, जिसे बढ़ाकर सवा दो लाख लीटर किया गया है. बता दें कि सीएम योगी आदित्यनाथ ने दूसरे प्रदेशों के मुकाबले सबसे पहले कोरोना वैक्सीन के लिए कोल्ड स्टोरेज पर काम किया.  साल 2020 में 12 दिसंबर से पहले ही कोरोना के टीके को रखने और लगाने की व्यवस्था कर ली थी.

युवाओं के टीकाकरण में यूपी आगे
प्रदेश में अब तक दो करोड़ 56 लाख से अधिक वैक्सीन डोज दी जा चुकी है. 40 लाख 23 हजार से अधिक लोगों ने वैक्सीन के दोनों डोज प्राप्त कर ली है. 18-44 आयु वर्ग के युवाओं को 56 लाख 81 हजार 42 टीका लगाया जा चुका है, इनमें भी 01 लाख 47 हजार युवाओं ने वैक्सीन की दोनों डोज ले ली है.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 20 Jun 2021, 07:55:50 PM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो