News Nation Logo
Banner

Lock Dwon COVID-19: अब UP में सस्ती मिलेगी शराब और बीयर, अधिकारियों ने कही ये बात

अब लॉकडाउन की वजह से देश के कई राज्यों में बहुत सी चीजें भी मिलनी बंद हो गई हैं. ऐसे ही कुछ राज्यों में लॉकडाउन की वजह से शराब और बीयर मिलनी भी बंद हो गई है.

News Nation Bureau | Edited By : Ravindra Singh | Updated on: 24 Apr 2020, 11:31:21 PM
Wine

यूपी में सस्ती होगी शराब (Photo Credit: फाइल)

नई दिल्ली:

देश में कोरोनावायरस (Corona Virus) के कोहराम से बचने के लिए सरकार ने लॉक डाउन (Lock Down) लगा दिया है. अब लॉक डाउन (Lock Down) की वजह से देश के कई राज्यों में बहुत सी चीजें भी मिलनी बंद हो गई हैं. ऐसे ही कुछ राज्यों में लॉकडाउन की वजह से शराब और बीयर मिलनी भी बंद हो गई है. इस बीच उत्तर प्रदेश में देशी, अंग्रेजी शराब और बीयर सस्ती दामों पर बिकने की खबरें आ रही हैं. राज्य में ऐसी स्थिति आबकारी विभाग की ओर से लिए गए फैसलों के बाद बनी है. विभाग के प्रमुख संजय आर. भूसरेड्डी ने इस बारे में विस्तृत शासनादेश जारी किया है.

उत्तर प्रदेश में लॉकडाउन की वजह से शराब और बीयर की बिक्री प्रभावित होने और दुकानों के लाइसेंस आवंटन की पहले से तय शर्तों को पूरा नहीं कर पाने की वजह से फुटकर विक्रेताओं की दिक्कतों के निस्तारण के लिए आबकारी विभाग ने यह आदेश जारी किया. आपको बता दें कि लाइसेंस आवंटन से पहले की तय शर्तें कोरोनावायरस (Corona Virus) के आने के बाद लॉकडाउन की वजह से पूरी नहीं हो सकीं थी. इस शासनादेश में यह कहा गया है कि देसी, अंग्रेजी शराब और बीयर की दुकानों पर पूरे प्रदेश में जो बचा हुआ स्टाक है, उसे लॉकडाउन खुलने के सात दिनों के भीतर बेचना होगा. इन सात दिनों के बाद उक्त बचे हुए स्टाक को नष्ट कर दिया जाएगा.

यह भी पढ़ें-Lockdown: परेशान महिलाओं के लिए राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ ने शुरू की हेल्पलाइन सेवा

आपको बता दें कि यूपी में आबकारी विभाग के ऐसे आदेश के बाद हर थोक एवं फुटकर शराब विक्रेता अपने स्टॉक को लॉकडाउन के 7 दिनों के भीतर ही बेच कर खत्म करना चाहेगा. इसके लिए चाहे शराब और बियर के दाम घटाने ही क्यों न पड़े. आपको बता दें कि बार एवं क्लब संचालकों को अपने यहां रखे हुए स्टाक को खपाने के लिए 14 दिनों का समय दिया गया है. ऐसे में इन संचालकों को इस तरह के फैसले लेने पड़ सकते हैं.

यह भी पढ़ें-COVID-19: तबलीगी जमात को लेकर देश के 101 रिटायर्ड अफसरों ने पीएम मोदी को लिखा पत्र

आपको बता दें कि ऐसे शासनादेश के मुताबिक प्रदेश में देसी शराब की दुकानों का जिनके लाइसेंस रिन्यू हो गए हैं और जिनके नहीं हुए हैं कुल 12467 दुकानें हैं और इनमें से लगभग 736830 पेटी देसी शराब का स्टाक बचा हुआ है इस शराब का अनुमानित मूल्य लगभक 215 करोड़ रुपये हैं. इसके अलावा अगर अंग्रेजी शराब और बीयर की फुटकर दुकानों की बात की जाए तो दुकानें और माडल शाप पर लगभग 960036 पेटी अंग्रेजी शराब और बीयर का स्टाक बचा है. शासनादेश में कहा गया है कि लाकडाउन खुलने के 24 घंटे के भीतर थोक और फुटकर विक्रेताओं को अपने पूरे स्टाक की घोषणा करनी होगी. 

First Published : 24 Apr 2020, 10:39:07 PM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.