News Nation Logo
Banner

Lockdown: कालाबाजारी देख भड़के DM और SP, कई कारोबारी पहुंचे हवालात

वाराणसी के जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक प्रभाकर चौधरी ने जनता की शिकायतों की सच्चाई जानने के लिए सोमवार की सुबह आम ग्राहकों की तरह खुद ही किराना और सब्जी की दुकानों पर सामान खरीदने पहुंच गए.

News Nation Bureau | Edited By : Ravindra Singh | Updated on: 31 Mar 2020, 07:05:26 PM
varansi dm sp

वाराणसी डीएम और एसपी (Photo Credit: सोशल मीडिया)

नई दिल्ली:

कोरोनावायरस (Corona Virus) के संक्रमण की वजह से दुनिया भर में त्राहिमाम मच गया है. भारत में केंद्र की  नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) सरकार ने 14 अप्रैल तक के लिए संपूर्ण लॉकडाउन का ऐलान कर दिया है. लॉकडाउन के दौरान दुकानदारों ने ग्राहकों से मनमाने दाम वसूले हैं ऐसा ही एक मामला प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी से भी आया है जहां पर लॉकडाउन के दौरान मुनाफाखोरी और कालाबाजारी जमकर हो रही थी. जनता की शिकायत के बाद वाराणसी के डीएम और एसपी ने इस मामले पर खुद ही मोर्चा संभाला और जनता की शिकायत की जांच करने और सच्चाई जानने के लिए खुद ही किराना और सब्जी की दुकानों पर पहुंच गए.

वाराणसी के जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक प्रभाकर चौधरी ने जनता की शिकायतों की सच्चाई जानने के लिए सोमवार की सुबह आम ग्राहकों की तरह खुद ही किराना और सब्जी की दुकानों पर सामान खरीदने पहुंच गए. दुकानों पर पहुंचकर दोनों ही अधिकारियों ने बारी बारी से कई दुकानों पर सामान के भाव पूछे और जब दुकानदारों ने तय कीमतों से ज्यादा कीमत बताई तो उन्होंने उनसे ये भी कहा कि डीएम साहब ने तो इतने ही दाम निर्धारित किए हैं इस पर कुछ दुकानदारों ने कहा कि तो फिर वहीं से जाकर खरीद लो ना ये सामान.

यह भी पढ़ें-तेलंगाना में कोरोना से 6 की मौत, दिल्ली के जमात के कार्यक्रम में लिया था हिस्सा

दुकानदारों के इस तरह से जवाब के बाद फिर क्या था डीएम और एसपी तुरंत ही एक्शन में आ गए और ऐसे ही 9 दुकानदारों पर तुरंत कार्रवाई करते हुए गिरफ्तार कर जेल भेज दिया. इन दुकानदारों पर कालाबाजारी का केस दर्ज करते हुए इनके खिलाफ तत्काल कार्रवाई भी शुरू कर दी गई. आपको बता दें कि लॉकडाउन के बाद से बाजार में ऐसे दुकानदारों का बोलबाला बढ़ गया है जो कि सामानों का उचित दाम से ज्यादा पैसे लेकर सामान बेच रहे हैं जिसकी वजह से जनता को परेशान होना पड़ रहा है. लॉकडाउन के दौरान बाजार अराजक कारोबारियों के हाथ में चला गया है जो कि आम जनता ही नही प्रशासन के लिए भी कड़ी चुनौती बने हुए हैं.

यह भी पढ़ें-देश में COVID-19 के 1251 मामले, लोगों के छिपाने की वजह से 227 नए मामले आए, अबतक 32 की मौत

वाराणसी में भी ऐसा ही माहौल दिखाई देने के बाद वहां के जिलाधिकारी और एसएसपी ने खुद ही कमान संभाली और खुद ही झोला लेकर कालाबाजारी करने वाले दुकानदारों के यहां जा पहुंचे. वाराणसी में जब कलेक्टर एवं कप्तान हाथों में झोला लेकर ग्राहक बन वहां की दुकानों पर पहुंचे तो किसी को भरोसा ही नही हुआ कि ऐसा भी हो सकता है, जिलाधिकारी और कप्तान ने इस ऑपरेशन के दौरान वाराणसी के 9 मुनाफाखोरों को रंगे हाथ पकड़ा. सभी के विरुद्ध एफआईआर दर्ज कर जेल भेज दिया गया है.

First Published : 31 Mar 2020, 07:05:26 PM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×