News Nation Logo
Banner

उत्तर प्रदेश: गांवों में Coronavirus निपटने के लिए योगी सरकार का ये है मास्टर प्लान, पढ़ें पूरी खबर

ग्राम प्रधानों की भूमिका यहीं नहीं खत्म हो जाती है इसके साथ ही उन्हें इस बात की भी जानकारी खंगालनी होगी कि किसी परिवार में बाहर से आया सदस्य बीमार तो नहीं है या फिर कोविड-19 से पीड़ित तो नहीं है.

News Nation Bureau | Edited By : Ravindra Singh | Updated on: 25 Mar 2020, 07:50:18 PM
Yogi adityanath

योगी आदित्यनाथ (Photo Credit: फाइल)

नई दिल्ली:

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार (Yogi Government) ने कोरोनावायरस (Corona Virus) के खिलाफ जंग छेड़ दी है. योगी सरकार ने कोरोनावायरस (Corona Virus) को मिटाने के लिए नया अभियान चलाया है. योगी सरकार ने गांव-गांव से कोरोना वायरस के मरीजों को खोज निकालने का अभियान छेड़ दिया है. सीएम योगी के इस मास्टर प्लान के मुताबिक उत्तर प्रदेश की ग्राम सभाओं के ग्राम प्रधान सबसे पहले घरो-घरों में जाकर शहरों से आए लोगों के बारे में जानकारी एकत्र करेगे. किस घर में कितने सदस्य दिल्ली, मुंबई, कोलकाता या फिर अन्य कोरोना वायरस से संक्रमित शहरों से लोग आए हैं इस बात की जानकारी एकत्र करेंगे और सरकार को इसकी सूचना देंगे. 

ग्राम प्रधानों की भूमिका यहीं नहीं खत्म हो जाती है इसके साथ ही उन्हें इस बात की भी जानकारी खंगालनी होगी कि किसी परिवार में बाहर से आया सदस्य बीमार तो नहीं है या फिर कोविड-19 से पीड़ित तो नहीं है. अगर किसी परिवार में बाहर से आए हुए सदस्यों में से कोई बीमार है या फिर उसे कोरोना वायरस का संक्रमण है तो इस बात की जानकारी भी ग्राम प्रधान को सरकार तक पहुंचानी होगी.  योगी सरकार के इस अभियान में अभी तक 1000 ग्राम प्रधानों से फोन पर बातचीत हो चुकी है. इसबात चीत के दौरान ग्राम प्रधानों से गांव के बाहर से आने वालों की लिस्ट मांगी गई है साथ ही संदिग्ध रूप से बीमार लोगों की लिस्ट भी सरकार ने मांगी है. 

यह भी पढ़ें-महाराष्ट्र में नहीं थम रहा कोविड-19 का कहर, 5 नए मामले, कुल मरीजों की संख्या पहुंची 112

योगी सरकार ने जारी किया हेल्पलाइन नंबर
प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमित लोगों के लिए योगी सरकार ने मुख्यमंत्री हेल्पलाइन नंबर 1076 जारी किया है. ग्राम प्रधान इस नंबर का उपयोग भी कर रहे हैं. अगर गांव के किसी परिवार में बाहर से आए सदस्यों के बीमार होने की खबर हो या फिर घर में किसी भी सदस्य को कोरोनावायरस के संक्रमण जैसे कोई भी लक्षण दिखाई दे रहें हो तो इसकी शिकायत मुख्यमंत्री हेल्पलाइन 1076 पर भी दर्ज कराई जा सकती है. 

यह भी पढ़ें-कोरोना वायरस पर पीएम मोदी के देश के नाम संबोधन बाद दुकानों पर उमड़ी भीड़

लॉकडाउन के दौरान सख्त रही यूपी पुलिस किए 5592 लोगों के चालान
आपको बता दें कि कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए किए गए लॉकडाउन के बाद से उत्तर प्रदेश में अब तक कुल 1788 एफआईआर धारा 188 के उल्लंघन में दर्ज हो चुकी हैं, जबकि 5592 लोगों का चालान भी किया जा चुका है. उत्तर प्रदेश के कई शहरों में अब तक कुल मिलाकर 6082 बैरियर लगा दिए गए हैं. आपको बता दें कि मंगलवार को पीएम मोदी ने देश के नाम संबोधन के दौरान कोरोनावायरस से निपटने के लिए अगले 21 दिनों तक पूरे देश में संपूर्ण लॉकडाउन का एलान कर दिया था, जिसके बाद से पूरे देश में लॉकडाउन के दौरान नियमों तो तोड़ने वालों पर पुलिस सख्ती से कार्रवाई कर रही है. 

यह भी पढ़ें-Corona Virus: 21 दिन के लॉकडाउन के दौरान बंद रहेंगी ट्रेन सुविधा, रेलवे ने जारी किया नोटिफिकेशन

यूपी में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 38 पहुंची
कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों पर अभी भी लगाम नहीं लग पाई है अब तक यह संख्या 600 तक जा पहुंची है. वहीं अगर उत्तर प्रदेश की बात की जाए तो कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 38 हो गई है. जबकि उत्तर प्रदेश में अभी तक 6 हजार से भी ज्यादा आइसोलेशन के बेड चिन्हित किए गए हैं. उत्तर प्रदेश सरकार ने कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों के लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी हेल्पलाइन नंबर 18001805145 जारी करवाया है. अगर आपको प्रदेश में कहीं भी कोरोना वायरस से संक्रमित कोई व्यक्ति दिखाई देता है तो आप इस पर कॉल करके जानकारी दे सकते हैं. 

First Published : 25 Mar 2020, 07:06:01 PM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×