News Nation Logo
Banner

उत्तर प्रदेशः कोरोना के कहर ने पकड़ी रफ्तार, लखनऊ में 1041 नए संक्रमित

अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि प्रदेश में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस से संक्रमित 3,290 नए मामले सामने आए हैं. प्रदेश में अब तक कुल 6,05,077 लोग कोविड-19 से ठीक होकर डिस्चार्ज हो चुके हैं.

News Nation Bureau | Edited By : Ravindra Singh | Updated on: 03 Apr 2021, 10:38:50 PM
Corona Virus

यूपी में तेजी से पैर पसार रहा कोरोना (Photo Credit: फाइल)

highlights

  • यूपी में बढ़ा कोरोना का कहर
  • 24 घंटे में 3290 नए संक्रमित
  •  लखनऊ में 1041 नए संक्रमित

लखनऊ:

उत्तर प्रदेश में कोरोना का संक्रमण काफी जोर पकड़ रहा है. राज्य में बीते 24 घंटे में 3290 नए संक्रमित सामने आए हैं. इनमें अकेले 1041 संक्रमित तो राजधानी लखनऊ से ही हैं. यूपी में सरकार के लगातार प्रयास के बाद भी नए संक्रमितों की संख्या में तेजी से इजाफा हो रहा है. प्रदेश में शनिवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 3290 कोरोना नए केस सामने आए हैं. संक्रमित लोगों को जिलों में अस्पतालों में भर्ती करने के साथ ही होम क्वारंटीन भी किया जा रहा है. बीते 24 घंटे में लखनऊ में 1041 नए संक्रमित केस सामने आने के बाद से लखनऊ जिला प्रशासन के साथ सीएमओ ऑफिस के कर्मी काफी बेचैन हैं. प्रदेश में आज 14 लोगों की मौत हो गई है, जिनमें छह लखनऊ के हैं. लखनऊ के बाद आज प्रयागराज में 299 तथा वाराणसी में 226 नए केस सामने आए हैं.

अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि प्रदेश में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस से संक्रमित 3,290 नए मामले सामने आए हैं. प्रदेश में अब तक कुल 6,05,077 लोग कोविड-19 से ठीक होकर डिस्चार्ज हो चुके हैं. इसके साथ प्रदेश में शुक्रवार को एक दिन में कुल 1,66,110 सैम्पल की जांच की गई. प्रदेश में अब तक कुल 3,52,36,205 सैम्पल की जांच की गई है. प्रदेश में अब सर्विलांस टीम के माध्यम से 1,89,536 क्षेत्रों में 5,16,834 टीम दिवस के माध्यम से 3,16,80,095 घरों की 15,37,14,820 जनसंख्या का सर्वेक्षण किया गया है.

अपर मुख्य सचिव सूचना नवनीत सहगल ने बताया कि प्रदेश में 5,392 कन्टेनमेंट जोन हैं. प्रदेश के सभी लोगों से अपील है कि कोविड-19 के प्रोटोकॉल का अवश्य पालन करें, जैसे साबुन-पानी से नियमित हाथ धोते रहें, मास्क लगाएं, दो गज की दूरी बनाएं. प्रदेश में कोरोना के संक्रमण के नए मामलों में उछाल आ रहा है, सरकार महामारी के नियंत्रण के लिए पूरी तरह से प्रतिबद्घ है. टेस्टिंग की संख्या बढ़ाई गई हैं. अस्पताल में भी सुविधाएं बढ़ाई गई हैं, जैसा कि कोरोना के पीक के समय में थी.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को अपने सरकारी आवास पर टीम (टीम-11) के साथ कोरोना वायरस संक्रमण को लेकर उच्च स्तरीय बैठक की. बैठक में चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेश कुमार खन्ना के साथ मुख्य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी तथा पुलिस महानिदेशक हितेश चंद्र अवस्थी भी अन्य अधिकारियों के साथ मौजूद रहे. इस दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने निर्देश दिया कि इस दौरान शिक्षकों का स्कूलों में आना अनिवार्य होगा. उन्होंने कहा कि, सभी जिलों में अधिकारी तय करें कि कक्षा 9 से 12 तक की शिक्षा ग्रहण कर रहे बच्चों के स्कूल में आगमन के दौरान स्कूलों में कोविड प्रोटोकल का सख्ती से पालन हो. अगर ऐसा नहीं होता है तो फिर स्कूल के खिलाफ कार्रवाई करने में जरा भी संकोच न करें.

सीएम योगी ने अपने आवास पर समीक्षा बैठक में कहा कि कोरोना वायरस के हर संदिग्ध मामलों में आरटी-पीसीआर जांच अनिवार्य रूप से किया जाए. उन्होंने कहा कि समूहों में संचालित संस्थानों, बालिका संरक्षण गृह, वृद्घाश्रम, अनाथाश्रम आदि में टेस्टिंग प्राथमिकता पर की जाए. सीएम योगी आदित्यनाथ ने शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में निगरानी समितियों को भी पूरी तरह से सक्रिय करने के निर्देश दिए हैं. संक्रमण की निगरानी के लिए मुख्यमंत्री ने हर वार्ड और गांव में निगरानी समिति के गठन के भी निर्देश दिए हैं. उन्होंने कहा कि कोरोना से बचाव के संबंध में लगातार लोगों को जागरूक करने के लिए जागरुकता अभियान चलाया जाए.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 03 Apr 2021, 10:38:50 PM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो