News Nation Logo

उत्तर प्रदेश पंचायत चुनाव: AAP ने जारी की 400 उम्मीदवारों की पहली लिस्ट

आम आदमी पार्टी के उत्तर प्रदेश प्रभारी और राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने शुक्रवार को लखनऊ पार्टी कार्यालय पर आयोजित प्रेस वार्ता में जिला पंचायत सदस्य पद के लिए पार्टी के 400 उम्मीदवारों की पहली लिस्ट जारी की.

News Nation Bureau | Edited By : Deepak Pandey | Updated on: 12 Mar 2021, 08:02:01 PM
sanjay singh

राज्यसभा सांसद संजय सिंह (Photo Credit: फाइल फोटो)

highlights

  • केजरीवाल के दिल्ली मॉडल पर पंचायत चुनाव लड़ेगी आम आदमी पार्टी
  • 3000 प्रचार वैन प्रदेश में घूमकर पार्टी की नीतियों को जनता के बीच बताएंगे
  • अभी और 2600 प्रत्याशियों की सूची जारी होगी 

लखनऊ:

Uttar Pradesh Panchayat Election : आम आदमी पार्टी के उत्तर प्रदेश प्रभारी और राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने शुक्रवार को लखनऊ पार्टी कार्यालय पर आयोजित प्रेस वार्ता में जिला पंचायत सदस्य पद के लिए पार्टी के 400 उम्मीदवारों की पहली लिस्ट जारी की. आम आदमी पार्टी ये पंचायत चुनाव दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के दिल्ली मॉडल पर लड़ेगी. उन्होंने कहा कि किसी भी प्रदेश में अगर ग्राम पंचायतों में अच्छा काम हो तो प्रदेश की सूरत बदल सकती है, इसलिए उत्तर प्रदेश पंचायत चुनाव के लिए हमने लगातार 8 महीने मेहनत करके प्रत्याशियों का चयन किया है. उन्होंने कहा कि जिला पंचायत सदस्य के उम्मीदवारों का प्रदर्शन यह भी तय करेगा कि अगर वह बेहतर हैं तो पार्टी उनको विधानसभा का उम्मीदवार भी बनाने पर विचार करेगी.

संजय सिंह ने बताया कि प्रत्याशियों के चयन में हर वर्ग का ध्यान रखा गया है. जारी लिस्ट में 12 मौजूदा जिला पंचायत सदस्य सहित पिछले चुनाव में दूसरे या तीसरे स्थान पर रहे 54 प्रत्याशियों को जिला पंचायत सदस्य का टिकट दिया गया है. इस सूची में 17 ग्राम प्रधान, 12 व्यापारी, 10 अधिवक्ता, 10 पूर्व ग्राम प्रधान, 8 किसान नेता, 5 महिलाओं, एक मौजूदा ब्लाक प्रमुख, एक क्रिकेटर सहित विधानसभा का चुनाव लड़ चुके चार नेताओं को पार्टी ने प्रत्याशी बनाया है. लोकसभा चुनाव लड़ चुके नेताओं के परिवार के दो लोगों को भी प्रत्याशी बनाया गया है. 

आगे और भी 2600 प्रत्याशियों की सूची जारी करने की बात कहते हुए राज्य सभा सांसद ने योगी आदित्यनाथ की सरकार को  घोटालों और झूठ की सरकार बताया. उन्होंने कहा कि कानून व्यवस्था, शिक्षा, स्वास्थ्य, रोजगार जैसे तमाम मुद्दों पर पूरी तरह से फेल योगी सरकार को हटाकर प्रदेश में वास्तविक ग्राम स्वराज लाने के लिए पार्टी जिला पंचायत की हर सीट पर साफ-सुथरी छवि के ईमानदार प्रत्याशी उतार रही है. 

संजय सिंह ने कहा कि पिछले एक साल से आम आदमी पार्टी ने प्रदेश के ज्वलंत मुद्दों को बखूबी उठाया है और इसमें सफल भी हुई है. चाहे वह प्रदेश सरकार का स्मार्ट मीटर घोटाला हो, जल शक्ति मिशन घोटाला हो, कोरोना काल में ऑक्सीमीटर घोटाला हो, पीपीई किट घोटाला हो, ऐसे तमाम मुद्दों पर पार्टी ने पुरजोर आवाज उठाई है. संजय सिंह ने कहा की योगी सरकार में भ्रष्टाचार और अपराध चरम पर है. 

उन्होंने कहा कि इससे पहले बीते सालों में आठ-आठ पुलिसकर्मी कभी नहीं मारे गए. पूर्व विधायक नृपेंद्र मिश्र जो तीन बार के विधायक थे, उनकी नृशंस हत्या हो गई. हाथरस में बेटी के साथ बलात्कार और हत्या हो गई, छह साल की बच्ची का कलेजा फाड़कर खा लिया गया. यह है यूपी में कानून के राज का हाल. बेटियों के साथ रोज बलात्कार हो रहे हैं. गोरखपुर में ही जो योगी आदित्यनाथ का गृह जनपद है, वहां बेटियों के साथ रात भर बलात्कार हुआ और सरकार अपनी पीठ फर्जीवाड़ा करके थपथपाती है. कभी किसी विद्यार्थी का, नौजवान का फर्जी वीडियो डालकर नौजवानों को गुमराह किया जाता है कि मैंने नौकरियां दे दीं.

संजय सिंह ने आगे कहा कि दुर्गेश चौधरी का विडियो मुख्यमंत्री योगी के आधिकारिक सोशल मीडिया एकाउंट से पोस्ट किया गया कि उन्हें लेखपाल की नौकरी दे दी गई, जबकि उन्हें योगी के कार्यकाल में नौकरी मिली ही नहीं. ऐसा फर्जीवाड़ा करने वाली सरकार उत्तर प्रदेश में अब तक नहीं रही. 1953 ग्राम विकास अधिकारी पद पर अभ्यर्थी चयनित कर लिए गए. उनका मेडिकल टेस्ट भी हो चुका है, लेकिन लगभग 3 साल हो गए उनको आज तक नियुक्ति नहीं दी गई. जब वे अपनी बात उठाते हैं तो योगी की पुलिस उनको लाठियों से पीटती है. सांसद ने कहा कि अगर आप योगी सरकार से कोई प्रश्न करते हैं तो आप के खिलाफ पांच मुकदमा लाद दिया जाता है.

संजय सिंह ने कहा कि आम आदमी पार्टी की 3000 प्रचार वैन पूरे प्रदेश में घूमकर पार्टी की नीतियों को जनता के बीच बताएंगे. उन्होंने कहा कि दिल्ली में केजरीवाल सरकार ने 200 यूनिट बिजली फ्री, पानी फ्री, चिकित्सा फ्री, 50 लाख तक का चिकित्सा बीमा, 10 लाख तक का एजुकेशन लोन देने का काम किया है. उत्तर प्रदेश में भी हम यह मॉडल लागू करेंगे. जिला पंचायत के फंड का समुचित उपयोग धरातल पर पार्टी करेगी. गांव की सड़कें, स्कूल और अनेक विकास कार्यों को पार्टी जमीन पर उतारेगी.

उत्तर प्रदेश पंचायत चुनाव के प्रभारी और दिल्ली सरकार के मंत्री राजेंद्र गौतम ने प्रेसवार्ता में वर्चुअल जुड़कर कहा कि दिल्ली मॉडल को लेकर जनता के बीच जाएंगे और एक-एक घर जाकर दिल्ली के कामों को पहुंचाकर 2022 में आम आदमी पार्टी की सरकार बनाने का सपना पूरा करेंगे, जिससे उत्तर प्रदेश में साफ सुधरी राजनीति की शुरू हो सके.

दिल्ली विधानसभा के मुख्य सचेतक और यूपी में आगामी पंचायत चुनाव में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे दिलीप पांडेय ने सभी प्रत्याशियों को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश की जनता के लिए दिल्ली का केजरीवाल मॉडल बेहद जरूरी है. जिला पंचायत चुनाव मिशन 2022 की शुरुआत है. उन्होंने कहा कि अच्छी शिक्षा, अस्पताल, सड़कें, बिजली, पानी, सड़कें, किसानों का उचित मुआवजा बुनियादी जरूरतों के लिए यूपी जनता को जिला पंचायत से ही शुरू करनी होगी.

आम आदमी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सभाजीत सिंह ने कहा कि पार्टी पूरे दमखम से जिला पंचायत का चुनाव लड़ेगी और विकास के दिल्ली मॉडल को जनता के बीच प्रचारित करेगी. उन्होंने प्रत्याशियों को घर-घर जाकर पार्टी की नीतियों का प्रसार करने को कहा.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 12 Mar 2021, 08:02:01 PM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.