News Nation Logo
Banner

उत्तर प्रदेश : पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने जहरीली शराब से हुई मौतों के चलते योगी सरकार पर साधा निशाना

सरकार की आंखें तब खुल जानी चाहिए थी, जब हरदोई में खाने के पैकेट में बच्चों को शराब दी गई थी

News Nation Bureau | Edited By : Akanksha Tiwari | Updated on: 10 Feb 2019, 01:06:49 PM
(फाइल फोटो)

लखनऊ:

जहरीली शराब से उत्तर प्रदेश (UP) में हो रही मौतों पर समाजवादी पार्टी अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि यह घटना बहुत दुखद है. पहले भी इस तरह की घटना हुई थी तो सरकार को बताया गया था, कि यह घटना आसपास के लोग कर रहे हैं. लेकिन सरकार सोती रही सरकार की आंखें तब खुल जानी चाहिए थी, जब हरदोई में खाने के पैकेट में बच्चों को शराब दी गई थी. उस समय सरकार को जाग जाना चाहिए था. इस मामले में जो भी दोषी हैं उन पर सख्त से सख्त कार्रवाई होनी चाहिए चेतन चौहान जी ने जिस तरीके का बयान दिया है उनको लग रहा होगा कि उन्हीं के लोग इस मामले में फंस रहे इसलिए उन्होंने दूसरों का नाम लिया. उन्होंने कहा इस मामले में जो लोग मारे गए हैं उनके परिवार को 20-20 लाख रुपए दिया जाना चाहिए.

यह भी पढ़ें- बिहार: किशनगंज गैंगरेप मामले में 4 आरोपी गिरफ्तार, 2 अब भी फरार

बता दें कि जहरीली शराब पीने से सहारनपुर, मेरठ और कुशीनगर में मौतों का आंकड़ा 62 पहुंच गया है, सरकारी आंकड़ों की मानें तो कुशीनगर में 08, सहारनपुर में 36, मेरठ में 18 लोगों की जान गई. घटना के बाद सीएम ने प्रदेश भर मैं ज़हरीली शराब बंदी के लिए आबकारी और पुलिस को संयुक्त अभियान का आदेश दिया था. अभियान के तहत अब तक प्रदेश भर में 297 मामले दर्ज किए गए जिसमें 400 से अधिक लोगों को गिरफ्तार किया गया है, और 9300 लीटर अवैध शराब जब्त की गई.

यह भी पढ़ें- मुजफ्फरनगर दंगा : कवाल कांड के 7 दोषियों को आज सुनाई जाएगी सजा

अगर राजधानी लखनऊ की बात करें तो लखनऊ में 38 लोगों को गिरफ्तार कर 1700 लीटर कच्ची शराब बरामद की गई, जबकि हरदोई में 178 और बाराबंकी में 33 लोगों को गिरफ्तार किया गया है.

First Published : 10 Feb 2019, 12:24:06 PM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.