News Nation Logo
Banner

जहरीली शराब से मरने वालों की संख्या पहुंची 97 फिर भी एक दूसरे पर आरोप गढ़ रहे सपा-भाजपा

उन्होंने कहा कि साजिश में समाजवादी पार्टी की भूमिका संदिग्ध है.

News Nation Bureau | Edited By : Yogesh Bhadauriya | Updated on: 10 Feb 2019, 03:45:42 PM
जहरीली शराब से मरने वालों की संख्या 97 हो गई है.

नई दिल्ली:

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जहरीली कच्ची शराब से होने वाली मौतों के पीछे गहरी साजिश की आशंका जताई है. उन्होंने कहा कि इस तरह की घटनाएं पहले भी बाराबंकी, हरदोई, आजमगढ़, कानपुर में हो चुकी हैं, जिसकी जांच में साजिश का मामला सामने आया था. इस बार की घटना भी उसी तरह की है. ऐसे में साजिश करने वाले लोग बख्शे नहीं जाएंगे. उन्होंने कहा कि साजिश में समाजवादी पार्टी की भूमिका संदिग्ध है.

इसके उलट रविवार को पूर्व यूपी सीएम अखिलेश यादव ने योगी सरकार पर इस घटना का जिम्मेदार ठहराया है. अखिलेश यादव ने कहा, दोनों राज्यों यूपी और उत्तराखंड में लोगों की जहरीली शराब से मौत हुई है और दोनों राज्यों में भाजपा सत्ता में है. पूर्व सीएम ने कहा,अगर कोई जिम्मेदार है तो वह भाजपा है. अखिलेश ने भाजपा सरकार से सभी मृतको के परिवारों को बिना किसी भेदभाव के 20-20 लाख रुपये देने की बात भी कहीं.

वहीं गोरखपुर में एनेक्सी भवन का लोकार्पण करने के बाद संवाददाताओं से बातचीत करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश के सभी जिलाधिकारियों को सतर्कता बरतने के साथ-साथ कच्ची शराब बनाने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई के निर्देश दिए गए हैं. बतादें कि हरिद्वार के एक गांव में भोज के दौरान कच्ची शराब परोसी गई थी, जिसमें सहारनपुर, मेरठ, मुजफ्फरनगर के निवासी शामिल हुए थे. उसकी वजह से ही सहारनपुर और अन्य जिलों में मौतें हुईं हैं.

यह भी पढ़ें- मूर्ति मामले पर मायावती ने बीजेपी और मीडिया को दी सलाह, कहा- कटी पतंग ना बनें

मृतक परिवारों के लिए व्यक्त की संवेदना

बीते वर्ष आजमगढ़ में हुई घटना का जिक्र करते हुए मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि उक्त घटना में समाजवादी पार्टी का एक नेता लिप्त पाया गया था. हरदोई में भी सपा का एक प्रत्याशी इसे लेकर गिरफ्तार हुआ था. कानपुर और बाराबंकी में भी सपा के नेता दोषी पाए गए थे. उन्होंने घटना पर दुख जताते हुए कहा कि मृतक परिवारों के प्रति उनकी गहरी संवेदना है. उन्होंने पीडि़त परिवारों को आर्थिक सहायता देने की बात कही.

First Published : 10 Feb 2019, 03:45:34 PM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.