News Nation Logo
Banner

पड़ोसी लड़के से बात करने पर हैवान बने मां-बाप, 11 साल की बेटी की डुबो कर मारा

News Nation Bureau | Edited By : Mohit Sharma | Updated on: 05 Sep 2022, 09:21:54 AM
Meerut Crime News

Meerut Crime News (Photo Credit: सांकेतिक ​तस्वीर)

नई दिल्ली:  

उत्तर प्रदेश के मेरठ से बड़ी खबर सामने आई है. यहां एक दंपति ने अपनी 11 साल की बेटी को केवल इस लिए मौत के घाट उतार दिया क्योंकि वह पड़ोस के ही 12 वर्षीय एक लड़के से बात करती थी. पुलिस ने जानकारी देते हुए बताया कि आरोपी दंपति बेटी के पड़ोसी लड़के के साथ बात करने से काफी नाराज थी. घटना के दिन भी उन्होंने उसको लड़के से बात करते पकड़ लिया, जिसके चलते पहले तो दोनों ने लड़की को खूब डांटा और फिर नहर में डुबो कर उसकी हत्या कर दी. घटना एक सितंबर की बताई जा रही है. फिलहाल पुलिस लड़की की बॉडी को बरामद करने का प्रयास कर रही है. 

पहले लिखाई गुमशुदगी कि रिपाेर्ट

पुलिस के अनुसार दंपति ने पहले पुलिस स्टेशन में अपनी बेटी चंचल की गुमशुदगी कि रिपोर्ट लिखाई थी. पुलिस ने जब जांच के दौरान चंचल के छह वर्षीय भाई आरव कश्यप से पूछताछ की तो दूध का दूध, पानी का पानी हो गया. आरव ने पुलिस को बताया कि उसके माता-पिता घटना के दिन चंचल को पास के ही मार्केट ले गए थे, लेकिन वापसी में वह उनके साथ नहीं थी. घटना का खुलासा होते देख दंपति 40 वर्षीय बबलू कश्यप और 38 वर्षीय रूबी कश्यप सकपका गए, जिसके बाद उन्होंने पुलिस के सामने अपना जुर्म स्वीकार कर लिया. दंपति ने पुलिस को बताया कि उन्होंने सरधना स्थित भोले की झाल के पास नहर में बेटी चंचल को डुबोकर उसकी हत्या कर दी. 

क्या था पूरा मामला

मेरठ के एसपी देहात केशव कुमार ने जानकारी देते हुए बताया कि पुलिस टीम के नहर के पास तैनात किया गया है. हालांकि अभी लड़की को बरामद नहीं किया जा सका है. सीओ सदर देहात पूनम सिरोही के अनुसार एक सितंबर के बबलू कश्यप ने पुलिस को सूचना दी थी कि वह और उसकी पत्नी अपनी बेटी को पास के ही स्थानीय मार्केट में बर्गर खिलाने ले गए थे. लेकिन वहां से चंचल अचानक गायब हो गई. बबलू की तहरीर पर पुलिस ने शिकायत दर्ज कर ली. पुलिस ने जांच के दौरान आसपास लगे सीसीटीवी फुटेज को खंगाला लेकिन चंचल का कहीं कोई पता नहीं चल सका. सीओ ने बताया कि दंपति कर शक होने पर जब पुलिस ने उनसे पूछताछ की तो उन्होंने विरोधाभासी बयान दिए. बाद में उनके बेटे आरव ने पूरी घटना का खुलासा कर दिया. पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ आईपीसी की धारा 302 के तहत केस दर्ज किया है. बबलू ने स्वीकार किया है कि उसको चंचल का पड़ोसी लड़के के साथ खेलना पसंद नहीं था. पुलिस ने बबलू के जेल भेज दिया, जबकि उसकी पत्नी रूबी की तबीयत खराब होने के चलते अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

First Published : 05 Sep 2022, 09:21:54 AM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.