News Nation Logo
Quick Heal चुनाव 2022

उन्नाव रेप केस: आरोपी विधायक कुलदीप सेंगर की आज दिल्ली की तीस हजारी कोर्ट में होगी पेशी

उन्नाव दुष्कर्म मामले के आरोपी कुलदीप सिंह सेंगर को दिल्ली की तीस हजारी अदालत में पेश किया जाएगा.

Dalchand | Edited By : Dalchand Kumar | Updated on: 05 Aug 2019, 07:19:20 AM
कुलदीप सिंह सेंगर

नई दिल्ली:

उन्नाव दुष्कर्म मामले के आरोपी कुलदीप सिंह सेंगर को दिल्ली की तीस हजारी अदालत में पेश किया जाएगा. सेंगर को रविवार को सीबीआई की रिमांड पर सीतापुर जेल से दिल्ली रवाना किया गया था. उच्चतम न्यायालय के आदेश के बाद सीबीआई ने आरोपी विधायक को रिमांड पर लिया है और आज उन्हें दिल्ली की तीस हजारी अदालत में पेश किया जाएगा. बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने पिछले सप्ताह उन्नाव दुष्कर्म मामले से संबंधित सभी मुकदमों को दिल्ली स्थानांतरित करने का आदेश दिया था. सीबीआई ने शनिवार को इस मामले में सेंगर से पूछताछ की थी और रविवार को उसने विधायक के 17 ठिकानों पर तलाशी ली थी. 

यह भी पढ़ें- सोनभद्र नरसंहार: रिपोर्ट के बाद DM और SP पर गिरी गाज, सीएम ने दिया ये आदेश

उधर, रेप के आरोपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर को भारतीय जनता पार्टी से निष्कासित किया जा चुका है. हालांकि सेंगर ने दिल्ली ले जाए जाते वक्त जेल के वाहन के अंदर बैठकर बाहर खड़े संवाददाताओं से खुद को बेकसूर बताया और अपने खिलाफ राजनीतिक साजिश किए जाने का आरोप लगाया. सेंगर ने कहा कि उन्हें भगवान पर भरोसा है और उच्चतम न्यायालय तथा सीबीआई पर भी विश्वास है. सेंगर ने खुद पर लगे आरोपों के बारे में कहा कि इल्जाम लगाना बहुत आसान है, लेकिन सिद्ध करना नहीं. आप मेरे घर जाएं और देखें मैंने किस तरह से समाज के गरीब और कमजोर लोगों की मदद की है.

यह भी पढ़ें- 'दंगल' फिल्म के बाद इस गांव की लड़कियां ले रहीं कुश्ती की ट्रेनिंग, लाना चाहती हैं गोल्ड

गौरतलब है कि सेंगर पर करीब 2 साल पहले उन्नाव की एक लड़की ने बलात्कार का आरोप लगाया था. सेंगर इस मामले में सीतापुर जेल में बंद हैं. इल्जाम लगाने वाली युवती और उसके परिजन की कार को रायबरेली जाते वक्त एक ट्रक ने एक संदिग्ध परिस्थितियों में टक्कर मार दी थी. इस हादसे में युवती की चाची और मौसी की मौत हो गई थी, जबकि वह खुद और उसके वकील महेंद्र गंभीर रूप से घायल हो गए थे. वे दोनों इस वक्त लखनऊ के किंग जॉर्ज चिकित्सा विश्वविद्यालय स्थित ट्रामा सेंटर में मौत से जूझ रहे हैं.

इस मामले में सेंगर समेत 10 नामजद तथा 15-20 अज्ञात लोगों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया था. उच्चतम न्यायालय के प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई की अगुवाई वाली पीठ ने गत 1 अगस्त को इस मामले को दिल्ली की तीस हजारी अदालत में स्थानांतरित करने के आदेश दिए थे.

यह वीडियो देखें- 

First Published : 05 Aug 2019, 07:19:20 AM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.