News Nation Logo

उन्नाव गैंगरेप पीड़िता की हालत बेहद गंभीर, दिल्ली के सफदरगंज अस्पताल लाया गया

उन्नाव गैंगरेप पीड़िता (Unnao Gangrape Victim) की हालत बेहद गंभीर है. उसे बेहतर इलाज के लिए लखनऊ से दिल्ली एयरलिफ्ट किया गया है. लखनऊ ट्रैफिक पुलिस ने सिविल अस्पताल से एयरपोर्ट तक ग्रीन कॉरिडोर बना कर उसे एयरलिफ्ट कराया.

By : Kuldeep Singh | Updated on: 06 Dec 2019, 12:01:32 AM
रेप पीड़िता दिल्ली अस्पताल शिफ्ट

रेप पीड़िता दिल्ली अस्पताल शिफ्ट (Photo Credit: फाइल फोटो)

उन्नाव:

उन्नाव गैंगरेप पीड़िता (Unnao Gangrape Victim) की हालत बेहद गंभीर है. उसे बेहतर इलाज के लिए लखनऊ से दिल्ली एयरलिफ्ट किया गया है. पीड़िता को सफदरगंज अस्पताल लाया गया. जहां पर उसका इलाज किया जाएगा. 

इससे पहले पीड़िता को लखनऊ ट्रैफिक पुलिस ने सिविल अस्पताल से एयरपोर्ट तक ग्रीन कॉरिडोर बनाया गया. ट्रैफिक पुलिस को शाम 6 बजे से ग्रीन कॉरिडोर तैयार करने के आदेश दिए गए थे. 

यह भी पढ़ेंः उन्नाव रेप पीड़िता को जलाने के मामले में अखिलेश ने योगी सरकार से मांगा सामूहिक इस्तीफा

उन्नाव में गैंगरेप की पीड़िता को गुरुवार को आरोपियों ने जिंदा जला दिया. 90 प्रतिशत से ज्यादा जल चुकी पीड़िता की हालत बेहद नाजुक बताई जा रही है. लखनऊ के सिविल अस्पताल (Civil Hospital) के डॉक्टरों की राय के बाद प्रशासन अब उसे दिल्ली के सफदरगंज अस्पताल में भर्ती कराने जा रहा है. बता दें इससे पहले पीड़िता को देखने के लिए गुरुवार को उसकी मां और बहन पुलिस की कड़ी सुरक्षा में सिविल अस्पताल पहुंचीं. लखनऊ के सिविल अस्पताल के निदेशक डॉक्टर डीएस नेगी ने बताया कि पीड़िता की हालत बेहद गंभीर है. उन्होंने बताया कि पीड़िता 90 फीसदी से ज्यादा जली हुई है. उन्होंने बताया कि मुलाकात के दौरान पीड़िता ने कुछ बातचीत भी की. यहां प्लास्टिक सर्जन की देखरेख में पीड़िता का इलाज हो रहा है.

यह भी पढ़ेंः फर्जी निकला फिजोजाबाद गैंग रेप का मामला, प्रेमी के कहने पर रची थी पूरी साजिश 

महिला आयोग ने डीजीपी को लिखा पत्र
उत्तर प्रदेश के उन्नाव के बिहार थाना क्षेत्र में एक रेप पीड़िता को जलाने के मामले में में राष्ट्रीय महिला आयोग ने स्वतःसंज्ञान लेते हुए उत्तर प्रदेश के डीजीपी ओपी सिंह को पत्र लिखा है. राष्ट्रीय महिला आयोग ने पत्र लिख कर मांग की है कि आरोपियों के खिलाफ जल्द से जल्द, सख्त से सख्त कार्रवाई की जाए. इस मामले पर यूपी में राजनीतिक हलकों में भी तेजी देखी जा सकती है. कांग्रेस और सपा ने इस मामले को लेकर योगी सरकार पर निशाना साधा है. कांग्रेस महासचिव प्रियंका वाड्रा गांधी ने कहा है कि सीएम झूठ बोल रहे हैं. वह कह रहे हैं कि उत्तर प्रदेश में सबकुछ शांत है. लेकिन असलियत हर किसी को दिख रही है. वहीं पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने ट्वीट करके योगी सरकार का सामूहिक इस्तीफा मांगा है.

First Published : 05 Dec 2019, 05:08:11 PM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.