News Nation Logo

लखनऊ से विस्फोटक के साथ PFI के दो सदस्य गिरफ्तार

एडीजी ने कहा कि मंगलवार को STF उत्तर प्रदेश की टीम ने 2 लोगों को गिरफ्तार किया है. इनके पास भारी मात्रा में विस्फोटक, हथियार और कुछ दस्तावेज बरामद किए गए हैं. गिरफ्तार किए गए लोगों का संबंध PFI पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया नामक आतंकी संगठन से है.

News Nation Bureau | Edited By : Shailendra Kumar | Updated on: 16 Feb 2021, 10:22:29 PM
Two PFI members arrested with explosives from Lucknow

लखनऊ से विस्फोटक के साथ PFI के दो सदस्य गिरफ्तार (Photo Credit: न्यूज नेशन)

highlights

  • यूपी में बम धमाकों की साजिश नाकाम.
  • विस्फोटक के साथ PFI के दो आतंकी गिरफ्तार.
  • अभियुक्तों के पास भारी मात्रा में विस्फोटक बरामद.

लखनऊ:

उत्तर प्रदेश एसटीएफी (STF) की टीम ने लखनऊ से पीएफआई (PFI) के दो सदस्यों को गिरफ्तार  किया है. उनके पास से भारी मात्रा में विस्फोटक सामान और हथियार भी बरामद किए गए हैं. पुलिस का मानना है कि दोनों आरोपी बड़ी साजिश को अंजाम देने के फिराक में थे. एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार ने प्रेसवार्ता के जरिए दोनों पीएफआई सदस्यों के गिरफ्तारी के बारे में जानकारी दी. एडीजी ने कहा कि मंगलवार को STF उत्तर प्रदेश की टीम ने 2 लोगों को गिरफ्तार किया है. इनके पास भारी मात्रा में विस्फोटक, हथियार और कुछ दस्तावेज बरामद किए गए हैं. गिरफ्तार किए गए लोगों का संबंध PFI पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया नामक आतंकी संगठन से है.

यह भी पढ़ें : जज ने जूनियर अधिकारी महिला को भेजे आपत्तिजनक मैसेज, सुप्रीम कोर्ट खफा

उत्तर प्रदेश एडीजी (कानून व्यवस्था) प्रशांत कुमार ने कहा, पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएफआई) के दो सदस्यों को लखनऊ में विस्फोटकों के साथ गिरफ्तार किया गया. ADG (कानून व्यवस्था) प्रशांत कुमार ने कहा, PFI के जिन 2 लोगों को गिरफ्तार किया गया है, उनकी पहचान अंसद बदरुद्दीन और फिरोज खान के रूप में की गई है, जो केरल के रहने वाले हैं. ADG (कानून व्यवस्था) प्रशांत कुमार ने कहा, अभियुक्तों के पास भारी मात्रा में विस्फोटक, हथियार और कुछ दस्तावेज बरामद किए गए हैं. गिरफ्तार किए गए लोगों का संबंध PFI पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया नामक आतंकी संगठन से है.

यह भी पढ़ें : कोरोना संक्रमण को देखते हुए कर्नाटक सरकार ने जारी किए ये नए नियम

अपर पुलिस महानिदेशक कानून एवं व्यवस्था प्रशांत कुमार ने देर शाम यहां संवाददाताओं को बताया कि उनका इरादा वसंत पंचमी के मौके पर देश के विभिन्न इलाकों में आतंकवादी हमले करने का था. गौरतलब है कि पीएफआई का नाम संशोधित नागरिकता कानून के खिलाफ दिसंबर 2019 में हुए हिंसक प्रदर्शनों के मामले में आया था. सरकार ने इस हिंसा के लिए इस संगठन को जिम्मेदार ठहराया था.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 16 Feb 2021, 09:48:37 PM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो