News Nation Logo
Breaking
पहले बड़े मंगल के मौके पर लखनऊ में बजरंगबली के मंदिरों पर दर्शनार्थियों की भीड़ मैरिटल रेप का मामला SC पहुंचा, याचिकाकर्ता खुशबू सैफी ने दिल्ली HC के फैसले को SC में चुनौती दी मुंबई : कार्तिक चिदंबरम और उनसे जुडे ठिकानों पर सीबीआई की छापेमारी दिल्ली : कुतुबमीनार के कुव्वुतुल इस्लाम मस्जिद मामले की याचिका पर साकेत कोर्ट में सुनवाई टली मथुरा जिला अदालत में एक और याचिका, शाही ईदगाह मस्जिद को सील करने की मांग दाऊद के करीबी और 1993 मुंबई धमाकों के वॉन्टेड आरोपियों को गुजरात ATS ने पकड़ा हरिद्वार हेट स्पीच मामला : जितेंद्र नारायण सिंह त्यागी उर्फ़ वसिम रिज़वी को 3 महीने की अंतरिम जमानत जम्मू : म्यूनिसिपल कॉरपोरेशन में गैर कानूनी लाउडस्पीकर बैन के प्रस्ताव के पारित होने पर हंगामा चिंतन शिविर के बाद हरियाणा कांग्रेस की कोर टीम आज शाम राहुल गांधी से करेगी मुलाकात वाराणसी कोर्ट में आज ज्ञानवापी सर्वे रिपोर्ट पेश नही होगी, तीन दिन का और समय मांगा जाएगा राजस्थान : पुलिस कांस्टेबल भर्ती में 14 मई की द्वितीय पारी की परीक्षा दोबारा ली जाएगी जम्मू कश्मीर : राजौरी इलाके के कई वन क्षेत्रों में भीषण आग, बुझाने में जुटे फायर टेंडर्स
Banner

चलती गाड़ी में मर गया ड्राइवर, महिला होमगार्ड ने ऐसे बचाई 15 लोगों की जान

गाजियाबाद में एक महिला होमगार्ड की बहादुरी का किस्सा पूरे जनपद में चर्चा का विषय बना हुआ है.

हिमांशु शर्मा | Edited By : Dalchand Kumar | Updated on: 13 Sep 2019, 06:54:04 AM
महिला होमगार्ड मंजू उपाध्याय

गाजियाबाद:  

गाजियाबाद में एक महिला होमगार्ड की बहादुरी का किस्सा पूरे जनपद में चर्चा का विषय बना हुआ है. महिला होमगार्ड की सुझबूझ से 15 लोगों की जान बच गई. मंजू उपाध्याय नाम की होमगार्ड गाजियाबाद विकास प्राधिकरण में तैनात है. मंजू उपाध्याय की बहादुरी और सूझबूझ की प्रशंसा उनके महकमे के लोग भी कर रहे हैं.

यह भी पढ़ेंः स्मृति ईरानी ने पान की दुकान से खरीदा चिप्स का पैकेट, दुकानदार को दी ऐसा न करने की नसीहत

दरअसल, 2 दिन पहले गाजियाबाद विकास प्राधिकरण का सचल दस्ता अकबरपुर बहरामपुर में एक अवैध टावर सील पर कार्रवाई करके आ रहा था. इसी दौरान गाड़ी के चालक को दिल का दौरा पड़ गया और चलती गाड़ी में चालक की मौत हो गई. वहीं ड्राइवर सीट के पास बैठी महिला कांस्टेबल मंजू उपाध्याय का ध्यान जब ड्राइवर की तरफ गया और देखा कि गाड़ी की दिशा रास्ते से भटक रही है तो मंजू उपाध्याय ने आनन-फानन में ब्रेक को दबाते हुए स्टेरिंग को काबू किया. जिससे गाड़ी में बैठे सभी लोग चकित रह गए.

यह भी पढ़ेंः Indian Army: सेना में भर्ती होने के लिए मैदान में उतरीं लड़कियां, हर चुनौती को दे रही हैं मात

हालांकि इस दौरान गाड़ी रास्ते पर खड़ी कुछ ठेली पटरी से भी टकरा गई थी. जिस वक्त यह घटना घटी उस वक्त गाड़ी में 15 से 20 लोग मौजूद थे. गाड़ी रुकने के बाद जब लोगों ने देखा कि मंजू की सूझबूझ और बहादुरी की वजह से एक बड़ी घटना बच गई है. घटना के बाद जैसे ही गाड़ी रुकी उसके बाद ड्राइवर को आनन-फानन में अस्पताल भेजा गया. बताया जा रहा है कि ड्राइवर की हृदय गति रुकने के कारण मौत हो चुकी है. लेकिन जो लोग उस वक्त गाड़ी में मौजूद थे, वह सभी लोग मंजू उपाध्याय की बहादुरी और जागरूकता की प्रशंसा करते नहीं थक रहे हैं.

First Published : 12 Sep 2019, 11:43:09 AM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.