News Nation Logo

विकास दुबे एनकाउंटर के बाद कानपुर के SSP को हटाया, सरकार ने 15 IPS अफसरों के तबादले किए

गैंगस्टर विकास दुबे और उसके गुर्गों के साथ मुठभेड़ में 8 पुलिसकर्मियों के मारे जाने और बाद में मुठभेड़ में गैंगस्टर के मारे जाने के पश्चात कानपुर के एसएसपी का तबादला कर दिया गया है.

News Nation Bureau | Edited By : Dalchand Kumar | Updated on: 26 Jul 2020, 03:48:38 PM
Yogi Adityanath

कानपुर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक समेत 15 आईपीएस अधिकारियों के तबादले (Photo Credit: फाइल फोटो)

लखनऊ:

गैंगस्टर विकास दुबे (Vikas Dubey) और उसके गुर्गों के साथ मुठभेड़ में आठ पुलिसकर्मियों के मारे जाने और बाद में मुठभेड़ में गैंगस्टर के मारे जाने के पश्चात उत्तर प्रदेश सरकार ने कानपुर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक दिनेश कुमार पी का तबादला कर दिया है. राज्य सरकार ने शनिवार शाम 15 आईपीएस अधिकारियों के तबादले किये जिसमें कानपुर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक दिनेश कुमार पी भी शामिल हैं, उन्हें झांसी का वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक बनाया गया. अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी ने शनिवार शाम एक बयान में बताया कि अलीगढ़ में पुलिस उप महानिरीक्षक पद पर तैनात डा प्रितिन्दर सिंह को कानपुर (Kanpur) का उप पुलिस महानिरीक्षक/वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक बनाया गया है.

यह भी पढ़ें: राम मंदिर का ‘भूमि पूजन’ वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए हो सकता है : उद्धव ठाकरे

कानपुर के चौबेपुर के बिकरू में दो-तीन जुलाई की दरम्यानी रात को मुठभेड़ में आठ पुलिसकर्मियों की मौत हुई थी। उसके बाद गैंगस्टर विकास दुबे को 10 जुलाई को कानपुर में ही पुलिस ने मुठभेड़ में मार गिराया था. इस घटना के बाद सात जुलाई को वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक दिनेश कुमार पी ने चौबेपुर के सभी 68 पुलिसकर्मियों को वहां से हटा दिया था। उनमें से 45 कांस्टेबल और 10 हेड कांस्टेबल को पुलिस लाइन भेज दिया गया था. इसके अलावा चार अलग अलग थानों के 95 पुलिसकर्मी गैंगस्टर विकास दुबे से संबंधो को लेकर जांच के दायरे में थे जबकि तीन सब इन्सपेक्टर और एक कांस्टेबिल निलंबित चल रहे हैं.

इस मामले की फिलहाल न्यायिक जांच और एसआईटी से जांच चल रही है. इसके अलावा कानपुर पुलिस ने शुक्रवार को कहा कि महीने भर पहले कथित तौर पर फिरौती के लिए अपहृत लैब टेक्नीशियन संजीत यादव:27: की उसके अपहर्ताओं ने हत्या कर दी. इसके बाद शुक्रवार को उत्तर प्रदेश सरकार ने अपर पुलिस अधीक्षक (दक्षिणी कानपुर नगर) अपर्णा गुप्ता एवं तत्कालीन क्षेत्राधिकारी मनोज गुप्ता समेत 11 पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया था. इस मामले में पांच लोगो को गिरफ्तार किया गया था. पुलिस अधीक्षक अमेठी ख्याति गर्ग को अब पुलिस उपायुक्त लखनऊ बनाया गया है, उनके स्थान पर पुलिस उपायुक्त लखनऊ दिनेश सिंह को अब अमेठी जिले की कमान सौंपी गयी है.

यह भी पढ़ें: एक-दो नहीं... इस शहर से 3 हज़ार से ज्यादा कोरोना मरीज़ हो गए गायब! सरकार भी सकते में

अमेठी जिला भी हाल में काफी चर्चा में था क्योंकि वहां की एक महिला ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के लखनऊ स्थित कार्यालय के सामने आग लगा ली थी और 21 जुलाई की देर रात को उसकी अस्पताल में मौत हो गयी थी. महिला और उसकी बेटी ने 17 जुलाई को यह आरोप लगाते हुये खुद को लगायी थी कि अमेठी में उसके जमीन विवाद में पुलिस ने कोई सक्रियता नही दिखायी थी. सफिया:50: और उसकी बेटी को तुरंत श्यामा प्रसाद मुखर्जी सिविल अस्पताल ले जाया गया था. जहां मंगलवार 21 जुलाई की देर रात को उसकी मौत हो गयी थी. इसके अलावा अयोध्या के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आशीष तिवारी का तबादला पुलिस अधीक्षक रेलवे झांसी के पद पर कर दिया गया है.

अयोध्या में पुलिस उप महानिरीक्षक चित्रकूट दीपक कुमार को पुलिस उप महानिरीक्षक/वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के पद पर तैनात किया गया है. पुलिस अधीक्षक खीरी पूनम को हटाकर सेनानायक 15 वीं वाहिनी पीएसी आगरा भेजा गया है जबकि पुलिस अधीक्षक ईओडब्लयू सत्येंद्र कुमार को पुलिस अधीक्षक खीरी बनाया गया है. यशवीर सिंह को पुलिस अधीक्षक जालौन बनाया गया है.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 26 Jul 2020, 03:30:48 PM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो