News Nation Logo

BREAKING

Banner

रामपुर में झलका आजम खान का दर्द, कहा-बता दो मेरी खता क्या है...मुझे इंसाफ दो

उत्तर प्रदेश के रामपुर में चुनावी रैली के दौरान समाजवादी पार्टी (SP) सांसद आजम खान (azam khan) रो पड़े.

By : Nitu Pandey | Updated on: 12 Oct 2019, 05:03:59 PM
आजम खान

आजम खान (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

उत्तर प्रदेश के रामपुर (Rampur) में चुनावी रैली के दौरान समाजवादी पार्टी (SP) सांसद आजम खान (Azam Khan) (azam khan) रो पड़े. एसआईटी (SIT) की जांच झेल रहे आजम खान (Azam Khan) ने लोगों से पूछा, 'मुझे इतना बता दो कि आखिर मेरी खता क्या है?मुझे इंसाफ दो. उन्होंने कहा कि मेरी खता सिर्फ इतनी कि तुम्हारे बच्चों के हाथों में कलम दी. मेरी आवाज को कमजोर मत होने दो, मुझे थकने मत दो.'

आजम खान (Azam Khan) रामपुर (Rampur) विधानसभा उपचुनाव में एसपी प्रत्याशी और अपनी पत्नी तंजीम फातिमा के लिए चुनावी सभा को संबोधित कर रहे थे. इस दौरान उनका दर्द झलका और वो शायरी के अंदाज में अपना दर्द लोगों के सामने बयां किया. आजम ने कहा, 'मुझे इतना बता दो कि आखिर मेरी खता क्या है? सिर्फ इतनी कि तुम्हारे बच्चों के हाथों में कलम दी..मेरी आवाज को कमजोर मत होने दो, मुझे थकने मत दो....आखिर में कब्र का नहीं इस जमीन पर जो करोगे उसका हिसाब होगा.'

इसे भी पढ़ें:क्‍यों पाकिस्‍तान के पीएम इमरान खान के लिए आज की रात है 'कत्‍ल की रात'?

उन्होंने आगे कहा, 'मेरे माथे पर लिखी बदनसीबी को पढ़ने को कोशिश करो. पूरे हिंदुस्तान के लोगों से, बुद्धिजीवियों से, इंसाफ देने वालों से जानना चाहता हूं कि मेरी खता क्या है? मुझे इंसाफ दो.'

आजम ने आगे कहा, 'मेरा गुनाह क्या है? इंसानियत और इंसान के लिए लड़ने वाला एक बेसहारा शख्स जो आज से 45 साल पहले तुम्हारे आंसू पोंछने आया था, जिसने तुम्हारे सूखे हुए जिस्मों में सांसे भरनी चाही थीं, जिसने गुलामी की जंजीरें तोड़नी चाही थीं, उसकी सारी खुशियां छीन ली गईं.'

इसके साथ ही आजम खान (Azam Khan) ने खुद को खुली किताब बताते हुए कहा कि एक ऐसी किताब जिसका एक भी लफ्ज और अक्षर मिटा नहीं है. इस किताब को झुठलाने वालों अपने जमीर से पूछो कि कहां खड़े हो.तुम सरकार के चलाने वालों, शासन और प्रशासन कहने वालों एक बार खुद को सवाल करो.'

बता दें कि आजम खान (Azam Khan) पर 80 से अधिक मामलों में FIR दर्ज हो चुकी है. आजम खान (Azam Khan) अबतक 5 बार एसआईटी के सामने पेश हो चुके हैं.

और पढ़ें:मेहुल चोकसी को लेकर एक और बड़ा खुलासा, PNB के साथ इस बैंक को लगाया 44.1 करोड़ का चूना

21 अक्टूबर को यूपी की 11 सीटों पर उपचुनाव होने हैं. रामपुर (Rampur) शहर की विधानसभा सीट भी इसमें शामिल है जो आजम खान (Azam Khan) के लोकसभा सांसद निर्वाचित होने के बाद खाली हुई है. इस सीट पर उनकी पत्नी तंजीन फातिमा चुनावी मैदान में उतरी हैं. आजम खान (Azam Khan) पूरी कोशिश कर रहे हैं कि उनकी पत्नी इस सीट पर एसपी का झंडा गाड़ें.

First Published : 12 Oct 2019, 05:03:59 PM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो