News Nation Logo
Banner

सपा और कांग्रेस ने की साधुओं की हत्या मामले की गहराई से जांच की मांग

सपा और कांग्रेस ने बुलंदशहर में दो साधुओं की हत्या के मामले की गहराई से जांच की मांग की और इस घटना का राजनीतिकरण नहीं करने की अपील की है.

Bhasha | Edited By : Sunil Mishra | Updated on: 28 Apr 2020, 02:07:34 PM
Murder

सपा और कांग्रेस ने की साधुओं की हत्या मामले की गहराई से जांच की मांग (Photo Credit: File Photo)

लखनऊ:  

सपा और कांग्रेस ने बुलंदशहर में दो साधुओं की हत्या के मामले की गहराई से जांच की मांग की और इस घटना का राजनीतिकरण नहीं करने की अपील की है. सपा अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने मंगलवार को ट्वीट कर कहा, ''बुलंदशहर में मंदिर परिसर में दो साधुओं की नृशंस हत्या अति निंदनीय व दुखद है. इस प्रकार की हत्याओं का राजनीतिकरण न करके, इनके पीछे की हिंसक मनोवृत्ति के मूल कारण या आपराधिक कारण की गहरी तलाश करने की आवश्यकता होती है. इसी आधार पर समय रहते न्यायोचित कार्रवाई करनी चाहिए.’’ इस बीच, कांग्रेस महासचिव और पार्टी की उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा ने भी बुलंदशहर की घटना की निंदा की है.

यह भी पढ़ें: लॉकडाउन के बाद बेरोजगारी से निपटने के लिए योगी सरकार ने की बड़ी तैयारी

उन्होंने ट्वीट कर कहा ,‘‘अप्रैल के पहले 15 दिनों में ही उत्तर प्रदेश में 100 लोगों की हत्या हो गई. तीन दिन पहले एटा में पचौरी परिवार के पांच लोगों के शव संदिग्ध परिस्थितियों में पाए गए. कोई नहीं जानता उनके साथ क्या हुआ. आज बुलंदशहर में एक मंदिर में सो रहे दो साधुओं को बेरहमी से मौत के घाट उतार दिया गया.’’ प्रियंका ने कहा ‘‘...ऐसे जघन्य अपराधों की गहराई से जाँच होनी चाहिए और इस समय किसी को भी इस मामले का राजनीतिकरण नहीं करना चाहिए. निष्पक्ष जाँच करके पूरा सच प्रदेश के समक्ष लाना चाहिए. यह सरकार की ज़िम्मेदारी है.’’

गौरतलब है कि बुलंदशहर के अनूप शहर थाना क्षेत्र स्थित फगौना गांव में मंगलवार तड़के एक शिव मंदिर में जगदीश (50) और शेर सिंह (52) नामक साधुओं की हत्या कर दी गई. बुलंदशहर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार सिंह ने बताया कि गांव का ही रहने वाला मुरारी नामक युवक अक्सर मंदिर आता था. वह नशे का आदी था और करीब दो दिन पहले उसने इन साधुओं का चिमटा चुरा लिया था. इसी बात को लेकर उनका मुरारी के साथ झगड़ा हुआ था.

यह भी पढ़ें: BJP विधायक ने संक्रमण के लिए मेडिकल कालेज को जिम्मेदार ठहराकर पैदा किया विवाद

सिंह ने बताया कि मुरारी ने दोनों साधुओं की डंडे और धारदार हथियार से प्रहार कर हत्या कर दी. पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया है. वरिष्ठ अधिकारी मौके पर पहुंच गए हैं. गांव में स्थिति सामान्य है. इस बीच, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने घटना को गंभीरता से लेते हुए वरिष्ठ अधिकारियों से विस्तृत रिपोर्ट मांगी है. साथ ही आरोपी के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई करने को कहा है.

First Published : 28 Apr 2020, 02:07:34 PM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.