News Nation Logo

अयोध्या में आज भव्य दीपोत्सव, 5 लाख 51 हजार दीयों से जगमगाएगी भगवान राम की नगरी

अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण का कार्य शुरू होने के बाद होने जा रहे पहले दीपोत्सव में सामाजिक सरोकार की छटा बिखरेगी.

News Nation Bureau | Edited By : Dalchand Kumar | Updated on: 13 Nov 2020, 08:07:34 AM
ayodhya deepotsav

अयोध्या के दीपोत्सव में बिखरेगी सामाजिक सरोकार की छटा, CM लेंगे भाग (Photo Credit: फ़ाइल फोटो)

अयोध्या:

अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण का कार्य शुरू होने के बाद होने जा रहे पहले दीपोत्सव में सामाजिक सरोकार की छटा बिखरेगी. उत्तर प्रदेश के इस भव्य दीपोत्सव में इस बार प्रदेश के कलाकारों की प्रस्तुतियों में यूपी की विरासत, संस्कृति, प्रेम और अनेकता में एकता की झलक नजर आएगी. सांस्कृतिक कार्यक्रमों के जरिए न सिर्फ अयोध्यावासी, बल्कि विश्वभर के लोग यूपी की जनतातियों की संस्कृति व विरासत से रूबरू होंगे. सरयू नदी तट को 5.51 लाख दीयों से सजाया जाएगा.

यह भी पढ़ें: श्रीराम के स्वागत में दुल्हन जैसी सज रही अयोध्या, देखें तस्वीर

भगवान राम, देवी सीता और लक्ष्मण के वेश में कलाकार ‘पुष्पक विमान’ से तट पर उतरेंगे तथा राज्यपाल आनंदी बेन पटेल और मुख्यमंत्री उनकी अगवानी करेंगे. हेलीकॉप्टर को फूलों से सजाकर विमान का रूप दिया गया है. यह समारोह शुक्रवार दोपहर को ही प्रारंभ हो जाएगा, जबकि अयोध्या के साकेत कॉलेज से भगवान राम की झांकी पांच किलोमीटर का मार्ग तय कर तट पर पहुंचेगी. उस झांकी में गुरुकुल शिक्षा, राम-सीता विवाह, केवट प्रसंग, राम दरबार, सबरी राम मिलाप और लंका दहन जैसे अद्भुत प्रस्तुतियां होगी.

जब सूर्यास्त पर सरयू नदी में भव्य आरती होगी तब आगामी राममंदिर निर्माण स्थल पर भी 11000 दीये जलाए जाएंगे. यूपी की कला-संस्कृति की झलक को मंच पर प्रस्तुत किया जाएगा. विभिन्न जनपदों के 300 विशेष कलाकारों का दल अपने जनपद की संस्कृति से दर्शकों को रूबरू कराएंगे. झांसी, गाजियाबाद, गोरखपुर, गाजीपुर के कलाकारों के अलावा इस बार सोनभद्र के आदिवासी और थारू जनजाति के कलाकार सभी को मंत्रमुग्ध करेंगे. इस के साथ ही बुंदेलखंड और ब्रज की महिला कलाकार लोकनृत्य की प्रस्तुति देंगी.

यह भी पढ़ें: Exclusive: श्रीकृष्ण जन्मभूमि विवाद इलाहाबाद HC पहुंचा, ईदगाह मस्जिद में पूजा की इजाजत मांगी 

मिशन शक्ति के तहत 200 महिला कलाकार मंच पर परंपरागत परिधानों में रंगारंग प्रस्तुतियों की पेशकश करेंगी. छत्तीसगढ़ की महिला दल द्वारा कौशल्या प्रसंग की प्रस्तुति दी जाएगी. इसके साथ ही रामायाण के 11 प्रसंगों के जरिए महिला कलाकार अहिल्या उद्धार, शबरी समेत अन्य प्रसंग प्रस्तुत करती नजर आएंगी. कवियत्री कविता तिवारी 'राम की कविता' से पूरे वातावरण में राम नाम के जरिए भक्तिभाव का संचार करेंगी.

ऐशबाग रामलीला के 25 बाल कलाकार अयोध्या के मंच पर शबरी प्रसंग की प्रस्तुति देकर सभी का मन मोह लेंगे. इसके साथ ही दो प्रदर्शनियां भी लगाई जाएंगी. पहली प्रदर्शनी 'जन-जन के राम' में 25 मूर्तिकारों की मूर्तियां लगेंगी, वहीं दूसरी ओर रामायण विश्वमहाकोश (इनसाइक्लोपीडिया ऑफ रामायण) से विश्वभर मे व्याप्त श्रीराम से जुड़ी रोचक जानकारियां दी जाएंगी. 

First Published : 13 Nov 2020, 07:47:33 AM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.