News Nation Logo
Banner

शूटर दादी चंद्रो तोमर का निधन, कुछ दिन पहले हो गई थी कोरोना संक्रमित

'शूटर दादी’ के नाम से मशहूर निशानेबाज चंद्रो तोमर (Chandro Tomar) भी अब इस वायरस की चपेट में आ गई हैं. उनका निधन हो गया.

News Nation Bureau | Edited By : Shailendra Kumar | Updated on: 30 Apr 2021, 03:42:50 PM
Chandro Tomar

शूटर दादी चंद्रो तोमर का निधन (Photo Credit: @SatyajeetIN)

highlights

  • शूटर दादी के नाम से विख्यात 89 वर्षीया चंद्रो तोमर का जन्म मुजफ्फरनगर में हुआ था
  • चंद्रो तोमर और प्रकाशी तोमर पर बन चुकी है बॉलीवुड फिल्‍म
  • अभिनेता आमिर खान ने दोनों शूटर दादी को अपने शो सत्‍यमेव जयते में भी बुलाया था

 

मेरठ:

भारत में कोराना वायरस (Covid-19) का कहर बढ़ता ही जा रहा है. 'शूटर दादी’ के नाम से मशहूर निशानेबाज चंद्रो तोमर (Chandro Tomar) भी अब इस वायरस की चपेट में आ गई हैं. उनका निधन हो गया. कुछ दिन पहले कोरोना संक्रमित हो गई थी. शूटर दादी चंद्रो तोमर (Chandro Tomar) 89 साल की थीं. वह उत्‍तर प्रदेश के बागपत में परिवार समेत रहती थीं. जब शूटर दादी चंद्रो तोमर (Chandro Tomar) को कोरोना हुआ था तो उन्होंने ट्विटर के माध्‍यम से कोविड-19 वायरस से संक्रमित होने की बात बताई थी.

यह भी पढ़ें : हरियाणा के इन जिलों में लगा वीकेंड लॉकडाउन, यहां देखें शहरों का नाम

चंद्रो तोमर और प्रकाशी तोमर पर बन चुकी है बॉलीवुड फिल्‍म

बता दें कि बॉलीवुड फिल्‍म सांड की आंख दादी चंद्रो तोमर (Chandro Tomar) और प्रकाशी तोमर की रियल लाइफ स्‍टोरी पर ही आधारित है. अभिनेता आमिर खान ने दोनों शूटर दादी की कहानी से प्रभावित होकर उन्‍हें अपने शो सत्‍यमेव जयते में भी बुलाया था. बागपत में घर के पुरुषों ने उनकी दोनों निशानेबाजी पर आपत्ति जतायी, लेकिन उनके बेटों, बहुओं और पोते- पोतियों ने उनका पूरा साथ दिया. इसके बाद वह घर से निकलकर पास के रेंज में अभ्यास करने के लिए जा सकीं.

यह भी पढ़ें :उत्तराखंड में चल रही थी नकली रेमडेसिविर बनाने की फैक्ट्री, 25 हजार में बेचते थे एक इंजेक्शन

शूटर दादी ने वरिष्ठ नागरिक वर्ग में कई पुरस्कार भी हासिल किये

शूटर दादी ने वरिष्ठ नागरिक वर्ग में कई पुरस्कार भी हासिल किये, जिनमें स्त्री शक्ति सम्मान भी शामिल है जिसे स्वयं राष्ट्रपति ने भेंट किया था. उन्होंने कई राष्ट्रीय प्रतियोगिताएं जीती और उन्हेंं विश्व की सबसे उम्रदराज निशानेबाज माना जाता है. उन्होंने अपनी बहन प्रकाशी तोमर के साथ कई प्रतियोगिताओं में हिस्सा लिया. प्रकाशी भी दुनिया की उम्रदराज महिला निशानेबाजों में शामिल हैं.

चंद्रो तोमर का मुजफ्फरनगर में हुआ था जन्म

फिल्म सांड की आंख के बाद सुर्खियों में आने वाली दादी चंद्रो तोमर का शुक्रवार को कोरोना वायरस संक्रमण के कारण निधन हो गया. शूटर दादी के नाम से विख्यात 89 वर्षीया चंद्रो तोमर का जन्म मुजफ्फरनगर में हुआ था.

 

First Published : 30 Apr 2021, 03:31:37 PM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.