News Nation Logo

BREAKING

Banner

जो अनाज बच्चों के लिए आया उसे बाजारों में बेचा जा रहा था, 29 पर मुकदमा दर्ज

उत्तर प्रदेश के तीन जिलों- रायबरेली, कन्नौज और प्रतापगढ़ में हुए एक बड़े मिड डे मील घोटाला मामले में करीब 29 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है.

By : Yogendra Mishra | Updated on: 19 Sep 2019, 12:53:10 PM
प्रतीकात्मक फोटो।

प्रतीकात्मक फोटो।

highlights

  • रायबरेली, कन्नौज और प्रतापगढ़ में हुए ये घोटाले
  • 29 लोगों पर दर्ज किया गया है मुकदमा
  • चार पर्यवेक्षकों और 17 आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को किया निलंबित

लखनऊ:

भारत का दुनिया में कई मामलों में पिछड़ जाना कोई विदेशी साजिश नहीं है. बल्कि हमारे-आपके जैसे ही लोग हैं. जो अपने कर्तव्यों को सही से नहीं करते. शायद कुछ लोगों के शरीर में खून की जगह भ्रष्टाचार ही बहता है. इसी लिए वह किसी भी सरकारी योजना में भ्रष्टाचार करने से पीछे नहीं हटते हैं. चाहे वह आवास योजना हो या स्वास्थ्य योजना. लेकिन हद तो तब हो गई जब बच्चों के मिड-डे मील में भी घोटाला होने लगा.

यह भी पढ़ें- बेटे के डांस पर चुटकी लेने वालों को कैलाश विजयवर्गीय ने कहा 'चवन्नी छाप'

उत्तर प्रदेश के तीन जिलों- रायबरेली, कन्नौज और प्रतापगढ़ में हुए एक बड़े मिड डे मील घोटाला मामले में करीब 29 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है. आरोपियों पर मिड डे मील के लिए आवंटित अनाज को बाजार में बेचने का आरोप है. रायबरेली में एक निजी व्यापारी के गोदाम में इस योजना के लिए भारी मात्रा में आए खाद्यान्न की बरामदगी के लिए छापेमारी के बाद प्रतापगढ़ के चार पर्यवेक्षकों और 17 आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को निलंबित कर दिया गया.

यह भी पढ़ें- MP शिक्षा बोर्ड की बड़ी गलती, किताब में पूर्व राष्ट्रपति अब्दुल कलाम का निधन 1915 छाप दिया

रायबरेली के सलोन ब्लॉक के गोदाम में लगभग 155 बैग (करीब 9,300 किलोग्राम) अनाज मिला, जिसे पड़ोस के प्रतापगढ़ से लाया गया था. विभागीय जांच के बाद यह खुलासा हुआ कि मिड डे मील के लिए आया यह अनाज प्रतापगढ़ के रामपुर-संग्रामगढ़ और रामपुर खास ब्लॉकों के लिए था, जिसे गैर-कानूनी ढंग से रायबरेली के व्यापारियों के बेच दिया गया.

यह भी पढ़ें- MP में बड़े हाईप्रोफाइल हनीट्रैप कांड का खुलासा, कांग्रेस नेता और उसकी पत्नी समेत 4 गिरफ्तार 

इंटीग्रेटेड चाइल्ड डेवलेपमेंट सर्विसेज (आईसीडीएस) के निर्देशक शत्रुघ्न सिंह के अनुसार, जांच की र्पिोट के आधार पर व्यापारी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है. उन्होंने कहा कि आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराने का आदेश भी जारी कर दिया गया है.

यह भी पढ़ें- 'नायक नहीं खलनायक है तू' गीत पर खूब थिरके कैलाश विजयवर्गीय के बेटे आकाश विजयवर्गीय, देखें VIRAL VIDEO 

सिंह ने कहा कि प्रतापगढ़ जिला कार्यक्रम अधिकारी (डीपीओ) पी के यादव और चाइल्ड डेवलेपमेंट प्रोजेक्ट अधिकारी (सीडीपीओ)प्रभारी के खिलाफ विभागीय जांच शुरू कर दी गई है. इसी तरह मिड डे मील योजना के वितरण में अनियमितता पाए जाने के बाद कन्नौज में चार मुख्य सेविकाओं और एक मुख्य क्लर्क को निलंबित कर दिया गया.

कन्नौज में जिला मजिस्ट्रेट (डीएम) की टीम को मिड डे मील के लिए आवंटित अनाज बड़ी मात्रा में एक ऑटो रिक्शा में मिले थे जिसे कहीं ले जाया जा रहा था. जिलाधिकारी कार्यालय द्वारा रिपोर्ट सौंपने के बाद यह कार्रवाई की गई.

(इनपुट-IANS)

First Published : 19 Sep 2019, 12:53:10 PM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो