News Nation Logo
Banner

संभल में CAA के विरोध में हुई हिंसा मामले में SP सांसद शफीकुर्रहमान बर्क सहित 17 पर दर्ज हुई FIR

न्यूज स्टेट ब्यूरो | Edited By : Vikas Kumar | Updated on: 20 Dec 2019, 11:55:34 AM
संभल में हुई हिंसा मामले में समाजवादी पार्टी नेता सहित 17 पर FIR दर्ज

highlights

  • नागरिकता संशोधन कानून (Citizenship Amendment Act) को लेकर संभल (Sambhal) में 19 दिसंबर को हुई हिंसा के मामले में अब प्रशासन ने एक्शन लिया है. 
  • पुलिस ने इस मामले में समाजवादी पार्टी के नेता सहित कुल 17 लोगों पर एफआईआर दर्ज की है.
  • इस मामले में सपा नेता और सांसद Shafiqur Rahman Barq और फिरोज खान सहित कुल 17 लोगों पर कार्रवाई की गई है.

संभल:  

नागरिकता संशोधन कानून (Citizenship Amendment Act) को लेकर संभल (Sambhal) में 19 दिसंबर को हुई हिंसा के मामले में अब प्रशासन ने एक्शन लिया है. संभल पुलिस ने इस मामले में समाजवादी पार्टी के नेता सहित कुल 17 लोगों पर एफआईआर दर्ज की है. इस मामले में सपा नेता और सांसद Shafiqur Rahman Barq और फिरोज खान सहित कुल 17 लोगों पर कार्रवाई की गई है. बता दें कि 19 दिसंबर को संभल में नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में प्रदर्शन किए गए थे. 

लखनऊ (Lucknow), बनारस (Varanasi) में हुए प्रदर्शन के बाद अब प्रशासन अब एक्शन में आ गई है. अब पुलिस ने इन मामलों में गिरफ्तारियां भी शुरू कर दी गई हैं. इसी क्रम में पुलिस ने वाराणसी जनपद में बीती रात 19 दिसंबर को नागरिकता संशोधन अधिनियम-2019 (CAA)/NRC के विरोध में प्रदर्शन कर जनपद वाराणसी में शान्ति/कानून व्यवस्था बनाये रखने एवं सौहार्दपूर्ण वातावरण को प्रभावित करने वाले अराजकतत्वों के विरुद्ध कार्यवाही करते हुए कुल 73 व्यक्तियों को गिरफ्तार किया गया. जिसमें नगर क्षेत्र में थाना चेतगंज व कैण्ट द्वारा कुल 68 व्यक्तियों एवं ग्रामीण क्षेत्र में थाना बड़ागॉव से 05 व्यक्तियों को गिरफ्तार किया गया.

यह भी पढ़ें: यूपी में नागरिकता संशोधन कानून पर प्रदर्शन के बाद अब प्रशासन एक्शन में, हुई गिरफ्तारियां

कुल गिरफ्तार 73 व्यक्तियों में से 04 व्यक्तियों को जमानत पर रिहा किया गया तथा शेष 69 व्यक्तियों को जेल भेजा गया. अन्य प्रदर्शनकारियों को चिन्हित कर, उनके विरुद्ध वैधानिक कार्यवाही की जा रही है.

अलीगढ़ में है रेड अलर्ट

नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में अलीगढ़ में पिछले कई दिनों से जारी विरोध प्रदर्शन और शुक्रवार को जुमे की नमाज के मद्देनजर रेड अलर्ट जारी कर दिया गया है. एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि जिलाधिकारी चंद्र भूषण सिंह ने जिले में रेड अलर्ट घोषित कर दिया है. जिले में एहतियात के तौर पर 10 कंपनी पीएसी, चार कंपनी रैपिड एक्शन फोर्स और 83 मजिस्ट्रेट तैनात कर दिए गए हैं.

जिले में इंटरनेट पर लगी रोक आज पांचवें दिन भी जारी है. इससे कारोबार और बैंकिंग सेवाएं में खासी प्रभावित हुई हैं. अधिकारियों का कहना है कि आज जुमे की नमाज में लोगों की भीड़ इकट्ठा होने के मद्देनजर कड़ी चौकसी बरती जा रही है.

यह भी पढ़ें: उन्नाव रेप कांड: विधायक कुलदीप सेंगर की सजा पर बहस आज, नाबालिग से रेप केस में पाए गए हैं दोषी 

गौरतलब है कि संशोधित नागरिकता कानून के विरोध में अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में गत रविवार को भड़की हिंसा के बाद शहर के कई इलाकों में विरोध प्रदर्शन हुए थे. जिले में उसके बाद भी कई स्थानों पर छुटपुट प्रदर्शन किए गए.

First Published : 20 Dec 2019, 10:09:01 AM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.