News Nation Logo
Quick Heal चुनाव 2022

यूपी में भी लगी रैपिड टेस्ट पर रोक, ऑर्डर भी किया रद्द

रैपिड टेस्टिंग किट में गड़बड़ी का मामला सामने आने के बाद इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च यानी आईसीएमआर के निर्देश पर इसकी जांच अगले दो दिन तक के लिए रोक दी गई है.

News State | Edited By : Kuldeep Singh | Updated on: 22 Apr 2020, 02:15:01 PM
Corona

कोरोना वायरस (Photo Credit: फाइल फोटो)

लखनऊ:

उत्तर प्रदेश में कोरोनावायरस के हॉटस्पॉट बने क्षेत्रों में लोगों की स्क्रीनिंग करने के लिए किए जा रहे रैपिड एंटीबॉडी टेस्ट पर रोक लगा दी गई है. रैपिड टेस्टिंग किट में गड़बड़ी का मामला सामने आने के बाद इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च यानी आईसीएमआर के निर्देश पर इसकी जांच अगले दो  दिन तक के लिए रोक दी गई है.

यह भी पढ़ेंः नागरिक उड्डयन मंत्रालय में मिला कोरोना पॉजिटिव, पूरा कार्यालय किया गया बंद

रैपिड टेस्टिंग किट के नमूने की जांच रिपोर्ट पर सवाल उठने लगे थे. इससे पहले रैपिड एंटीबॉडी टेस्ट नोएडा में बने हॉटस्पॉट में 100 संदिग्ध लोगों पर किया गया था. सभी की रिपोर्ट नेगेटिव आई थी. वहीं उससे पहले राजस्थान के कोटा से यूपी लौटे करीब साढ़े सात छात्रों की भी स्क्रीनिंग इसी से की जा रही है अभी तक जितने भी टेस्ट हुए हैं उनमें ज्यादातर की रिपोर्ट नेगेटिव आई है.

यह भी पढ़ेंः पालघर मॉब लिंचिंग केस का गुनहगार कौन? पूरी लिस्‍ट आप खुद ही देख लीजिए

केवल गाजीपुर के एक छात्र की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी. इसी के चलते आईसीएमआर ने फैसला लिया है और निर्देश दिया है कि जब तक इस सिस्टम की पूरी जांच नहीं कर लेते तब तक इसके द्वारा किसी की नमूना जांच पूरी तरह से संतुष्टिजनक नहीं हो सकती. इसलिए इसके इस्तेमाल पर रोक लगाई जा रही है. प्रदेश सरकार ने 50 हजार किट का ऑर्डर दिया था लेकिन अब आईसीएमआर के निर्देश के बाद इस ऑर्डर को रद्द कर दिया गया है. अभी तक इनमें से कुछ ही डिलीवरी हो पाई है. इनके इस्तेमाल पर भी रोक लगा दी गई है.

First Published : 22 Apr 2020, 02:15:01 PM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

Related Tags:

Corona Virus Rapid Kit