News Nation Logo
कोविड के खिलाफ लड़ाई में भी भारत और रूस के बीच सहयोग: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भारत में 85 फीसदी पात्र आबादी को कोरोना वैक्सीन की पहली डोज लगा दी गई है: मनसुख मंडाविया दिल्ली में इस साल डेंगू से अब तक 15 मरीजों की मौत बीते 6 साल में डेंगू से मौत का सबसे बड़ा आंकड़ा शाही ईदगाह मस्जिद की जगह पर भव्य श्रीकृष्ण मंदिर के निर्माण के लिए संकल्प यज्ञ किया गया ओमिक्रोन के अलर्ट के बीच पटना में 100 विदेशियों की तलाश भारत ने न्यूजीलैंड को 372 रन से हराकर टेस्ट मैच श्रृंखला 1-0 से जीती टीम इंडिया ने घर में लगातार 14वीं टेस्ट सीरीज जीती न्यूजीलैंड पर 372 रनों से जीत रनों के लिहाज से भारत की टेस्ट मैचों में सबसे बड़ी जीत है उत्तराखंड के चमोली में देवल ब्लॉक के ब्रह्मताल ट्रेक मार्ग पर बर्फबारी हुई रूस के विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव ने भारत के विदेश मंत्री डॉ. एस जयशंकर के साथ नई दिल्ली में बैठक की

कृषि कानून रद्द : प्रियंका का पीएम मोदी पर हमला, कहा- चुनाव में हार के डर से लिया फैसला

प्रियंका गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री के इरादे और उनके

News Nation Bureau | Edited By : Vijay Shankar | Updated on: 19 Nov 2021, 01:38:14 PM
Priyanka Gandhi

Priyanka Gandhi (Photo Credit: File Photo)

highlights

  • कहा- महीनों तक अनदेखा करने को लेकर केंद्र पर हमला किया
  • प्रियंका ने कहा, प्रधानमंत्री ने खुद आंदोलनकारियों को 'आंदोलनजीवी' कहा था
  • कहा- यह देश किसानों का है और किसान ही इस देश का सच्चा कार्यवाहक है

नई दिल्ली:

Farm Bills : कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) ने शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) पर कृषि कानून ( farm laws) रद्द करने को लेकर निशाना साधा. प्रियंका ने कहा कि पीएम मोदी ने चुनाव में हार को देखकर कृषि कानून (Farm law) रद्द करने का फैसला लिया है. कांग्रेस महासचिव ने इस बिल को रद्द करने के लिए महीनों तक अनदेखा करने को लेकर केंद्र सरकार पर हमला किया. उन्होंने एक के बाद एक ट्वीट करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को 600 से अधिक किसानों की शहादत या लखीमपुर खीरी की घटना की परवाह नहीं थी जहां प्रदर्शनकारी किसानों को एक केंद्रीय मंत्री के बेटे की कार से कुचल दिया गया था. उन्होंने आरोप लगाया कि भारतीय जनता पार्टी (BJP) के नेताओं ने किसानों को आतंकवादी, देशद्रोही, गुंडे, बदमाश" कहकर उनका अपमान किया है और कहा कि प्रधानमंत्री ने खुद आंदोलनकारियों को 'आंदोलनजीवी' कहा.

यह भी पढ़ें : अंततः किसानों के आगे झुकी मोदी सरकार, तीनों कृषि कानून लिए वापस

प्रियंका गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री के इरादे और उनके "बदले हुए रवैये" पर भरोसा करना मुश्किल है. प्रियंका ने निशाने साधते हुए कहा कि अब जब चुनाव में हार दिखने लगी है तो अचानक से इस देश की सच्चाई आपको समझ में आने लगी है कि यह देश किसानों से बना है, यह देश किसानों का है और किसान ही इस देश का सच्चा कार्यवाहक है. उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा कि कहा कि कोई भी सरकार किसानों के हितों को कुचलकर देश पर शासन नहीं कर सकती है. प्रियंका गांधी आगामी विधानसभा चुनावों के लिए उत्तर प्रदेश में कांग्रेस के अभियान का नेतृत्व कर रही हैं और उन्होंने किसी भी राजनीतिक दल के साथ चुनाव पूर्व गठबंधन से इनकार किया है. इससे पहले आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने घोषणा की कि केंद्र सरकार तीन विवादास्पद कृषि कानूनों को निरस्त करने का फैसला किया. 

First Published : 19 Nov 2021, 01:38:14 PM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.