News Nation Logo

प्रयागराज में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा पहुंचा 500 के नीचे, 9 की मौत

दौरान संगम नगरी प्रयागराज में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 500 के नीचे पहुंचा. शनिवार को कोरोना के 421 नए संक्रमित मरीज मिले. यहां कोरोना से नौ संक्रमितों की मौत हुई. 1483 मरीज ठीक होने पर डिस्चार्ज किए गए.

Written By : मानवेन्द्र प्रताप सिंह | Edited By : Shailendra Kumar | Updated on: 08 May 2021, 11:01:41 PM
Prayagraj corona infected figures reached below 500

प्रयागराज में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा पहुंचा 500 के नीचे (Photo Credit: न्यूज नेशन)

highlights

  • पूरे देश में कोरोना वायरस का संक्रमण जारी है
  • उत्तर प्रदेश में भी कोरोना से लोग संक्रमित हो रहे है
  • प्रदेश में 10 मई तक लॉकडाउन लगाया गया है

प्रयागराज:

पूरे देश में कोरोना वायरस का संक्रमण जारी है. उत्तर प्रदेश में भी कोरोना से लोग संक्रमित हो रहे है. प्रदेश में 10 मई तक लॉकडाउन लगाया गया है. इस दौरान संगम नगरी प्रयागराज में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 500 के नीचे पहुंचा. शनिवार को कोरोना के 421 नए संक्रमित मरीज मिले. यहां कोरोना से नौ संक्रमितों की मौत हुई. 1483 मरीज ठीक होने पर डिस्चार्ज किए गए. अस्पताल से 65 और होम आइसोलेशन से 1418 लोग डिस्चार्ज. अब तक 59824 लोगों ने होम आइसोलेशन पूरा किया. कुल 10222 लोगों के आज सैंपल लिए गए.

कोरोना से निधन के बाद सभी पार्थिव शरीर की अत्येष्टि निशुल्क कराएगी सरकार

उत्तर प्रदेश सरकार कोरोना वायरस संक्रमण से मौत के बाद अब सभी पार्थिव शरीर की अत्येष्टि नि:शुल्क कराने का फैसला लिया है. सरकार ने आज इसका शासनादेश भी जारी कर दिया गया है. यूपी में कोविड से मृत्यु की दशा में नि:शुल्क अंतिम संस्कार होगा, यह आदेश नगर निगम सीमा में लागू होगा. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कई जिलों में कोरोना वायरस से संक्रमण के कारण किसी की भी मृत्यु के बाद उसके पार्थिव शरीर की अत्येष्टि से लिए बड़ी रकम वसूले जाने के प्रकरण पर टीम 9 के साथ समीक्षा की इसके बाद यह निर्णय लिया है.

अपर मुख्य सचिव मनोज कुमार सिंह ने सभी नगर निगम तथा नगर निकाय को उनका मूल कत्र्तव्य याद दिलाया है. सरकार के इस आदेश के बाद अब नगर निगम की सीमा में आनेवाले सभी शवदाह गृहों, कब्रिस्तान और श्मशानों में अंतिम संस्कार का खर्च नगर निगम उठाएगा. उन्होंने सभी नगर निगम व नगर निकाय को पत्र जारी करके निर्देश दिया है कि कोविड-19 के संक्रमण के कारण किसी की भी मृत्यु की दशा में नगरीय निकाय की सीमा के अंतर्गत सभी पार्थिव शरीर की नि:शुल्क अंतिम संस्कार कराने की व्यवस्था करें. इसके साथ ही इस प्रक्रिया में कोविड प्रोटोकॉल का भी पालन करना अनिवार्य है.

इस प्रक्रिया में होने वाला व्यय नगरीय निकाय अपने स्रोतों से या फिर राज्य वित्त आयोग से उपलब्ध कराई गई धनराशि से होगा. एक पार्थिव शरीर की अंत्येष्टि में अधिक से अधिक पांच हजार रुपया की धनराशि ही व्यय की जाएगी.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 08 May 2021, 11:01:41 PM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.