News Nation Logo

BREAKING

पीलीभीतः SHO श्रीकांत ने बंदर के जुएं बीनने पर दी सफाई, कहा- अगर बंदर को भगाता तो मेरे साथ ये करता

पीलीभीत में बंदर के जुएं बीनने पर एसएचओ श्रीकांत द्विवेदी ने सफाई दी है.

By : Deepak Pandey | Updated on: 09 Oct 2019, 08:30:38 PM
एसएचओ श्रीकांत द्विवेदी सिर पर बैठा बंदर

एसएचओ श्रीकांत द्विवेदी सिर पर बैठा बंदर (Photo Credit: (फाइल फोटो))

नई दिल्ली:

पीलीभीत में इन दिनों बंदरों ने आतंक मचा रखा है. मंगलवार को ऐसा ही एक आतंक देखने को मिला. सुबह एक बंदर कोतवाली में घुस आया. इससे पहले कि लोग कुछ समझ पाते बंदर कोतवाल के सिर पर चढ़कर बैठ गया. पीलीभीत में बंदर के जुएं बीनने पर एसएचओ श्रीकांत द्विवेदी ने सफाई दी है. उन्होंने कहा कि अगर मैं बंदर को भगाता तो मुझे काट लेता.

यह भी पढ़ेंःसलमान खुर्शीद के बाद ज्योतिरादित्य सिंधिया भी बोले, कांग्रेस को आत्म अवलोकन की जरूरत है

SHO श्रीकांत द्विवेदी ने कहा, दोपहर में अचानक बंदर पुलिस स्टेशन आया. बंदर ने पहले एक महिला कांस्टेबल के पैर को पकड़ा. जब वह चिल्लाई और दौड़ी तो उसे थोड़ी सी चोट लग गई थी. फिर बंदर मेरी मेज पर चला आया. मैं काम कर रहा था. उन्होंने आगे कहा, अगर बंदर भगाया या खुद भागता को बंदर उसे काट लेता.

बता दें कि पीलीभीत में इन दिनों बंदरों ने आतंक मचा रखा है. मामला पीलीभीत के सदर कोतवाली का है. जहां सुबह से ही बंदर उत्पात मचा रहे थे. कोतवाल श्रीकांत द्विवेदी अपने ऑफिस में काम कर रहे थे. तभी बंदर ऑफिस में घुस गया और उनके सिर पर जाकर बैठ गया. कोतवाल के सिर पर बंदर बैठने से पूरे परिसर में हड़कंप मच गया. किसी की भी हिम्मत नहीं हुई कि वह कोतवाल के सिर से बंदर हटाने की कोशिश करे.

यह भी पढ़ेंःपुष्पेंद्र यादव एनकाउंटर मामले में तेज बहादुर यादव गिरफ्तार, पीएम मोदी के खिलाफ ठोकी थी ताल

लगभग 20 मिनट तक बंदर कोतवाल के सिर पर बैठकर जुएं खोजता रहा. इस दौरान कोतवाल बार-बार बंदर को सिर से उतरने के लिए कहते रहे. करीब 20 मिनट बाद बंदर अपने आप कोतवाल के सिर से उतर कर परिसर में लगे पेड़ पर चढ़ गया. बंदर के कोतवाल के सिर से उतरने के बाद वहां मौजूद स्टाफ की जान में जान आई.

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

First Published : 09 Oct 2019, 08:28:43 PM