News Nation Logo

'या तो गांव छोड़ो या इस्लाम छोड़ो', कांवड़ यात्रा पर गए मुस्लिम युवक की पिटाई कर बदमाशों ने कही यह बात

News Nation Bureau | Edited By : Yogendra Mishra | Updated on: 03 Aug 2019, 12:12:14 PM
प्रतीकात्मक फोटो।

highlights

  • अपने दोस्तों के साथ हरिद्वार से भर कर लाया था जल
  • वीडियो बनाकर लगाया था बोल बम का नारा
  • लोगों ने पिटाई करते हुए कहा कि ये इस्लाम के खिलाफ

बागपत:  

बागपत के बड़ौत में कांवड़ को लेकर मुस्लिमों के दो पक्ष में विवाद का मामला सामने आया है. बड़ौत के रहने वाले एक मुस्लिम युवक इरशाद ने आरोप लगाया कि उसके समुदाय के लोगों ने उसे बुरी तरह से मारा-पीटा है. इसका कारण जानकर हर कोई हैरान हो गया. इरशाद ने बताया कि वह कांवड़ यात्रा में हरिद्वार गया था.

यह भी पढ़ें- सेंगर के मुलाकातियों ने दी पुलिस को रिश्वत, VIDEO वायरल, जांच के आदेश

जहां से वह गंगाजल लेकर अपने घर लौट रहा था. यह देख कर मुस्लिम समुदाय के कुछ लोगों ने आपत्ति जताई. विवाद इस कर बढ़ गया कि लोगों ने यह कहना शुरु कर दिया कि वह धर्म के खिालफ जा रहा है. जिसके बाद लोगों ने उसे पीट दिया.

यह भी पढ़ें- उन्नाव केस में News State की खबर का बड़ा असर, कुलदीप सेंगर के सभी हथियारों के लाइसेंस निरस्त

बागपत में एक मुस्लिम युवक की शिवभक्ति उस पर भारी पड़ गई. युवक हरिद्वार से भोले की ड्रेस में कावड़िया बन कर गंगाजल लाया था. जो उसके समुदाय के लोगों को नागवार गुजरा. युवक का आरोप है कि पड़ोस का एक युवक उसके घर आया और उसकी पिटाई करनी शुरू कर दी.

यह भी पढ़ें- पति ने WhatsApp पर भेजा तलाकनामा, फरियाद लेकर पहुंची पीड़िता को पुलिसवालों ने भी थाने से भगाया 

यहाँ तक कि उसे तमंचा दिखाते हुए जान से मारने की धमकी दी और मुस्लिम धर्म छोड़ने का दबाव बनाया. जिसके बाद मुस्लिम युवक हिन्दू संगठन से जुड़े लोगों को लेकर थाने पहुँचा और इसकी शिकायत पुलिस से की. दरअसल मामला कोतवाली बड़ौत इलाके के बड़का गाँव का है जहाँ इरशाद नाम का एक युवक अपने हिन्दू दोस्तों के साथ हरिद्वार कांवड़ लाने गया था.

यह भी पढ़ें- Hariyali Teej की पूर्व संध्या पर बीजेपी सांसद हेमा मालिनी ने नृत्य कर बांधा समां, देखें VIDEO 

जहाँ उसने भी ख़ुद को कावड़िया रंग में रंग लिया. उसने वहां वीडियो भी बनाया जिसमे उसने बम बम भोले की जयकारे लागये. इसके बाद सभी कावड़ियों के साथ इरशाद गंगाजल लेकर शिवरात्रि के दिन 30 जुलाई को वापस गाँव आया. लेकिन उसी के गाँव के रहने वाले उसके पड़ोसी जाहिद को यह पसन्द नहीं आया और उसने इरशाद के घर पर जाकर उसके साथ मारपीट की.

जब इरशाद ने शिव में आस्था जताने की बात कही तो जाहिद ने उसे जान से मारने की बात कहते हुए धमकी दी कि या तो वो ये गाँव छोड़ दे या फिर इस्लाम छोड़ दे. इरशाद का कहना है कि वह जान बचाकर कोतवाली पहुँचा जिसके बाद जानकरी लगते ही हिन्दू संगठन के लोग भी कोतवाली पहुँच गए. युवक की शिकायत दर्ज कराई और और युवक इरशाद ने पुलिस से इसकी लिखित शिकायत की है.

First Published : 03 Aug 2019, 12:03:26 PM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.