logo-image
लोकसभा चुनाव

Mukhtar Ansari Death: मुख्तार अंसारी की दिल का दौरा पड़ने से मौत, बांदा में सुरक्षा बढ़ाई गई

Mukhtar Ansari Death: उत्तर प्रदेश के माफिया मुख्तार अंसारी का दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया है...उसको नाजुक हालात में बांदा के मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया था.

Updated on: 28 Mar 2024, 10:44 PM

New Delhi:

Mukhtar Ansari Death:  उत्तर प्रदेश की बांदा जेल में बंद मुख्तार अंसारी ( Gangster-turned-politician Mukhtar Ansari ) का निधन हो गया है. आज यानी गुरुवार को तबीयत बिगड़ने के बाद उसको दुर्गावती मेडिकल कॉलेज लाया गया था, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई. जानकारी के अनुसार माफिया मुख्तार अंसारी जेल में अचानक बेहोश होकर नीचे गिर गया था. बताया जा रहा है, उसको दिल का दौरा पड़ा था. मेडिकल कॉलेज में 9 डॉक्टरों की एक टीम उसके इलाज में जुटी थी. इस बीच बांदा, मऊ और गाजीपुर जिलें में सुरक्षा बढ़ा दी गई है. मेडिकल कॉलेज के बाहर भी पीएसी को तैनात किया गया है. बड़ी संख्या में पैरा मिलिट्री फोर्स की तैनाती की गई है. पुलिस महानिदेशक मुख्यालय ने सतर्कता बरतने के निर्देश दिए हैं. 

मौके पर डीएम और एसएसपी मौजूद

मुख्तार का परिवार भी बांदा के लिए लखनऊ से चल चुका है. हालात बिगड़ने न पाए, इसके लिए जिले भर की पुलिस फोर्स को अलर्ट कर दिया गया है. जेल के भीतर भी पुलिस फोर्स तैनात है. देर रात तक डीएम और एसपी भी मेडिकल कॉलेज में मौजूद रहे और मुख्तार की पल-पल की खबर लेते रहे. मुख्तार को दो दिन पहले भी अस्पताल में भर्ती कराया गया था. मुख्तार पूरे 14 घंटे अस्पताल में रहा था. देर शाम फिर उसे जेल भेज दिया गया था. बुधवार को जेल में उसके स्वास्थ्य का परीक्षण किया गया था, जिसमें सब सामान्य मिला था. गुरुवार शाम एंबुलेंस से उसे जेल से मेडिकल काॅलेज ले जाया गया. डीएम-एसपी वहां मौजूद हैं, लेकिन कुछ भी बता नहीं रहे हैं.

भाई अफजाल और परिवार ने लगाए थे गंभीर आरोप

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि मुख्तार अंसारी और उनके परिवार ने बांदा जेल प्रशासन पर कई गंभीर आरोप लगाए थे. मुख्तार के भाई सांसद अफजाल अंसारी ने कहा था कि जेल में उनके भाई को खाने में जहर दिया जा रहा है. हालांकि जेल प्रशासन ने अफजाल और उसके परिवार के इन आरोपों के सिरे से खारिज कर दिया था. मऊ से कई बार विधायक रह चुके मुख्तार अंसारी को कई मामलों में सजा सुनाई जा चुकी थी और इस समय समय में वो बांदा जेल में बंद थे. मुख्तार अंसारी पर राजधानी दिल्ली, उत्तर प्रदेश और पंजाब समेत कई राज्यों में 60 से ज्यादा मामले दर्ज हैं.