News Nation Logo

मायावती बोलीं- केंद्र-राज्य सरकार कोरोना पीड़ितों के लिए ऐसे करे प्रयास

बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती (Mayawati) ने कोरोना पीड़ितों (Corona Patient) के लिए केंद्र और राज्य की सरकार द्वारा किए जा रहे प्रयासों को जमीनी हकीकत में भी समय से लागू करने की मांग उठाई है.

IANS | Edited By : Deepak Pandey | Updated on: 26 Apr 2021, 04:21:56 PM
mayawati

बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती (Mayawati) (Photo Credit: फाइल फोटो)

लखनऊ:

बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती (Mayawati) ने कोरोना पीड़ितों (Corona Patient) के लिए केंद्र और राज्य की सरकार द्वारा किए जा रहे प्रयासों को जमीनी हकीकत में भी समय से लागू करने की मांग उठाई है. मायावती ने सोमवार को ट्वीटर के माध्यम से लिखा कि केन्द्र व यूपी सरकार ने कोरोना पीड़ितों के इलाज के लिए तथा आक्सीजन व दवाई आदि की कमी को दूर करने के लिए जो भी जरूरी कदम उठाए हैं यह अच्छी बात है, लेकिन वे सब जमीनी हकीकत में भी समय से लागू होने चाहिये, बीएसपी की यह मांग है.

उत्तर प्रदेश की पूर्व मायावती आगे लिखा कि पूरे देश में बीएसपी के लोगों से भी अपील है कि वे अपने आसपड़ोस में कोरोना पीड़ितों की अपने सामर्थ के हिसाब से उनकी हर स्तर पर इंसानियत के नाते इनकी मदद जरूर करें, लेकिन मदद के दौरान वे कोरोना नियमों का भी सख्ती से अनुपालन अवश्य करें. इसके पहले उन्होंने लिखा था कि देश के विभिन्न राज्यों व राजधानी दिल्ली के बड़े अस्पतालों में भी आक्सीजन की कमी के मद्देनजर केंद्र आक्सीजन के औद्योगिक-कमर्शियल प्रयोग को रोककर इसकी सप्लाई अस्पतालों को सुनिश्चित करे. इमरजेंसी दवाओं आदि की आपूर्ति की ओर भी विशेष ध्यान देने की केन्द्र से मांग. 

BSP प्रमुख मायावती का बड़ा बयान, यूपी में अकेले चुनाव लड़ेगी पार्टी

आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश का विधानसभा का चुनाव 2022 में होने हैं. इसे लेकर उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने कहा था कि बहुजन समाज पार्टी आने वाले चुनाव में किसी भी पार्टी के साथ गठबंधन नहीं करेगी और अकेले ही चुनाव लड़ेगी. इसके अलावा उन्होंने गरीबों, किसानों और महंगाई जैसे बड़े मुद्दों पर भी अपनी बात रखी.

आप बताते चलें कि उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2017 में मायावती की बहुजन समाज पार्टी अपनी प्रतिद्वंद्वी पार्टी समाजवादी पार्टी के साथ गठबंधन कर बीजेपी के खिलाफ चुनाव लड़ा था, जिसमें उन्हें करारी हार का सामना करना पड़ा था. बीते चुनाव के नतीजों को देखते हुए मायावती इस बार किसी भी पार्टी के साथ गठबंधन करने के मूड में नहीं हैं. लिहाजा, उन्होंने कहा कि वे यूपी समेत चारों राज्यों में अपने दम पर ही चुनाव लड़ेंगे.
---------

First Published : 26 Apr 2021, 04:21:56 PM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.