News Nation Logo

बीजेपी में शामिल होना मुस्लिम महिला को पड़ा महंगा, मकान मालिक ने घर से निकाला

अलीगढ़ में एक मुस्लिम महिला ने भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता क्या ग्रहण की मकान मालिक ने उसे दूसरा घर देखने के लिए कह दिया.

News Nation Bureau | Edited By : Nihar Saxena | Updated on: 08 Jul 2019, 08:42:38 AM
गुलिस्तां (लाल घेरे में) ने शनिवार को ही बीजेपी ज्वाइन की है.

highlights

  • अलीगढ़ में गुलिस्तां ने बीजेपी ज्वाइन की, जिस पर मकान मालिक ने घर छोड़ने का कहा.
  • पुलिस के मुताबिक बकाये बिजली बिल से शुरू विवाद बाद में बन गया राजनीतिक.
  • शिकायत के आधार पर मकान मालिक और उसका बेटा गिरफ्तार.

नई दिल्ली.:

देश में असहिष्णुता बढ़ने की कथित खबरों के बीच एक खबर उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ से आ रही है. यहां एक मुस्लिम महिला ने भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता क्या ग्रहण की मकान मालिक ने उसे दूसरा घर देखने के लिए कह दिया. मकान मालिक किरायेदार का विवाद इसके बाद पुलिस की चौखट तक जा पहुंचा. नतीजतन पुलिस ने प्रारंभिक छानबीन के आधार पर मकान मालिक और उसके बेटे को गिरफ्तार किया है. पुलिस का यह भी कहना है बकाये बिजली के बिल को लेकर शुरू हुए विवाद ने बाद में राजनीतिक रंग ले लिया.

यह भी पढ़ेंः आगरा में यमुना एक्सप्रेसवे पर बड़ा हादसा, 29 लोगों की मौत की पुष्टि, 15 घायल

मकान मालिक ने बीजेपी में शामिल होने पर कसे तंज
एक न्यूज एजेंसी के मुताबिक अलीगढ़ के शाहजमाल एडीए कॉलोनी में गुलिस्तां अपने परिवार के साथ रहती हैं. शनिवार को उन्होंने बीजेपी की सदस्यता ग्रहण की, जिसके फोटो शहर के अखबारों में प्रकाशित हुए. अखबारों में गुलिस्तां की छपी फोटो देखकर मकान मालिक और उसके बेटे ने गुलिस्तां को अनाप-शनाप बोला और घर से निकाल देने की बात कही. चूंकि गुलिस्तां ने बीजेपी ज्वाइन कर ली थी, तो खबर लगते ही भाजपा के नेता और कार्यकर्ता जुट गए औऱ मामला घर की दहलीज लांघ कर पुलिस थाने तक जा पहुंचा.

यह भी पढ़ेंः Karnataka Crisis: डगमगाती सत्ता को बचाने में जुटी गठबंधन सरकार, बागी विधायकों को दिया मंत्री पद का प्रस्ताव

बीजेपी शहर ईकाई भी विवाद में कूदी
बीजेपी महिला मोर्चा की नगर अध्यक्ष मधुलिका राघव ने इस घटना पर बयान भी जारी कर दिया. इसके मुताबिक पीएम आवास, सौभाग्य योजना, उज्जवला गैस कनेक्शन सहित अन्य योजनाओं से लाभान्वित होने के कारण मुस्लिम महिलाएं पार्टी की सदस्यता ले रही हैं. गुलिस्तां भी ऐसी ही महिला है. बीजेपी ज्वाइन करने पर उसके घर वालों या परिजनों को कोई आपत्ति नहीं थी, सिर्फ मकान मालिक ने ही उद्दंडता दिखाई.

यह भी पढ़ेंः कंगाल पाकिस्तान पूरा तो चीन का बड़ा हिस्सा ब्रह्मोस की रेंज में, हुआ स्वदेशी मिसाइल का सफल परीक्षण

पुलिस के मुताबिक विवाद बिजली के बकाये बिल से शुरू हुआ
हालांकि पुलिस ने प्रारंभिक जांच के बाद मामला बिजली के बकाये बिल का बताया. अलीगढ़ के एसएसपी आकाश कुल्हारे के मुताबिक मकान मालिक की मां ने गुलिस्तां से बिजली के बिल के नाम पर 4 हजार रुपए की मांग की थी. इससे शुरू हुआ विवाद बाद में गुलिस्तां के बीजेपी ज्वाइन करने तक पहुंच गया. इस मसले पर दोनों पक्षों में तीखी नोकझोंक हो गई. फिर मामला पुलिस थाने तक जा पहुंचा, जहां गुलिस्तां की शिकायत के आधार पर संबंधित धाराओं में मामला दर्ज कर लिया गया है.

First Published : 08 Jul 2019, 08:42:38 AM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.